जान पर बन आई पैसे की किल्लत:आग से जले एक ही परिवार के 10 लोग, 6 PMCH में, 3 बेगूसराय में और 1 दरभंगा में भर्ती, इलाज के खर्चे से टूटी हिम्मत, अब आप ही कुछ कीजिए

पटना/समस्तीपुरएक वर्ष पहलेलेखक: प्रणय प्रियंवद
  • कॉपी लिंक
PMCH में इलाजरत समस्तीपुर के फुलहाड़ा अग्निकांड में जला बच्चा। - Dainik Bhaskar
PMCH में इलाजरत समस्तीपुर के फुलहाड़ा अग्निकांड में जला बच्चा।
  • समस्तीपुर, फुल्हाड़ा अग्निकांड में 25 फीसदी से ज्यादा जल चुके हैं लोग
  • आर्थिक तंगी से जूझ रहे परिवार ने लगाई है मदद की गुहार

घर का एक आदमी बीमार पड़ता है, तो पूरा परिवार परेशान हो जाता है। जरा सोचिए उस परिवार के ऊपर क्या बीतती होगी जिसके घर के 3 आदमी का बेगूसराय में इलाज चल रहा हो, एक का दरभंगा में और 6 लोग PMCH में भर्ती हों। समस्तीपुर, फुल्हाड़ा अग्निकांड का मारा ऐसा ही एक परिवार अब इलाज के खर्चे से टूट चुका है। शरीर का 25 प्रतिशत हिस्सा आग से झुलस चुका है। अब ये एक-दूसरे के चेहरे को देख डरते हैं। PMCH के बर्न वार्ड के कमरा नंबर 301 में लगभग सभी बेडों पर इसी अग्निकांड के मरीज भर्ती हैं। इस कमरे से बच्चे के रोने की आवाज गूंजती रहती है। बच्चे जलन की वजह से सो नहीं पा रहे। समस्तीपुर और बेगूसराय के लोगों ने कुछ आर्थिक मदद की थी, लेकिन सारे पैसे खर्च हो गए। ऐसे में इन्हें आपकी मदद की दरकार है।

आग में झुलसी रितु देवी बताती हैं कि बेगूसराय में दवा का खर्च बहुत आ गया। पैसे खत्म हो गए। समाज की मदद से इलाज हो रहा है। मेरी बेटी कोमल कुमारी नानी घर आई थी। वह भी बुरी तरह झुलस गई। मैंने उसे इलाज के लिए दरभंगा भेज दिया है, लेकिन यहां PMCH में परिवार के कई सदस्य जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं। रितु ने लोगों से आर्थिक मदद की गुहार लगाई है।

घटना ऐसी कि रोंगटे खड़े हो जाएं

PMCH में इलाजरत समस्तीपुर के फुलहाड़ा अग्निकांड में जले लोग।
PMCH में इलाजरत समस्तीपुर के फुलहाड़ा अग्निकांड में जले लोग।

घटना समस्तीपुर जिले के हसनपुर प्रखंड के फुल्हाड़ा गांव की है। 11 जनवरी को एक ही परिवार के 10 लोग 25 फीसदी से ज्यादा जल गए। घर की मुखिया उर्मिला देवी बताती हैं कि उन्हें पता ही नहीं चला कि गैस लीक कर रही है। लाइटर लगाते हुए आग धधक उठी। कूकिंग गैस ऐसे लीक हुई कि उसकी आग ने बरामदे के अंदर कमरे में बैठे लोगों तक को मिनट भर में अपनी चपेट में ले लिया। लोग कुछ समझ पाते कि चारों तरफ चीख-पुकार उठने लगीं। महिलाएं किसी तरह बच्चों को लेकर बाहर भागीं, फिर भी बच्चों और खुद को आग की लपटों से बचा नहीं सकीं।

घटना में जले लोगों का डिटेल

  • शशिधर मिश्र, उम्र 52 साल- पिता स्व. राजेन्द्र राम- अस्पताल, बेगूसराय
  • कल्याण कुमार झा, उम्र 35 साल - पिता स्व. हरिशंकर झा-अस्पताल, बेगूसराय
  • राकेश मिश्र, उम्र 37 साल- पिता गणेश मिश्र- अस्पताल, बेगूसराय
  • निशा कुमारी, उम्र 28 साल - पिता शशिधर मिश्र, पीएमसीएच, पटना
  • खुशबू कुमारी, उम्र 28 साल, पति मुन्ना चौधरी, पीएसीएच, पटना
  • आकाश कुमार, उम्र ढ़ाई साल-पिता चन्दन मिश्र, पीएमसीएच, पटना
  • ऋषभ कुमार, उम्र- ढ़ाई साल- पिता मुन्ना चौधरी, पीएमसीएच, पटना
  • परी कुमारी उम्र- छह साल- पिता मन्ना चौधरी, पीएमसीएच, पटना
  • कोमल कुमारी, उम्र 13 साल- पिता रविन्द्र झा, आशो गांव, जिला दरभंगा
  • उर्मिला देवी,55 साल- पति स्व. मिश्रा- पीएमसीएच में भर्ती है, इनकी स्थिति अभी ठीक है।

आपकी छोटी मदद इस गरीब परिवार के लिए वरदान हो सकती है। आप चाहें तो बैंक के इस एकाउंट नंबर पर मदद राशि भेज सकते हैं।

  • Account detail
  • Account no.-39166785253
  • IFSC-SBIN0005904
  • Account holder- Aman kumar mishra
  • फुलहाड़ा वार्ड- 5
  • Contact no. 7631457678
खबरें और भी हैं...