कार्रवाई:सुनवाई के दौरान हाजिर नहीं होने वाले 15 सीओ बीडीओ और थानेदार पर हजार रुपये का जुर्माना

आराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शाहपुर-बड़हरा के बीडीओ, गड़हनी के सीओ और पीरो के सहायक अभियंता पर कार्रवाई - Dainik Bhaskar
शाहपुर-बड़हरा के बीडीओ, गड़हनी के सीओ और पीरो के सहायक अभियंता पर कार्रवाई

भोजपुर जिले में लोक शिकायत निवारण से जुड़े मामलों की सुनवाई के दौरान हाजिर नहीं होने वाले लापरवाह 15 अफसर पर डीएम ने कार्रवाई की है। सभी पर एक-एक हजार रुपए का आर्थिक दंड लगाते हुए स्पष्टीकरण मांगा है। इसके साथ ही चेतावनी दी गई है, कि भविष्य में इस तरह की लापरवाही की गई तो अनुशासनिक कार्रवाई शुरू की जाएगी। कार्रवाई की जद में जिले के दो बीडीओ, एक सीओ, एक सीडीपीओ, एक सहायक विद्युत अभियंता और 9 थानाध्यक्ष आए हैं। भोजपुर जिले के आरा सदर, पीरो और जगदीशपुर के अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी के द्वारा मामले की सुनवाई की जा रही थी।

इसी क्रम में लगातार कई बार संबंधित अफसर उपस्थित नहीं हुए, और ना ही मामले से जुड़ी संबंधित प्रतिवेदन ही उपलब्ध कराएं। इस कारण परिवादी को समय पर न्याय नहीं दिया जा सका। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए संबंधित अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी ने इसकी सूचना जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी को दी। मामले की गंभीरता को देखते हुए जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी ने इसकी पूरी रिपोर्ट जिला पदाधिकारी रोशन कुशवाहा को सौंपी।

रिपोर्ट के अनुसार लापरवाही करने वालों में शाहपुर और बड़हरा के प्रखंड विकास पदाधिकारी, गड़हनी के अंचलाधिकारी, तरारी के बाल विकास परियोजना पदाधिकारी और पणन पदाधिकारी, पीरो में बिजली कंपनी के सहायक विद्युत अभियंता और थानाध्यक्ष में बड़हरा, संदेश, मुफस्सिल, जगदीशपुर, पीरो, धोबहा के शामिल है। इन सभी पर लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम 2015 के तहत डीएम ने कार्रवाई की है।

विगत सप्ताह जिले में समय पर आवेदनों का निपटारा नहीं करने के मामले में 13 अंचलाधिकारी, तीन एसडीओ और तीन डीसीएलआर पर डीएम ने कार्रवाई की थी। 13 अंचलाधिकारी पर आर्थिक दंड लगाते हुए ₹60,000 का जुर्माना किया गया था। इधर, मामले में सही से मॉनिटरिंग नहीं करने के कारण जिले के सभी तीनों एसडीओ और डीसीएलआर से 3 दिन में स्पष्टीकरण की मांगा की गई थी।

खबरें और भी हैं...