• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • TWO Died In Criminals Firing In Bihta; Police Camp In Village; Bihar Crime Latest News

अपराधियों ने 2 युवक को गोलियों से भूना:पटना के बिहटा में रंगदारी को लेकर गोलीबारी, 2 युवक की मौके पर ही मौत, एक की हालत गंभीर; गांव में दहशत, पुलिस कर रही कैंप

पटनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक राहुल कुमार और प्रदीप कुमार। - Dainik Bhaskar
मृतक राहुल कुमार और प्रदीप कुमार।

पटना के बिहटा में अपराधियों ने शनिवार की देर रात दो युवकों को गोलियों से भून डाला, जबकि एक युवक बुरी तरह घायल हो गया है। वह अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहा है । शनिवार की देर रात तीनों युवक अपने नए मकान की सुरक्षा कर रहे थे। इस दौरान ही रात के करीब 11 बजे अपराधी पहुंचे और फायरिंग करने लगे, जिसमें राहुल कुमार और प्रदीप कुमार की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि अजित कुमार गंभीर रूप से घायल हो गया। मृतक के परिजन के मुताबिक, रंगदारी का विरोध करने पर हत्या को अंजाम दिया गया है।

वारदात के बाद लोगों ने किया विरोध प्रदर्शन।
वारदात के बाद लोगों ने किया विरोध प्रदर्शन।

गांव में दहशत
वारदात के बाद पूरे गांव में दहशत का माहौल है। बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है। घटना से गुस्साए लोगों ने रविवार की अहले सुबह से ही पटना बिहटा मुख्य मार्ग को जाम कर जमकर विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे लोग पुलिस और सरकार के खिलाफ नारे लगा रहे हैं । घटना की सूचना मिलते ही पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचकर मामले की छानबीन में जुट गए हैं। बिहटा के रामबाग स्थित मचा स्वामी मठ के समीप किशनपुर गांव में वारदात को अंजाम दिया गया है।

ग्रामीणों ने खदेड़ा
परिजन के मुताबिक, अपराधियों ने घर के नजदीक पहुंचते ही अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। राहुल कुमार, प्रदीप कुमार और अजीत कुमार कुछ समझ पाते, इससे पहले ही अपराधियों ने इन्हें गोलियों से भून डाला। गोली लगते ही राहुल कुमार और प्रदीप कुमार वहीं पर ढेर हो गए और मौके पर ही उनकी मौत हो गई। गोलीबारी की आवाज सुनते ही आसपास के गांव के लोग घर से बाहर निकल कर अपराधियों को खदेड़ दिया। ग्रामीणों को अपनी ओर आता देख अपराधी फायरिंग करते हुए फरार हो गए। घटना की सूचना मिलते ही राहुल कुमार और प्रदीप कुमार के परिजन मौके पर पहुंचे और तत्काल इसकी सूचना भी स्थानीय थाने को दी गई।

कई अफसर पहुंचे गांव
सूचना मिलते ही बिहटा के प्रभारी थाना अध्यक्ष दल-बल के साथ किशनपुर गांव पहुंचे। इसके साथ ही दानापुर डीएसपी सहित पुलिस के कई आला अधिकारी घटना की सूचना मिलते ही किशनपुर गांव पहुंच कर छानबीन शुरू कर दी। राहुल कुमार एवं प्रदीप कुमार के परिजनों ने बताया कि रंगदारी की मांग को लेकर यहां अपराधियों का वर्चस्व कायम है। इसे रोक पाने में पुलिस पूरी तरह नाकाम साबित हो रही है।

हिरासत में 3 लोग
वारदात की सूचना के बाद भारी संख्या में ग्रामीण जमा हो गए हैं। बिहटा पटना मुख्य मार्ग को रात में ही जाम कर प्रदर्शन शुरू कर दिया है। आक्रोशित लोगों ने मुख्य मार्ग पर टायर ट्यूब जलाकर जमकर प्रदर्शन किया और प्रशासन के खिलाफ नारे लगाए। वहीं, बिहटा थाना के प्रभारी थाना अध्यक्ष ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि इस मामले में तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। घटना के बाद किशनपुर गांव में पुलिस तैनात कर दी गई है।

खबरें और भी हैं...