पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोनावायरस:शाहपुर में 128 लोगों की जांच में सभी मिले स्वस्थ

आरा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रैपिड एंटीजन मशीन से बुधवार को शाहपुर प्रखंड में कुल 128 लोगों का कोरोना संक्रमण की जांच की गयी। इस संबंध में रेफरल अस्पताल शाहपुर के चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. केपी महतो ने बताया कि बुधवार को शाहपुर रेफरल अस्पताल में शिविर लगाकर कुल 128 लोगों का कोरोना संक्रमण की जांच की गयी। जांच में सभी 128 लोगों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आयी है। उन्होंने बताया कि जांच को लेकर प्रतिदिन कैम्प का आयोजन किया जा रहा है।
पीरो में इस सप्ताह नहीं मिले एक भी संक्रमित
पीरो प्रखंड क्षेत्र में प्रतिदिन दो या तीन स्थानों पर कैम्प लगाकर कोरोना संक्रमण की जांच की जा रही है। पिछले एक सप्ताह में 878 लोगो की एंटी रैबिज किट से जांच की गई। सभी का रिपोर्ट नेगेटिव रहा है। इस दौरान 200 लोगो का स्वाब जांच भी कराया गया। बुधवार को सीएचसी में 59 और तेलाढ़ गांव में 56 लोगो की जांच की गई। सभी का रिपोर्ट नेगेटिव रहा।

अगिआंव में 92 संदिग्धों की कोरोना जांच में सभी लोग मिले नेगेटिव

कोरोना वायरस जांच अभियान के तहत स्वास्थ्य विभाग की पहल पर प्रखंड मुख्यालय स्थित पीएचसी अगिआंव मे बुधवार को कोरोना संक्रमण के जांच के लिए शिविर लगाया गया। जहां पीएचसी में लगे शिविर में कुल 92 लोगों रैपिड एंटीजन किट से कोरोना संक्रमण का जांच स्वास्थ्यकर्मी द्वारा किया गया।

जहां से 40 लोगों को कोरोना संक्रमण जांच के लिए आरटीपीसीआर से पटना जिले के बिहटा भेजा गया। पीएचसी के मैनेजर राकेश पांडेय ने बताया कि पीएचसी में बुधवार को लगे जांच शिविर में कुल 92 लोगों का कोरोना संक्रमण का जांच किया गया। वही दूसरी तरफ कोरोना जांच की गति आने पर प्रखंड में कोरोना संक्रमित मरीजों में कमी आयी है। जिससे लोग राहत महसूस कर रहे है।

जगदीशपुर में 99 लोग जांच
नगर पंचायत, जगदीशपुर समेत प्रखंड क्षेत्र में कोरोना संक्रमण के जांच का सिलसिला बुधवार को भी लगातार जारी रहा। बुधवार को कुल 99 लोगों का रैपिड टेस्ट किया गया। रेफरल अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डा. विनोद प्रताप सिंह ने बताया कि नगर के रेफरल अस्पताल और दुलौर स्थित अनुमंडलीय अस्पताल में कुल 99 लोगों का रैपिड एंटीजन मशीन से जांच किया गया। इसमें सभी लोग स्वस्थ मिले। आगे कहा कि संक्रमण से बचाव के लिए आवश्यक रूप से मास्क का उपयोग निहायत जरूरी है। कोरोना के संक्रमण के जांच का सिलसिला आगे भी जारी रहेगा।

खबरें और भी हैं...