पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

इद्दत का रस्म निभा रहीं हिना शहाब:RJD के नेता वापस लौटे, शहाबुद्दीन की मौत के साढ़े तीन महीने तक किसी पुरुष से नहीं मिलना चाहतीं उनकी पत्नी

पटना3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्व सांसद शहाबुद्दीन की पत्नी हिना शहाब। - Dainik Bhaskar
पूर्व सांसद शहाबुद्दीन की पत्नी हिना शहाब।

पूर्व सांसद शहाबुद्दीन की पत्नी शहाबुद्दीन की मौत से सकते में है। समर्थकों में हताशा है। हिना शहाब से मिलने RJD के कई नेता गए, पर उन्होंने किसी से भी मिलने से इंकार कर दिया। वह साढ़े तीन महीने तक किसी भी पुरुष से नहीं मिलेंगी। इसे RJD के प्रति गुस्से से जोड़ कर देखा जा रहा है, लेकिन सच यह है कि हिना शहाब इस्लाम धर्म की रस्म को निभा रही हैं।

गैर मर्द को चेहरा नहीं दिखाएंगी
इस्लाम में मान्यता के अनुसार इद्दत एक रस्म होता है, जिसमें पत्नी, पति के निधन के बाद साढ़े तीन माह तक किसी पराए पुरुष से नहीं मिलती है। घर की चौखट के अंदर ही पत्नी को 3 महीने 10 दिन गुजारने पड़ते हैं। इस समय हिदायत रहती है कि वह किसी गैर मर्द को अपना चेहरा तक नहीं दिखाए।

इद्दत परंपरा के मायने
इस परंपरा के पीछे का मकसद यह होता है कि पति से तलाक या पति के निधन के ठीक पहले औरत अगर गर्भवती हुई हो तो तीन महीने के बाद लोगों को उनके गर्भवती होने का पता चलने लगेगा। इन तीन महीनों के अंदर वह किसी गैर मर्द से मिली भी नहीं होती तो इससे लोग उसके चरित्र का मूल्यांकन कर सकते हैं। इद्दत परंपरा के पूरा होने के बाद औरत की इच्छा पर है कि वह दूसरी शादी करे या कि नहीं करे। वह चाहे तो शादी कर सकती है।

वरिष्ठ नेता अवध बिहारी चौधरी से भी नहीं मिलीं
शहाबुद्दीन के निधन के बाद उनका पूरा परिवार सीवान के प्रतापपुर लौट आया है। प्रतापपुर आने के बाद हिना शहाब से मिलने RJD के कई नेताओं के साथ ही पार्टी के वरिष्ठ नेता और विधायक अवध बिहारी चौधरी भी पहुंचे थे, लेकिन हिना शहाब ने मिलने से इंकार कर दिया। अवध बिहारी चौधरी ने बताया कि हिना शहाब इद्दत परंपरा के तहत अभी किसी से नहीं मिलेंगी।

खबरें और भी हैं...