• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Students Started Ruckus After ITI Exam Got Cancelled Patna Muzaffarpur Highway Jammed For Two Hours

ITI की एग्जाम कैंसिल होने पर परीक्षार्थियों ने किया बवाल:दो घंटे तक पटना-मुजफ्फरपुर हाईवे रहा जाम, करनी पड़ी लाठीचार्ज; छात्र बोले-एंट्री के बाद सिग्नेचर भी कर चुके थे, बिना कोई ठोस कारण बताए किया एग्जाम कैंसिल

मुजफ्फरपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मुजफ्फरपुर में एग्जाम कैंसिल होने पर बवाल करते छात्र। - Dainik Bhaskar
मुजफ्फरपुर में एग्जाम कैंसिल होने पर बवाल करते छात्र।

ITI की परीक्षा कैंसिल होने पर मुजफ्फरपुर में परीक्षार्थी उग्र हो गए। उन्होंने मुजफ्फरपुर-पटना हाईवे जाम कर दिया। लगभग दो घंटे तक हाईवे जाम रहा। हजारों की तादाद में परीक्षार्थी सड़क पर उतर गए। इसके बाद जमकर हंगामा व प्रदर्शन करने लगे। हंगामा की सूचना पर सदर थाने की पुलिस मौके पर पहुंची। उन्होंने हंगामा कर रहे छात्रों को किसी तरह समझाने का प्रयास किया। लेकिन, छात्र उग्र हो चुके थे।

लाठी चार्ज के बाद ही हटी भीड़

इस पर थानेदार सत्येंद्र कुमार मिश्र थानेदार अतिरिक्त बल के साथ मौके पर पहुंचे। काफी देर तक छात्रों को मनाया गया। ताकि, सड़क जाम हटाया जा सके। लेकिन, करीब 2 घंटे तक छात्रों ने सड़क जाम रखा। इसको लेकर पुलिस को बल का प्रयोग करना पड़ा। कई छात्रों पर लाठियां चटकानी पड़ी। उसके बाद ही छात्रों की भीड़ तीतर-बितर हुई।

नहीं मिला था कोई संतोषजनक जवाब

बताया गया कि बुधवार को ITI की परीक्षा थी। छात्र एडमिट कार्ड लेकर अपने- अपने सेंटरों तक पहुंचे। लेकिन, अचानक से उन्हें बताया गया कि एग्जाम कैंसिल कर दिया गया है। एग्जाम कैंसिल करने का कारण पूछने पर छात्रों को कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिल सका। इसपर छात्र उग्र हो गए। इसके बाद छात्रों में सड़क जाम कर दिया। इस दौरान हाइवे के दोनों गाड़ियों की लंबी कतारें लग गईं। जिससे यात्रियों को काफी परेशानी झेलनी पड़ी।

एडमिट कार्ड चेक करके दी गई थी एंट्री

इधर, मुजफ्फरपुर के छात्र शिवम ने बताया कि एग्जाम सेन्टर में पहुंचने के बाद सिग्नेचर करवाया गया। फिर, एडमिट कार्ड भी चेक किया गया। इसके बाद सेन्टर के भीतर बैठाया गया। लेकिन, बैठाने के बाद अचानक से बताया गया कि एग्जाम कैंसिल कर दिया गया है। कारण पूछने पर कोई ठोस बात नहीं बताई गई।

300 किमी दूर से परीक्षा देने पहुंचे थे परीक्षार्थी

इधर, पूर्णिया से पहुंचे छात्र गौरी यादव ने कहा कि करीब 300 किमी दूर से वह परीक्षा देने के लिए पहुंचे थे। उनके अलावा, और भी कई छात्र दूसरे जिले से पहुंचे थे। लेकिन, सेंटर पर पहुंचने के बाद अचानक से एग्जाम कैंसिल कर दिया गया। जिससे छात्र आक्रोशित हो गए। छात्रों का आरोप है कि सेंटर से पूर्व एग्जाम कैंसिल होने की जानकारी प्रशासन को देनी चाहिए थी। लेकिन, ऐसा नहीं किया गया।

खबरें और भी हैं...