तेजप्रताप ने छात्र जनशक्ति परिषद् का झारखंड अध्यक्ष नियुक्त किया:संजय टाइगर को बनाया झारखंड का प्रदेश अध्यक्ष, उत्तर प्रदेश में भी होगा विस्तार

पटना9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तेजप्रताप यादव ने तय किया है कि बिहार के बाद वे परिषद् का विस्तार झारखंड में भी करेंगे। - Dainik Bhaskar
तेजप्रताप यादव ने तय किया है कि बिहार के बाद वे परिषद् का विस्तार झारखंड में भी करेंगे।

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने झारखंड में राजद का विस्तार के लिए वहां दो दिवसीय दौरा किया और वैसे तमाम पुराने लोगों को एकजुट करने का टास्क दिया, जो राजद छोड़कर दूसरी जगह चले गए थे। जिन स्थानों पर राजद कभी मजबूत हुआ करता था, वहां राजद को फिर से मजबूत करने पर जोर दिया। अब तेजस्वी यादव के बड़े भाई तेजप्रताप यादव अपने छात्र जनशक्ति परिषद् का गठन कर एक्टिव हैं।

तेजप्रताप यादव ने तय किया है कि बिहार के बाद वे परिषद् का विस्तार झारखंड में भी करेंगे। तेज ने झारखंड में छात्र जनशक्ति परिषद् का अध्यक्ष नियुक्त किया है। उन्होंने संजय टाइगर को झारखंड का प्रदेश अध्यक्ष बनाया है। तेजप्रताप कहते रहे हैं कि छात्र जनशक्ति परिषद्, राजद के लिए बैक बोन का काम करेगा।

बुद्धिजीवी लोगों को परिषद से जोड़ने पर जोर
तेजप्रताप यादव ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि तन-मन के साथ सामाजिक न्याय की विचारधारा, लालू प्रसाद, कर्पूरी ठाकुर, जयप्रकाश नारायण, भीम राव अंबेडकर, राम मनोहर लोहिया की विचारधारा को ये आगे बढ़ाएंगे। छात्र जनशक्ति परिषद् के गठन के समय बहुत सारे छात्र के साथ ही सीनियर लोग भी आए। यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर, लॉ ग्रेजुएट जुड़े। कहा कि संजय टाइगर से उम्मीद है कि झांरखंड में बुद्धिजीवी लोगों को भी वे संगठन से जोड़ेंगे।

झारखंड के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा दबे-कुचले लोगों को आगे बढ़ाएंगे

संजय टाइटगर ने कहा कि आज देश त्राहिमाम कर रहा है। कर्पूरी ठाकुर, लोहिया, सुभाष चंद्र बोस ने देश भर में संघर्ष कर समाजवाद का विस्तार किया। लेकिन देश संकट से गुजर रहा है। छात्र जनशक्ति परिषद् समाज के दबे-कुचले लोगों को आगे बढ़ाएगा और समाज को नई दिशा देगा। झारखंड में नई जिम्मेदारी दी गई है।

उत्तर प्रदेश में भी परिषद् का होगा विस्तार

तेजप्रताप यादव से मिलने उत्तरप्रदेश से भी कई राजनीतिक कार्यकर्ता पहुंचे और वहां भी छात्र जनशक्ति परिषद् के विस्तार की मांग की। तेजप्रताप ने सभी को आश्वासन भी दिया है कि जल्द ही उत्तर प्रदेश में भी परिषद का विस्तार किया जाएगा। छात्र जनशक्ति परिषद्, बिहार के प्रदेश अध्यक्ष प्रशांत प्रताप यादव ने बताया कि 26 सितंबर को अनुमंडल प्रभारियों की सूची जारी की जाएगी और साथ ही विश्वविद्यालय के अध्यक्षों की सूची भी परिषद् जारी करेगा।

खबरें और भी हैं...