• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Sushil Modi spoke to Chief Ministers of other states, urged to take care of laborers of Bihar

कोरोना को हराना है / सुशील मोदी ने दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्रियों से की बात, बिहार के मजदूरों का ध्यान रखने का किया आग्रह

सुशील मोदी, फाइल फोटो। सुशील मोदी, फाइल फोटो।
X
सुशील मोदी, फाइल फोटो।सुशील मोदी, फाइल फोटो।

  • मोदी के अनुसार सबने बिहारी मजदूरों के रहने-खाने की पूरी व्यवस्था करने का भरोसा दिया
  • इसके वास्ते सभी राज्य अपने-अपने यहां एक-एक नोडल अधिकारी नियुक्त करेंगे

दैनिक भास्कर

Mar 27, 2020, 03:09 AM IST

पटना. उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने दूसरे राज्यों में रह रहे बिहारी मजदूरों को लॉकडाउन के दौरान रहने-खाने की समुचित व्यवस्था के लिए कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात की। उन्होंने उत्तरप्रदेश, गुजरात, उत्तराखंड, हरियाणा के मुख्यमंत्री, पंजाब के वित्त मंत्री तथा तेलंगाना व महाराष्ट्र के मुख्य सचिवों से कहा कि बिहारी मजदूरों का पूरा ध्यान रखा जाए। मोदी के अनुसार सबने बिहारी मजदूरों के रहने-खाने की पूरी व्यवस्था करने का भरोसा दिया।

इसके वास्ते सभी राज्य अपने-अपने यहां एक-एक नोडल अधिकारी नियुक्त करेंगे। ये सभी बिहार में दिल्ली के स्थानिक आयुक्त बिपीन कुमार से समन्वय स्थापित कर पूरी व्यवस्था करेंगे। इससे पहले उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के कठिन दिनों में गरीबों की मदद करना समाजवाद है, लेकिन कांग्रेस इसमें भी पूंजीवाद सूंघ रही है। जो लोग जेल के भीतर से या बिहार के बाहर से ट्वीट कर रहे हैं, उन्हें गरीबों के साथ खड़ी सरकार के काम दिखाई नहीं पड़ते।

स्वास्थ्य विभाग ने बनाई विशेष टीम
 कोरोना वायरस के संक्रमण का देखते हुए स्वास्थ्य विभाग में विशेष टीम बनाई गई है, जो दवा आपूर्ति से लेकर किट व लाजिस्टिक का ध्यान रखेगी। इसके अलावा यह टीम ‘कम्युनिटी इंफेक्शन’ के हर पहलू पर भी नजर रखेगी। -संजय कुमार, प्रधान सचिव (स्वास्थ्य विभाग, बिहार)


पूर्वी चंपारण में विदेश से आए सबसे अधिक लोग
पूर्वी चंपारण की सबसे अधिक 653 लोग इस माह विभिन्न देशों से आए हैं। दरभंगा में 548 लोग, छपरा में 478 लोग, मुजफ्फरपुर में 255 लोग और सीवान में 257 लोग मार्च में विदेशों से लौटे हैं। इसके अलावा विशेष ट्रेनों से पिछले कुछ दिनों में दूसरे प्रदेशों से 58000 लोग बिहार वापस लौटे हैं। इधर, मुख्य सचिव ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने और लॉकडाउन की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी सरकार ने जिलों के प्रभारी सचिव को सौंप दी है। उन्हें अपने जिले के डीएम और अन्य अधिकारियों के संपर्क में रहने के लिए कहा गया है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना