पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Shortage Of Remdesivir Injection In Patna, Hospitals Are Demanding 5000 Doses Every Day, Getting Only 1600

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

5000 की डिमांड, 1600 की डिलीवरी:शुक्रवार को रेमडेसिविर की 600 डोज आई, 3 दिन बाद सोमवार को 1600 की खुराक, हर दिन 25 सौ से अधिक मरीजों के लिए मांग रहे डॉक्टर

पटना22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना संक्रमितों की संख्या के साथ ही रेमडेसिविर इंजेक्शन की डिमांड भी तेजी से बढ़ती जा रही है। हर दिन प्रदेश के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती मरीजों के लिए 25 सौ डोज की डिमांड आ रही है लेकिन आपूर्ति 50 प्रतिशत भी नहीं हो पा रही है। इंजेक्शन की कमी से कालाबाजारी का एक बड़ा बाजार भी तैयार हो गया है। हॉस्पिटल ही मरीजों से 25 से 30 हजार लेकर इंजेक्शन दे रहे हैं। दैनिक भास्कर ने जब पड़ताल की और इंजेक्शन की कालाबाजारी के पीछे की वजह जानने की कोशिश की तो चौंकाने वाला सच सामने आया।

हर दिन 25 सौ की डिमांड, 3 दिन बाद हो रही डिलीवरी

कोविड मरीजों के इलाज में लगे डॉक्टरों से बातचीत में यह जानकारी सामने आई है कि रेमडेसिविर इंजेक्शन प्रतिदिन नहीं आ रहे हैं। इस कारण से एक बड़ा बैकलॉग तैयार हो रहा है। हर सीरियस मरीज के परिजनों से डॉक्टर रेमडेसिविर इंजेक्शन की डिमांड कर रहे हैं। विभाग हॉस्पिटल से डिमांड कराने की बात कर रहा है और हॉस्पिटल मरीज के परिजनों को ब्लैक मार्केट का रास्ता दिखा रहे हैं। सिस्टम के जाल में फंसा मरीज समझ ही नहीं पा रहा है कि क्या करे। ऐसे में वह हॉस्पिटल पर निर्भर हो जा रहा है जिसके बाद 25 से 30 हजार में इंजेक्शन खरीद रहा है। भास्कर के पास ऐसे कई मामले सबूत के तौर पर हैं जिनमें हॉस्पिटल ने एक इंजेक्शन का 25 से 30 हजार वसूला है लेकिन इलाज जारी होने के कारण अभी नाम का खुलासा मरीज की सुरक्षा के कारण नहीं कर रहा है।

डिमांड और डिलीवरी के बीच 3 दिन के गैप में बैकलॉग

औषधि विभाग के मुताबिक शुक्रवार को पटना में 600 रेमडेसिविर इंजेक्शन आए थे। शनिवार और रविवार को लगातार डिमांड आती रही लेकिन सरकार को रेमडेसिविर नहीं मिल पाए। दो दिनों में विभाग के पास प्रदेश से लगभग 5000 डोज की डिमांड आ गई। विभाग में पैरवी से लेकर हर तरह से दबाव बनाया जाने लगा लेकिन किसी को भी एक डोज नहीं मिल पाई। ऐसे आर्थिक रूप से मजबूत लोगों का काम तो चल गया लेकिन कमजोर लाेगों की जेब पर प्राइवेट हॉस्पिटल ने बड़ा बोझ डाल दिया। सोमवार की देर शाम पटना में 1600 इंजेक्शन की खेप आई थी। लेकिन यह डिमांड से काफी कम है। औषधि विभाग का कहना है कि जहां जिस हॉस्पिटल से जो डिमांड आई थी उसे डिलीवर कर दिया गया है। कुछ हॉस्पिटल का बकाया है तो डोज आने पर दिया जाएगा। 1600 में 1200 हेटेरो और 400 सिप्ला का है। अब डिमांड और बैकलॉग अलग से बढ़ रहा है। हर दिन डिमांड बढ़ रही है। डॉक्टरों की मानें तो प्रदेश में एक दिन में 2500 की डिमांड है। पटना में मात्र तीन होलसेलर हैं। केसर वैक्सीन, न्यू पूरन एजेंसी और किंग इंटरप्राइजेज भी परेशान हैं। इंजेक्शन नहीं आ पा रहे हैं और मार्केट से लेकर विभाग का बड़ा दबाव है। कई कंपनियां तो इंजेक्शन भेज ही नहीं रही हैं। विभाग का कहना है कि उम्मीद थी कि सोमवार को 2000 इंजेक्शन आएंगे लेकिन मात्र 1600 आए।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत होगा। जिससे आपकी विचार शैली में नयापन आएगा। दूसरों की मदद करने से आत्मिक खुशी महसूस होगी। तथा व्यक्तिगत कार्य भी शांतिपूर्ण तरीके से सुलझते जाएंगे। नेगेट...

और पढ़ें