• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Tejashwi Yadav On Munger SP Lipi Singh Over Firing During Idol Immersion In Bihar Munger

मुंगेर में फायरिंग का मामला:राजद नेता तेजस्वी ने कहा- मुंगेर में जनरल डायर जैसा आदेश दिया गया, तुरंत हटाए जाएं डीएम और एसपी

पटना2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मुंगेर मेंं फायरिंग की घटना पर प्रेंस कांफ्रेस करते राजद नेता तेजस्वी यादव व अन्य - Dainik Bhaskar
मुंगेर मेंं फायरिंग की घटना पर प्रेंस कांफ्रेस करते राजद नेता तेजस्वी यादव व अन्य
  • नेता प्रतिपक्ष बोले- हाईकोर्ट की ओर से संचालित जज कमेटी से करवाई जाए घटना की जांच
  • कांग्रेस प्रवक्ता सुरजेवाला ने कहा- मुंगेर की घटना सुनकर ही रूह कांप जाती है।

मुंगेर में फायरिंग की घटना को लेकर महागठबंधन की ओर से बुधवार को प्रेस कांफ्रेंस किया गया। राजद नेता तेजस्वी यादव ने सत्ता पक्ष से सवाल किया है करते हुए मुंगेर में जनरल डायर जैसा आदेश दिया गया है? उन्होंने कहा, मुंगेर में हुई घटना की हम कड़ी निंदा करते हैं। लोगों को समझ नहीं आया कि पुलिस लोगों को अचानक क्यों पीटने लगी, इस घटना में डबल इंजन सरकार की भूमिका है। तेजस्वी ने मांग किया है कि मुंगेर की घटना की जांच हाईकोर्ट की ओर से संचालित जज की कमेटी द्वारा करायी जाए। मुंगेर के डीएम और एसपी को तुरंत हटाया जाए।

सुरजेवाला बोले- निर्दयता से किया गया लाठी चार्ज
कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुरजेवाला ने कहा, "निर्दयी कुमार और निर्दय मोदी" की सरकार बिहार में है। मुंगेर की घटना सुनकर ही रूह कांप जाती है। मां दुर्गा के भक्तों पर गोली चलाई गई। जिन भक्तों के माथे पर माता की चुनरी थी उन भक्तों के शरीर को लाल कर दिया गया। माता की मूर्ति को घेर कर बैठे लोगों पर बहुत निर्दयता से लाठी चार्ज किया गया। आठ लोगों को गोली लगी। एक युवक के माथे को उड़ा दिया गया। उसकी मां बिलख-बिलख कर रो रही है। नरेन्द्र मोदी, नीतीश कुमार इससे बड़ी निर्लज्जता कुछ हो सकती है क्या मुंगेर में दिखी।

सुरजेवाला ने कहा, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी आपका इम्तिहान है, आपके मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री ने इंसानियत का जनाजा निकाल दिया है। नरेन्द्र मोदी जी आप नीतीश-मोदी की सरकार को बर्खास्त करके जाइएगा। नहीं तो माना जाएगा संलिप्तता है। पीएम को 12 करोड़ जनता को जवाब देना होगा।

मुंगेर में बर्बर तरीके से लाठीचार्ज किया गया: लेफ्ट पार्टी

लेफ्ट पार्टी के जुड़े नेताओं ने भी घटना का आलोचना की और कहा कि अब तक किसी अफसर पर ठोस कार्रवाई नहीं की गई है, यह हद है। मुंगेर में बर्बर तरीके से लाठीचार्ज किया गया। महिलाओं पर बच्चों पर भी गोली चलाई गई है। माले की ओर से कविता कृष्णन और सीपीएम की तरफ से अवधेश कुमार प्रेस कांफ्रेंस में मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...