पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Tejashwi Yadav | Tejashwi Yadav Letter To Bihar Vidhan Sabha Speaker Over Police Thrashes Rjd Mlas Inside State Assembly

तेजस्वी ने विधानसभा अध्यक्ष को लिखा पत्र:नेता विपक्ष बोले- 23 मार्च की घटना से विधायक इतने भयभीत हैं कि मानसून सत्र में जाने से डर रहे हैं, बजट सत्र की घटना पर क्या कार्रवाई हुई?

पटना13 दिन पहले
तेजस्वी यादव, नेता प्रतिपक्ष।

बिहार विधानसभा का सत्र 26 जुलाई से शुरू होगा। इसकी तैयारियां चल रही है। वहीं, बुधवार को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने विधानसभा अध्यक्ष को पत्र लिखा है। पत्र में पिछले सत्र में हुई घटनाओं पर की गई कार्रवाई से अवगत कराने की मांग की है। साथ ही सुरक्षा के लिए गाइडलाइन जारी करने की बात कही है। ताकि लोगों के अंदर बैठा डर खत्म हो सके।

तेजस्वी यादव ने पत्र में कहा है कि 23 मार्च 21 की घटना से विधायक इतने भयभीत हैं कि वे आगामी सत्र में सदन आने से डर रहे हैं। सभी विपक्षी दलों के नेताओं ने बैठक कर मुझसे कहा है कि आप विधानसभा अध्यक्ष से उक्त घटना में संलिप्त पदाधिकारियों और कर्मियों पर समुचित कार्रवाई करते हुए सुरक्षा की गारंटी दिलवाएं।

बजट सत्र में हुआ था बवाल, मानसून में क्या होगा

तेजस्वी ने कहा है कि मुझे पूर्ण विश्वास है कि आपने अपनी उपस्थिति में घटित हिंसात्मक और घृणित घटना के विरूद्ध समुचित कार्रवाई की होगी और इस तरह की घटना की पुनरावृत्ति नहीं हो, उसके लिए गाइडलाइन भी जारी कर चुके होंगे। नेता प्रतिपक्ष ने विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा से दोषी पदाधिकारियों और कर्मियों पर की गई कार्रवाई से अवगत कराने की मांग की है।

23 मार्च 2021 को विपक्ष के विधायक को मार्शल ने विधानसभा के बाहर फेंका।
23 मार्च 2021 को विपक्ष के विधायक को मार्शल ने विधानसभा के बाहर फेंका।

तेजस्वी यादव ने उठाए तीन सवाल

ताजा पत्र में नेता प्रतिपक्ष ने तीन सवाल उठाए हैं। पूछा है कि विधानसभा परिसर में भारी संख्या में पुलिस बल किसके आदेश से पहुंचा था? अवैध तरीके से आए पुलिसकर्मियों को विधायकों पर अत्यधिक बल प्रयोग करते हुए बूटों से मारने, जानवरों की तरह उठाकर पक्की सतहों पर पटकने सहित जानलेवा हमला करने का आदेश किसने दिया था? महिला विधायकों के साथ हुए दुर्व्यवहार, बाल खींचकर मारने, घसीटने सहित अन्य अवर्णनीय अपराध करने का आदेश किसने दिया था?

तेजस्वी की ओर से लिखा गया पत्र।
तेजस्वी की ओर से लिखा गया पत्र।

3 अप्रैल को भी पत्र लिखकर कार्रवाई करने की मांग की थी

पत्र में तेजस्वी यादव ने 3 अप्रैल के पत्र की याद दिलाई है और 23 मार्च की घटना के बारे में कहा है कि- यह शर्मनाक, अलोकतांत्रिक, हिंसात्मक और दुर्भाग्यपूर्ण घटना थी। उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष से कहा कि 3 अप्रैल के पत्र में भी इसमें संलिप्त पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों, कर्मियों पर कार्रवाई करने का आग्रह किया था।

23 मार्च को हंगामा कर रहे विपक्षी विधायकों को मार्शलों ने काबू करने की कोशिश की।
23 मार्च को हंगामा कर रहे विपक्षी विधायकों को मार्शलों ने काबू करने की कोशिश की।

महिला विधायक बोलीं- क्या हुई कार्रवाई पता नहीं

23 मार्च को हुई घटना की पीड़ित महिला विधायकों ने भास्कर को बताया कि उन्हें दोषियों पर कार्रवाई की कोई जानकारी नहीं है। भास्कर पर खबर आने के दूसरे ही दिन 13 जुलाई को तेजस्वी यादव ने एक पत्र बिहार विधानसभा के अध्यक्ष को लिखा और कहा कि 23 मार्च 2021 को घटित दुर्भाग्यपूर्ण घटना के संबंध में दोषी पदाधिकारी और कर्मियों पर की गई कार्रवाई से उन्हें अवगत कराएं। उन्होंने सभी आहत सदस्यों को भी कार्रवाई से अवगत कराने की मांग की है।

खबरें और भी हैं...