पंचायत में BDO के लिए चंदा:सिंहवाहनी पंचायत की महिलाएं सड़क पर उतरीं, कहा- चंदा करके रुपए साहब को देंगे, हम चोर नहीं हैं

पटनाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

सिंहवाहिनी पंचायत की महिलाओं ने वहां के BDO को देने के लिए एक-एक रुपए चंदा जुटाया। सिंहवाहिनी की पूर्व मुखिया और वर्तमान मुखिया पद के प्रत्याशी पर BDO ने 2 हजार रुपए जेब से निकालने का आरोप लगाया है। रितु जासवाल के पति अरुण कुमार भारतीय सिविल सेवा 95 बैच के अधिकारी रह चुके हैं। केन्द्रीय सतर्कता आयोग में डिपार्टमेंट इनक्वायरी में कमिश्नर रह चुके हैं।

यह पंचायत इसलिए चर्चा में रही है क्योंकि यहां से रितु जायसवाल मुखिया रही हैं। इन्होंने इस गांव को कई दृष्टि से मॉडल पंचायत बनाया। इस पंचायत के अन्य 10 लोगों पर भी आरोप लगाया गया है। महिलाओं का कहना है कि पंचायत को बदनाम करने के लिए झूठे आरोप लगाए गए हैं।

गांव में चंदा इकट्‌ठा करतीं पंचायत की महिलाएं।
गांव में चंदा इकट्‌ठा करतीं पंचायत की महिलाएं।

महिलाएं कह रहीं सिंहवाहिनी के लोग चोर नहीं हैं
सोशल मीडिया पर इस एक रुपए वाले चंदा को लाइव दिखाया गया है। जिसमें बड़ी संख्या में महिलाएं सड़क पर उतरी हुई दिख रही हैं। सिंहवाहिनी के लोग कहते दिख रहे हैं कि यहां की जनता चोर नहीं है जो 2 हजार रुपए BDO की जेब से निकालेगी। सोशल मीडिया पर लोग तरह-तरह की प्रतिक्रिया दे रहे हैं। BDO 6 साल से इस प्रखंड में क्यों जमे हुए हैं लोग यह सवाल भी पूछ रहे हैं। इस पंचायत में 8 दिसंबर को चुनाव होने वाला है।

खबरें और भी हैं...