पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोनारोधी टीका:अगिआंव में 1 अप्रैल से 18 जून तक 10500 जांच तो 22560 लोगों ने लिया कोविड टीका

अगिआंवएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भोजपुर जिले के अगिआंव प्रखंड में वैश्विक महामारी कोरोना का दूसरा लहर बड़ी खतरनाक रहा। जहां ग्रामीण क्षेत्रों में इसका असर दिखने को ज्यादा मिला। वही ग्रामीण चिकित्सक की देखरेख में ग्रामीणों ने अपनी जान बचाई। जहां इस भयावह महामारी में प्रखंड स्तर पर डॉक्टर एवम समुचित व्यवस्था नही रहने से लोग कराहते रहे। जो ग्रामीण चिकित्सक के भरोसे अपनी इलाज के लिए विवश रहे। वर्ष 2021 के अप्रैल और मई माह इस महामारी से लोग त्रस्त रहे। या फिर भगवान भरोसे जिंदा रहे। इस महामारी में स्वास्थ्य विभाग के दिए गए आंकड़े के अनुसार अप्रैल माह से लेकर 18 जून तक कुल दस हजार पांच सौ लोगों को कोरोना संक्रमण की जांच

किया गया। जिसमें रैपिड एंटीजन किट से छह हजार पांच सौ तो वही चार हजार लोगों का आरटीपीसीआर जांच का सैम्पल भेजा गया। इन दोनों माह मिलाकर कुल कोरोना पाॅजिटिव पचपन मरीज पाए गए। जिसमे चौवन लोग होम आइसोलेशन में रहकर ठीक हो गए। वही प्रखंड के कुल पन्द्रह पंचायतों सहित पीएचसी में कुल मिलाकर। बाइस हजार पांच सौ साठ लोगों के कोरोनारोधी टीका दिया गया जिसमें पैंतालीस वर्ष से ऊपर सोलह हजार पांच सौ साठ तो 18 वर्ष के ऊपर छह हजार पांच सौ लोगो के कोरोनारोधी टीका दिया गया।

खबरें और भी हैं...