शीतकालीन सत्र का दूसरा दिन रहा हंगामेदार:विधानसभा परिसर में शराब की बोतल मिली तो तेजस्वी ने CM से मांगा इस्तीफा; नीतीश बोले- जांच कराएंगे

पटना10 महीने पहले
बिहार विधानमंडल के समक्ष दूसरे दिन की कार्यवाही शुरू होने से पहले गाली-गलौज करते RJD विधायक भाई बीरेंद्र और BJP विधायक संजय सरावगी।

बिहार विधानसभा के शीतकालीन सत्र का आज दूसरा दिन था। सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले ही गहमागहमी दिखी। परिसर में 'तुम' शब्द पर BJP और RJD के विधायकों ने आपस में गालीगलौज की। इसकी थोड़ी देर बाद परिसर में शराब की बोतल मिलने पर विपक्ष ने CM नीतीश कुमार को घेरा।

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री को दोषी करार देते हुए इस्तीफा देने की मांग की। इधर, शराब की खाली बोतल मिलने को लेकर मुख्यमंत्री ने जांच की बात सदन में कही। मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव और डीजीपी के साथ बैठक की। इसके बाद सदन की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित कर दी गई।

'तुम' पर भिड़ गए विधायक
आज सुबह करीब 10.45 बजे विधानसभा की कार्यवाही शुरू होने से पहले ही RJD के मनेर से विधायक भाई बीरेंद्र और BJP के दरभंगा से विधायक संजय सरावगी आपस में भिड़ गए। दोनों की ये शर्मनाक हरकत कैमरे में भी कैद हो गई।

बताया जाता है कि 'तुम' कहने पर विवाद इतना बढ़ गया कि बात गालीगलौज तक पहुंच गई। सरावगी भाई बीरेंद्र के साथ इंटरव्यू नहीं देना चाहते थे। संजय ने कहा कि इन लोगों के साथ हम नहीं खड़े होंगे। इसको भाई बीरेंद्र ने पहले नजर अंदाज किया, लेकिन संजय ने जब दोबारा कहा कि तुम लोगों के साथ नहीं खड़े होंगे। तब मामला बिगड़ गया। 'तुम' शब्द भाई बीरेंद्र को चुभ गई। इसके बाद दोनों तरफ से अपशब्द कहे जाने लगे।

शराबबंदी को लेकर पूरी तरह से सरकार फेल हुई: तेजस्वी
शराबबंदी को लेकर पूरी तरह से सरकार फेल हुई: तेजस्वी

तेजस्वी ने मांगा CM नीतीश का इस्तीफा
तेजस्वी यादव ने विधानसभा परिसर में शराब की खाली बोतल मिलने के मामले में CM नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि- CM नीतीश ने हाल ही में बड़ी समीक्षा बैठक की थी। आज लोकतंत्र की मंदिर के कैंपस में शराब की खाली बोतल मिल रही है। यह साबित करता है कि पूर्ण शराबबंदी राज्य में पूरी तरह से फेल है। शपथ नौटंकी है इनका। यह केवल नौटंकी है। सरकार जवाब नहीं देगी, कहेगी विपक्ष की साजिश है। मुख्यमंत्री के साथ शराब माफिया की तस्वीर सामने आई। हम लोग न बनावटी हैं, न मिलावटी हैं।

तेजस्वी ने कहा कि- बिहार को इन लोगों ने बर्बाद कर दिया। न रोजगार, न शिक्षा, न इलाज पूरी तरीके से बिहार को चौपट कर दिया है। इनके मंत्री शराब का सेवन करते हैं। विधानसभा परिसर में शराब की खाली बोतल मिल रही है। मुख्यमंत्री को इस्तीफा दे देना चाहिए। बिहार का होम मिनिस्टर कौन है? पूरी तरीके से नीतीश जी दोषी हैं।

नीतीश कुमार ने कहा- बर्दाश्त नहीं करेंगे
विधानसभा की पार्किंग में शराब की खाली बोतल मिलने के मामले में सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि जो भी गड़बड़ी कर रहा है उसे छोड़ा नहीं जा सकता है। विधान सभाध्यक्ष से जांच का आदेश देने का आग्रह भी किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि- इसकी पूरी गंभीरता से जांच होगी। जो भी दोषी होंगे उन पर कार्रवाई होगी। DGP और चीफ सेक्रेटरी से इसकी जांच करवाई जानी चाहिए।

विधानसभा परिसर में मिली शराब की बोतल के बाद मचा हंगामा।
विधानसभा परिसर में मिली शराब की बोतल के बाद मचा हंगामा।
कांग्रेस के विधायकों ने विधानसभा के बाहर बोर्ड लेकर जताया विरोध।
कांग्रेस के विधायकों ने विधानसभा के बाहर बोर्ड लेकर जताया विरोध।
सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले प्रदर्शन करते हुए RJD के विधायक।
सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले प्रदर्शन करते हुए RJD के विधायक।
सत्र की कार्यवाही शुरू होने से पहले विरोध-प्रदर्शन करते भाकपा-माले विधायक।
सत्र की कार्यवाही शुरू होने से पहले विरोध-प्रदर्शन करते भाकपा-माले विधायक।

विधान सभा से अपडेट्स

  • विधानसभा की कार्यवाही शुरू होने से पहले विपक्षी पार्टियों ने बैनर लेकर विधानमंडल के समक्ष प्रदर्शन किया। कांग्रेस जहां बिहार में विकास के मुद्दे को लेकर विरोध कर रही थी। वहीं, RJD ने अपराध के मुद्दे पर नीतीश सरकार के खिलाफ नारा लगाया। जबकि, भाकपा-माले के विधायकों ने रोसड़ा में पुलिस कस्टडी में सफाईकर्मी की मौत मामले में EO और SP पर कार्रवाई की मांग करते नजर आए।
  • भाई बीरेंद्र ने सदन में कहा कि अध्यक्ष जी आप अपने पद का दुरुपयोग कर रहे है। जिस पर विधानसभा अध्यक्ष ने अप्पति जताते हुए कहा कि आप सदन की मर्यादा मत लांघिए। पद का दुरुपयोग का इलजाम आप आसन पर नहीं लगा सकते।
  • BJP विधायक ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू ने कहा कि भाई बीरेंद्र की सदस्यता जा सकती है। इस पर महबूब आलम ने कहा कि अध्यक्ष जी कौन सा सजा सत्ता धारी दिला देगा, किसकी सदस्यता चली जाएगी यह पहले बता दें।
  • भाई बीरेंद्र एक बार फिर से खड़े होकर अपनी बात रखने लगे कि कैसे सदस्यता चली जाएगी जनता ने चुन के भेजा है।
  • विधानसभा की कार्यवाही एक घंटे के लिए स्थगित की गई है। लंच ब्रेक दिया गया है। 2:00 बजे तक कार्यवाही दोबारा शुरू होगी।
  • सीएम नीतीश कुमार ने डीजीपी एसके सिंघल को शराब की खाली बोतल मिलने के बाद विधानसभा में तलब किया
  • मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण और डीजीपी सिंघल विधानसभा पहुंचे। शराब की खाली बोतल मिलने को लेकर मुख्यमंत्री ने जांच की बात सदन में कही थी। उसी को लेकर दोनों अधिकारी विधानसभा पहुंचे। मुख्य सचिव और डीजीपी मुख्यमंत्री के साथ बैठक की।
  • बिहार विधान सभा के करवाई कल से कल कल तक 11:00 बजे तक के लिए स्थगित।

विधान परिषद से अपडेट्स

  • पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी विधान परिषद पहुंची
  • कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रेमचंद्र मिश्रा ने कार्य स्थगन प्रस्ताव लाते हुए बिहार के विभिन्न विश्वविद्यालयों में कुलपतियों द्वारा हो रहे भ्रष्टाचार पर चर्चा की मांग की।
  • बिहार विधान परिषद में पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी आई तो सरकार का विरोध करना शुरू कर दिया। इसी दरम्यान विधान परिषद के सुरक्षाकर्मियों और मीडिया कर्मियों के बीच हाथापाई हो गई और मीडिया कर्मियों ने विरोध में धरना दे दिया।
  • बिहार विधान परिषद में कार्य स्थगन नामंजूर किया सभापति ने। कहा कि चर्चा से जांच प्रभावित होगी।
  • स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि बिहार में ओमिक्रॉन वैरिएंट का एक भी मरीज नहीं है।
  • बिहार विधान परिषद में कांग्रेस के पार्षद प्रेमचंद्र मिश्रा ने पूछा कि राज्य के लोगों के लिए कोरोना टीका का बूस्टर डोज की व्यवस्था की गई है क्या?
  • जवाब में मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि राज्य में कोविड-19 टीकाकरण पूर्णत: स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा निर्गत दिशा निर्देश के आलोक में संचालित किया जा रहा है
  • वर्तमान में कोरोना वायरस टटोल लगाए जाने संबंधित किसी प्रकार का निर्देश स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा नहीं दिया गया है
  • भारत सरकार द्वारा 18 वर्ष एवं इससे अधिक आयु वर्ग के लिए ही कोरोना वायरस दिए जाने संबंधी निर्देश दिए गए हैं
  • उक्त परिस्थिति में 18 वर्ष से कम आयु वर्ग के बच्चों के लिए कोरोना टीकाकरण संचालित नहीं है।
  • स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि कुल लक्षित आबादी के 91% को कोरोना टीका की प्रथम डोज दी जा चुकी है। उन्होंने कहा कि द्वितीय डोज के पात्र लाभार्थियों का 79. 24% लोगों को आच्छादित किया गया है।
  • बिहार विधान परिषद में बिहार राज्य विधिक सेवा प्राधिकार पटना के वित्तीय वर्ष 2016-17 2017-18 और 2018-19 के वार्षिक लेखा प्रतिवेदन की प्रति सदन के पटल पर रखी गई।
  • बिहार विधान परिषद में बिहार राज्य भंडार निगम के वित्तीय वर्ष 2011-12 के वार्षिक प्रतिवेदन की प्रति सदन के पटल पर रखी गई।
  • शाहनवाज हुसैन ने पार्षद सर्वेश कुमार के सवाल के जवाब में कहा कि सरकार द्वारा ई-20 रोड मैप लागू करने से इथेनॉल की मांग में काफी वृद्धि हुई है। इसी आलोक में राज्य सरकार द्वारा एथेनॉल उत्पादन प्रोत्साहन नीति 2021 लागू है। उन्होंने कहा कि 17 कंपनी बिहार आ चुकी है। 3-4 प्लांट में मार्च के बाद प्रोडक्शन भी शुरू हो जाएगा। इससे किसानों की आमदनी बढ़ेगी। किसानों को MSP भी मिलेगा। सरकार इथेनॉल के बाय प्रोडक्शन के प्रमोशन के लिए भी पॉलिसी बनाएगी। बिहार में 35 करोड़ लीटर एथेनॉल उत्पादन आंकलित है।
  • पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने कहा कि बिहार में बाहर के कई राज्यों से शराब आ रही है। सबसे पहले अफसरों के यहां चेकिंग होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि शराब मिलने के मामले में मंत्री को इस्तीफा देना चाहिए।
  • उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने संजय पासवान के सवाल के जवाब में कहा कि युवा उद्यमी योजना के तहत सबसे अधिक आवेदन आए हैं। सरकार युवा उद्यमी योजना के तहत 17820 युवाओं को ऋण देती है। पहले यह तीन किस में दिया जाता था अब दो किस्त में दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव संपन्न होते ही पारदर्शिता के साथ लॉटरी करके ऋण दिए जाएंगे ट्रांसजेंडर को भी इस बार मौका मिलेगा।
  • राम ईश्वर महतो ने कहा कि जनशताब्दी एक्सप्रेस को पटना से सीतामढ़ी भाया मुजफ्फरपुर होते हुए चलाने के लिए केंद्र सरकार से सिफारिश की जाए। इस पर परिवहन मंत्री शीला मंडल ने कहा कि यह मामला भारत सरकार से जुड़ा हुआ है। उन्होंने रेलवे महाप्रबंधक हाजीपुर से इसके लिए अनुरोध किया है।
  • प्रोफेसर संजय कुमार सिंह ने कहा कि सीतामढ़ी के मान्यता प्राप्त 609 कोटि के 64 मदरसों के शिक्षक एवं कर्मियों का वेतन 27 महीने से बंद है। इसका भुगतान जल्द कराया जाए।
  • जवाब में मंत्री अशोक चौधरी ने कहा कि उच्च न्यायालय में दायर याचिकाओं के आदेश में 88 मदरसे की जांच के लिए कहा गया। इसी क्रम में वेतन रोका गया। निर्धारित शर्तों को मदरसे पूरा नहीं कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अनुदानित 609 मदरसे की जांच जिला स्तर पर की जा रही है रिपोर्ट आने पर आगे की कार्यवाही की जाएगी।
  • पार्षद डॉ संजीव सिंह ने कहा कि अध्यादेश 1980 और अधिनियम 1992 के अंतर्गत स्थापित और संचालित इंटर स्तरीय उमा विद्यालय माध्यमिक विद्यालय उत्तर बिहार विद्यालय परीक्षा समिति संबद्धता नियमावली 2011 को गुजरात के प्रभाव से लागू करने संबंधी विभागीय संकल्प को निरस्त कर उन संस्थानों को पूर्ण संबद्धता प्रदान की जाए और पिछले 6 सत्रों का लंबित वेतन अनुदान शीघ्र जारी किया जाए। जवाब में प्रभारी मंत्री अशोक चौधरी ने कहा कि इस पर सरकार विचार करेगी।
  • पार्षद नीरज कुमार ने कहा कि छात्र छात्राओं के उज्जवल भविष्य और देश हित के लिए शैक्षणिक सुदृढ़ीकरण हेतु राज्य सरकार द्वारा नशा मुक्ति का व्यक्ति के ऊपर सामाजिक मानसिक प्रभाव संबंधित विषय स्कूल के पाठ्यक्रम में शामिल किया जाए।
  • जवाब में प्रभारी मंत्री अशोक चौधरी ने कहा कि शराबबंदी को लेकर स्कूलों में दीवार पर स्लोगन लिखवाया जा रहा है। वाद-विवाद, प्रतियोगिताएं हो रही हैं। सरकार एनसीईआरटी को निर्देश देगी कि उसे पाठ्यक्रम में शामिल किया जाए।
  • कांग्रेस के विधान पार्षद प्रेमचंद्र मिश्रा ने विधान परिषद में दरभंगा को दूसरी राजधानी बनाने की मांग की।
  • विधान परिषद की कार्रवाई कल दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित।
भ्रष्ट कुलपतियों को हटाने की मांग करते कांग्रेस विधायक प्रेमचंद्र मिश्रा।
भ्रष्ट कुलपतियों को हटाने की मांग करते कांग्रेस विधायक प्रेमचंद्र मिश्रा।

बिहार के विभिन्न विश्वविद्यालयों में उत्तर प्रदेश से ही कुलपति क्यों लाए जा रहे हैं?
बिहार विधान परिषद में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रेमचंद्र मिश्रा ने कार्य स्थगन प्रस्ताव लाते हुए बिहार के विभिन्न विश्वविद्यालयों में कुलपतियों द्वारा हो रहे भ्रष्टाचार पर चर्चा की मांग की। कहा कि क्या वजह है कि बिहार के विश्वविद्यालयों में उत्तर प्रदेश के कुलपति ही लाए जा रहे हैं? उन्होंने कहा कि बिहार के शिक्षाविदों को कुलपति क्यों नहीं बना रही है सरकार।

उन्होंने ने कहा कि बिहार के विभिन्न विश्वविद्यालयों में बड़े पैमाने पर वित्तीय गड़बड़िया हो रही हैं। इससे बिहार की उच्च शिक्षा बुरी तरह प्रभावित हो रही है। इसलिए इस विषय पर सदन में चर्चा जरूरी है।

IGIMS में दूर से आने वाले मरीजों को हो रही है समस्या : संजीव सिंह
बिहार विधान परिषद में पार्षद संजीव श्याम सिंह ने सवाल पूछा कि राज्य के सबसे बड़े अस्पताल इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान पटना में कई किलोमीटर दूर से सफर तय कराने वाले मरीजों को भी जरूरत के अनुसार अल्ट्रासाउंड कराने की तारीख नहीं मिल पा रही है। अगर कोई मरीज पेट में दर्द की शिकायत लेकर यहां आता है तो उसे अल्ट्रासाउंड कराने की जरूरत पड़ती है। अगली तिथि 2 से 3 महीने बाद की दी जाती है।

इसके कारण मरीजों को मजबूरी में बाहर अल्ट्रा साउंड कराना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि यहां ऐक्सरे और एम आर आई जांच में भी और सबसे ज्यादा परेशानी गर्भवती महिलाओं एवं पेट रोग से संबंधित मरीजों को हो रही है। गर्भवती महिलाएं जिन को तुरंत अल्ट्रासाउंड की जरूरत होती है उनको भी रेडियोलॉजी विभाग में वेटिंग तिथि दे दी जा रही है। साथ ही अल्ट्रासाउंड कराने के बाद भी मरीजों को रिपोर्ट लेने के लिए 12 से 15 दिनों के बाद बुलाया जा रहा है?

स्वास्थ्य मंत्री बोले- मामले की जांच करवाएंगे
सवाल के जवाब में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि एक्स-रे में कोई भी वेटिंग पीरियड नहीं है। फिल्म भी आधे से 1 घंटे के अंदर दे दी जाती है गर्भवती महिलाओं के लिए इस्त्री विभाग और रेडियोलॉजी विभाग दोनों जगह अल्ट्रासाउंड कराने की सुविधा है। इसलिए कोई वेटिंग पीरियड यह भी नहीं है रिपोर्ट भी उसी दिन दे दी जाती है। MRI में भी वेटिंग पीरियड नहीं है।

सीटी स्कैन की दो मशीनें चालू हैं और कोई वेटिंग पीरियड नहीं है। सवाल के जवाब में पार्षद गुलाम गौस और नीरज कुमार ने पूरक सवाल पूछे। मंत्री मंगल पांडेय को कहना पड़ा कि इस मामले की जांच करवाऊंगा।

खबरें और भी हैं...