• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Tej Pratap Yadav Said He Has No Interest Left In RJD After Father Lalu Prasad Yadav Went To Rabri House

लालू के आते तेज प्रताप की बगावत:घर नहीं गए पिता तो कहा- मुझे अब RJD से मतलब नहीं, बहुत जल्द बड़ा स्टैंड लूंगा

पटना7 महीने पहले
पिता लालू को रिसीव करने पटना एयरपोर्ट पहुंचे तेज प्रताप।

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव रविवार को तीन साल बाद पटना आए हैं। उन्हें पटना एयरपोर्ट पर लेने के लिए उनके बड़े बेटे तेज प्रताप यादव भी पहुंचे थे। लालू प्रसाद के राबड़ी आवास पहुंचने के साथ ही तेज प्रताप यादव ने बहुत बड़ी बात कह दी है। तेज प्रताप यादव ने एक न्यूज चैनल पर कहा है कि उन्हें राबड़ी आवास जाने से रोक दिया गया। वो पिता लालू प्रसाद को अपने आवास पर भी ले जाना चाहते थे, लेकिन उन्हें नहीं जाने दिया गया।

तेज प्रताप ने यहां तक कह दिया है कि राजद में कुछ लफंगे भर गए हैं, जो उन्हें पार्टी में पीछे कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब जब तक जगदानंद सिंह जैसे लोग पार्टी में हैं, मेरा राजद से कोई वास्ता नहीं है। मैं जल्द ही बड़ा फैसला लेने जा रहा हूं।

लालू तीन साल बाद पटना आए, राबड़ी आवास पहुंचे

'मेरी मेहनत पर फेरा पानी, युवा होंगे नाराज'

तेज प्रताप यादव ने कहा कि पिता लालू प्रसाद के स्वागत के लिए उन्होंने बिहार भर से अपनी छात्र जनशक्ति परिषद् के युवा कार्यकर्ताओं को बुलाया था। उन्होंने पटना एयरपोर्ट पर लालू जी का जोरदार स्वागत भी किया। लेकिन फिर हमको धक्का देकर पिताजी को हमसे दूर कर दिया गया। ऐसे में बिहार भर के हमारे युवा कार्यकर्ता पार्टी से नाराज हो जाएंगे। यह पार्टी के लिए काफी बुरा होगा।

सुनील, संजय, जगदानंद का लिया नाम

तेज प्रताप यादव ने तीन लोगों का नाम लिया। इन्हें ही उनकी पार्टी से दूरी का जिम्मेदार बताया। तेज प्रताप यादव ने कहा कि एयरपोर्ट पर जगदानंद सिंह, सुनील सिंह और संजय यादव जैसे लोग मौजूद थे। इन सभी की वजह से मुझे पार्टी में दूर किया जा रहा है। राजद में संघी मानसिकता के लोग आ गए हैं। ये लोग मिलकर पार्टी को अंदर ही अंदर खत्म कर रहे हैं। मुझे अब इस पार्टी से कोई मतलब नहीं है। मुझे बस अपने पिताजी से मतलब है।

तेज प्रताप के सरकारी आवास पर सजावट।
तेज प्रताप के सरकारी आवास पर सजावट।

तेज प्रताप यादव ने घर पर लगाया वेलकम बोर्ड

तेज प्रताप यादव ने आज अपने सरकारी आवास पर पिता के स्वागत के लिए सजावट कराई थी। उन्होंने दरवाजे पर Welcome My Father' लिखवाया। खुद पटना एयरपोर्ट भी पहुंचे। इससे पहले उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा, 'गीदड़ों से कह दो कि आज जरा घर से बाहर ना निकलें, क्योंकि शेर आज वापस आ रहा है। बिहार की जनता की आवाज, जिसे बंद करने का प्रयास किया गया। लेकिन सत्य प्रताड़ित किया जा सकता है, पराजित नहीं। वंदे मातरम्।'