• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Waterlogging In Muzaffarpur; Water Entred In Shopes; Childreans Swimming On Road In Muzaffarpur

मुजफ्फरपुर में सड़क पर तैर रहे बच्चे, देखें VIDEO:इस साल अब तक की सबसे ज्यादा 90 MM बारिश हुई; जनजीवन अस्त-व्यस्त, बच्चों ने सड़कों को वाटर पार्क बना मचाया धमाल

मुजफ्फरपुरएक वर्ष पहले
सड़क पर थर्माकोल की नाव बनाकर बच्चों से लेकर बड़े भी खेल रहे हैं।

मुजफ्फरपुर में बुधवार से हो रही भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। पहले से ही लबालब जिले में गुरुवार को रिकॉर्ड 90 मिमी बारिश होने से हालात बहुत खराब हो गए हैं। यह इस साल में एक दिन में सबसे ज्यादा बारिश का रिकॉर्ड है। सिटी के हार्ट मोतीझील का नजारा देखकर लोग भयभीत हैं। दुकानों में पानी घुस चुका है। कई मोहल्लो में दुकानें बंद करनी पड़ी है। बीच शहर में बच्चे पानी में तैर रहे हैं। दुकानदारों को अपने सामान को दुकानों में ऊंचाई वाली जगह पर रखनी पड़ी है।

सड़क पर जलजमाव।
सड़क पर जलजमाव।

बच्चों के लिए बन गया वाटर पार्क

कमर भर पानी देखकर बच्चो ने इसे वाटर पार्क बना लिया है। लकड़ी के पट्टे पर थर्मोकोल रखकर नाव बनाकर इस पानी में तैर रहे हैं। खूब मस्ती करते हुए अठखेलियां कर रहे हैं। उन्हें इसकी कोई फिक्र नहीं है कि पानी कितना गंदा है। इस पानी में जाने से बीमार भी पड़ सकते हैं। वे बस खेलने में लगे हुए हैं।

नाली का जमा है पानी, आती है संड़ाध

मोतीझील में पिछले एक सप्ताह से पानी जमा हुआ है। यह पानी नाली और बरसात का है। इस इलाके की सभी नालियां लबालब भर चुकी है। पानी से संड़ाध आता है। यह काला पड़ चुका है, लेकिन इसे निकालने की कोई व्यवस्था नहीं है। शहर से पानी निकलने का जो मेन आउटलेट है, वह है फरदो नाला। इसी से होकर पानी की निकास होती है और परमानंदपुर चौर में जाकर गिरती है। बाढ़ और बारिश के कारण परमानन्दपुर चौर लबालब भर चुका है। फरदो नाला भी कई जगहों पर जाम है। इसी कारण जल निकासी नहीं हो रही है।

समाहरणालय भी डूब गया

मुजफ्फरपुर शहर की स्थिति ऐसी है कि समाहरणालय परिसर में भी जल-जमाव है। यहां से जिस नाले से पानी निकलता है, वह भी लबालब भर चुका है। तब शहर की कौन पूछता है? नगर आयुक्त ने नाला का निरीक्षण करते हुए इसको साफ करने का निर्देश दिया है। इस नाला के साफ होने के बाद ही पानी की निकास संभव है।

शहर में भीषण जल-जमाव को देखते हुए जिला प्रशासन और नगर निगम ने लोगों से घर में रहने की अपील की थी। कहा था कि शीघ्र पानी निकालने का प्रबंध किया जा रहा है, लेकिन ऐसा अभी तक नहीं हुआ है।