छठे चरण का पंचायत चुनाव संपन्न:मोतिहारी में मतदान केंद्र पर बवाल, कई पुलिसकर्मी जख्मी, महिला सिपाही से बंदूक छीनने की कोशिश

पटना9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बिहार पंचायत चुनाव के 6वें चरण के लिए 37 जिलों के 57 प्रखंडों में बुधवार को मतदान हुआ। 61.07% वोटिंग हुई। इसमें 65.62% महिला और 56.52% पुरुष मतदाताओं ने वोट किया। सुबह 7 बजे से शुरू हुई वोटिंग शाम पांच बजे तक चली। कुछ जगहों पर लंबी लाइन के कारण शाम छह बजे तक भी वोट पड़े। वहीं, कुछ जिलों में हिंसक झड़प भी हुई।

मोतिहारी के पिपराखेम में बूथ संख्या 273 पर जमकर बवाल हुआ। EVM के 4 कंट्रोल यूनिट को क्षतिग्रस्त कर दिया गया। इसमें करीब आधा दर्जन पुलिस पदाधिकारी घायल हो गए, जिसमें दो गंभीर चोट आई। पुलिस की कार्रवाई में कई लोगों को भी चोट आई थी। एक महिला सिपाही प्रिया कुमारी ने बंदूक छीनने का भी आरोप लगाया। महिला सिपाही का मोबाइल भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया।

इधर, औरंगाबाद के गोह प्रखंड के महदीपुर में पुलिस पर लोगों ने मतदान केंद्र पर पथराव किया। भीड़ को हटाने के लिए पुलिस को हवाई फायरिंग करनी पड़ी। इधर, नवादा के साहोपुर गांव में मतदान केंद्र पर दो प्रत्याशियों के समर्थक आपस में भिड़ गए। इस विवाद में तीन लोग जख्मी हो गए।

बता दें कि दीपावली और छठ के बाद इस चरण की मतगणना होगी।

गोपालगंज में SDM और DSP की गाड़ी को तोड़ा

छपरा के कुरैया पंचायत की बूथ संख्या 105 पर मुखिया प्रत्याशी जमील अंसारी को निवर्तमान मुखिया के समर्थकों ने पीटा। इसके बाद बूथ पर हंगामा हो गया। वहीं, गोपालगंज के उचकागांव प्रखंड के इटवा धाम गांव में पुलिस पर रोड़ेबाजी भी हुई। SDM और DSP की गाड़ियों के काफिले पर पथराव हुआ। इससे गाड़ियों के शीशे टूटे। पथराव में कई जख्मी हो गए। करीब 24 लोगों को हिरासत में लिया गया। इधर, वैशाली के राजापाकर प्रखंड के फरीदपुर में बूथ संख्या 147 पर जमकर हंगामा हुआ। उपद्रवियों ने EVM तोड़ दी। लोगों ने प्रशासन पर गड़बड़ी करने का आरोप लगाया।

वहीं, मुजफ्फरपुर के विशनपुर कल्याण मतदान केंद्र पर दो गुटों में झड़प हो गई। दो प्रत्याशियों के समर्थकों के बीच विवाद हो गया। सूचना मिलने पर मतदान केंद्र पर बड़ी संख्या में पुलिस पहुंच गई। नवादा, मुजफ्फरपुर समेत कई जिलों में दिवाली की वजह से मतदाताओं की संख्या कम दिखी। मुजफ्फरपुर, भोजपुर, कैमूर, जमुई, रोहतास, नवादा, पूर्णिया, अररिया, खगड़िया समेत कई जिलों में बने बूथों पर सुबह 6 बजे ही मतदाताओं की भीड़ लगने लगी थी।

मतदान अपडेट्स...

  • मोतिहारी के पिपराखेम में बूथ संख्या 273 पर बवाल हुआ है। कई पुलिसकर्मी जख्मी।
  • औरंगाबाद के गोह प्रखंड के महदीपुर में पुलिस पर लोगों ने मतदान केंद्र पर पथराव किया।
  • दोपहर 2 बजे तक 38.40% वोटिंग, 33.96% पुरुषों ने और 43.34% महिलाओं ने की वोटिंग।
  • बगहा में सोहसा पंचायत के हरपुर गांव की 110 वर्षीय मुसमात मुनिया पहुंची मतदान केंद्र।
  • ग्रामीणों ने ढोल-बाजों के साथ पहुंचाया मतदान केंद्र।
  • नवादा के साहोपुर में दो प्रत्याशी के समर्थकों के बीच भिड़ंत, 3 लोग जख्मी।
  • खगड़िया में दोपहर 1 बजे तक 39.45 फीसद पड़े वोट।
  • सीवान के बड़हरिया में 11 बजे तक 23% मतदान।
  • गया के हजापुर पंचायत की बूथ संख्या 119 पर हुई बोगस वोटिंग।
  • पंचायत समिति सदस्य के लिए चुनाव लड़ रहे तरबेज आलम की पत्नी अजमेरी बानो का वोट किसी ओर ने दिया।
  • सीतामढ़ी के मेजरगंज प्रखंड क्षेत्र के इलाकों को छूने वाली भारत-नेपाल सीमा सील।
  • पंचायत चुनाव को लेकर कई कैंपो के जवान सीमा पर लगातार करते रहे गश्ती।
  • कैमूर जिले के नुआंव प्रखंड में 11 बजे तक 25% हुआ मतदान।
  • मुजफ्फरपुर के मोतीपुर के सिसवां मध्य विद्यालय बूथ संख्या 56 पर मतदाताओं को परेशानी।
  • मतदान रूम में अंधेरा होने के कारण मतदाताओं को नहीं दिख रहा EVM मशीन का बटन।
  • वैशाली के फरीदपुर स्थित मतदान केंद्र संख्या 147 पर हंगामा। उपद्रवियों ने EVM भी तोड़ी।
  • मुजफ्फरपुर के मध्य विद्यालय परसौनी पर पोलिंग एजेंट से डीएसपी ने की पूछताछ।

850 पंचायतों में हो रहे इस चुनाव में 11 हजार 959 बूथ बनाए गए थे। मतदाताओं की कुल संख्या 67 लाख 577 थी। पुरूष मतदाता 35 लाख 24 हजार 285 थे तो महिला मतदाता 31 लाख 76 हजार 80 थी। बूथ पर सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम किए गए थे। छठे चरण में पदों की कुल संख्या 26 हजार 200 थी, जिसमें ग्राम पंचायत के सदस्य के 11,592 पद थे। मुखिया के 848 पद थे, पंचायत समिति सदस्य के 1186, जिला परिषद् सदस्य के 134, ग्राम कचहरी पंच के 11592 और सरपंच के 848 पद थे।

तस्वीरों में मतदान के रंग...

कैमूर में नुआंव प्रखंड में मतदान करने पहुंचीं मतदाता।
कैमूर में नुआंव प्रखंड में मतदान करने पहुंचीं मतदाता।
भोजपुर में बूथ के बाहर लगी लोगों की भीड़।
भोजपुर में बूथ के बाहर लगी लोगों की भीड़।
जमुई के चकाई में मतदान केंद्र के बाहर सुरक्षाकर्मी।
जमुई के चकाई में मतदान केंद्र के बाहर सुरक्षाकर्मी।
पूर्णिया के डगरूआ प्रखंड में मतदाताओं की भीड़।
पूर्णिया के डगरूआ प्रखंड में मतदाताओं की भीड़।
नवादा में बूथ पर मौजूद मतदानकर्मी।
नवादा में बूथ पर मौजूद मतदानकर्मी।
नवादा में बूथ पर पहुंचीं महिला मतदाता।
नवादा में बूथ पर पहुंचीं महिला मतदाता।
जमुई में मतदान केंद्र पर लगी भीड़।
जमुई में मतदान केंद्र पर लगी भीड़।

इस चरण में चुनाव लड़ने वाले कुल उम्मीदवारों की संख्या 94188 थी। पुरूष उम्मीदवारों की संख्या 43 हजार 840 है तो महिला उम्मीदवारों की संख्या 50348 थी। पदवार उम्मीदवारों की संख्या की बात करें तो ग्राम पंचायत सदस्य पद पर 53 हजार 192 उम्मीदवार मैदान में थे। इसके अलावा मुखिया पद पर 6976 उम्मीदवार मैदान में थे।

पंचायत समिति सदस्य पद के लिए 7844 उम्मीदवार मैदान में थे। जिला परिषद् सदस्य पद पर 1378 उम्मीदवार, ग्राम कचहरी पंच पद पर 19 हजार 633 उम्मीदवार मैदान में थे। ग्राम कचहरी सरपंच के पद पर 5 हजार 165 उम्मीदवार मैदान में थे।

3,540 पदों पर निर्विरोध हुआ निर्वाचन, 144 ग्राम कचहरी पंच पद रह गए खाली
छठें चरण की सीटों पर 3,540 पदों पर निर्विरोध निर्वाचन हो चुका है। ग्राम पंचायत सदस्य पद पर 135 उम्मीदवार, ग्राम कचहरी पंच पद पर 3403, ग्राम कचहरी सरपंच पद पर 1, पंचायत समिति सदस्य पद पर 1 का निर्विरोध निर्वाचन हो चुका है। छठे चरण की सीटों पर 144 ग्राम कचहरी पंच पद पर कोई भी नामांकन नही होने की वजह से ये पद खाली रह गए हैं।

यहां रिजल्ट के लिए 10 दिन का इंतजार करना होगा। राज्य निर्वाचन आयोग की तरफ जारी कार्यक्रम के मुताबिक, छठे चरण की मतगणना 13 और 14 नवंबर को होगी।