• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Third Front Scent; Nitish Followed The Path Of Opposition, Chautala In Delhi Obeyed Tejashwi In Bihar

क्या फिर पलटी मारने वाले हैं नीतीश?:थर्ड फ्रंट की कवायद कर रहे चौटाला से दिल्ली में मुलाकात की, पटना में 'जातीय जनगणना' के मुद्दे पर तेजस्वी की बात मानी

पटनाएक वर्ष पहलेलेखक: बृजम पांडेय
ओमप्रकाश चौटाला के साथ CM नीतीश कुमार।

CM नीतीश कुमार का 2 दिनों का दिल्ली दौरा कई मायनों में अहम रहा है। खास तौर पर बिहार की राजनीति को लेकर इस दौरे ने गर्माहट पैदा कर दी। नीतीश कुमार गए तो थे, अपनी पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में शामिल होने और JDU के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष तय करने। वह सब काम तो उन्होंने किया ही, लगे हाथों CM नीतीश कुमार पूर्व उप प्रधानमंत्री देवी लाल के बेटे ओम प्रकाश चौटाला के आवास पर गुरुग्राम चले गए और उनसे मुलाकात की।

इधर, जब CM दिल्ली से पटना लौटे तो कहा कि जातीय जनगणना कराने को लेकर सोमवार को PM नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखेंगे। CM ने कहा कि एक सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल के लिए PM से समय मांगेंगे। शुक्रवार को तेजस्वी यादव ने CM से मिलकर ये गुजारिश की थी, जिसे शनिवार तक तो CM ने नहीं माना था। चौटाला से मिलने के बाद तेजस्वी की बातों पर हामी भर दी।

इंडियन नेशनल लोकदल के प्रमुख ओम प्रकाश चौटाला राष्ट्रीय स्तर पर थर्ड फ्रंट की कवायद कर रहे हैं। इसको लेकर लगातार चौटाला सभी दलों से मिल रहे हैं। अरविंद केजरीवाल, ममता बनर्जी, अखिलेश यादव सहित लालू यादव से मिलने वाले हैं। 25 सितंबर को पूर्व उपप्रधानमंत्री देवीलाल की जयंती पर ओम प्रकाश चौटाला एक बड़ी रैली करने वाले हैं।

इस रैली में वह BJP और कांग्रेस छोड़कर सभी दलों के प्रमुख नेताओं को एक मंच पर लाने की कवायद कर रहे हैं। इसी क्रम में CM नीतीश कुमार ने ओम प्रकाश चौटाला से मुलाकात की। नीतीश कुमार ने लगभग 1 घंटे तक बंद कमरे में बातचीत की। भ्रष्टाचार के एक मामले में ओम प्रकाश चौटाला हाल ही में जेल से बाहर निकले हैं।

CM नीतीश कुमार जब पटना पहुंचे तो उनकी बॉडी लैंग्वेज बदली-बदली सी थी। उन्होंने ओम प्रकाश चौटाला को अपना पुराना मित्र बताया। वहीं, लगे हाथों तेजस्वी यादव की तरफ से जातीय जनगणना कराने को लेकर प्रधानमंत्री से एक प्रतिनिधि मंडल मिलने की जो गुजारिश की गई थी, उस पर उन्होंने हामी भरी।

नीतीश ने कहा कि सोमवार को प्रधानमंत्री से मिलने का समय लिया जाएगा। अंदर खाने की खबर यह है जातीय जनगणना को लेकर देश स्तर पर CM नीतीश कुमार इसका नेतृत्व करेंगे और सभी राजनीतिक दल इनके नेतृत्व में इस आंदोलन को आगे बढ़ाएंगे। बताया जा रहा है कि जातीय जनगणना कराने को लेकर विपक्षी दलों ने नीतीश कुमार का नेतृत्व स्वीकार लिया है, सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो आगे जो थर्ड फ्रंट बनेगा उसका नेतृत्व भी नीतीश कुमार ही कर सकते हैं। हालांकि ये शुरुआत है।

खबरें और भी हैं...