पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बालू तस्करों पर सख्ती:दो माह में 797 वाहन जब्त, रुपये 2.15 करोड़ जुर्माना

आराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भोजपुर जिले में पुलिस और खनन विभाग ने 2 माह के दौरान बालू तस्करों के खिलाफ जमकर अभियान चलाया। इस दौरान 797 वाहन जब्त किया गया। जबकि, ₹2.15 करोड़ जुर्माना कर 135 लोगों को गिरफ्तार किया गया। इस कार्रवाई से एक तरफ जहां स्थानीय बालू तस्करों की कमर टूट गई, वहीं सरकार को दो करोड़ रुपए से ज्यादा का राजस्व भी प्राप्त हुआ है। वहीं ट्रकों से अवैध वसूली में संलिप्तता प्रमाणित होने के बाद एक थाना प्रभारी को निलंबित होना पड़ा तो दूसरे थानेदार पर प्राथमिकी तक दर्ज की गयी। इसके अलावा एक दर्जन पुलिस कर्मियों को निलंबित किया जा चुका है।

डीएम और एसपी के संयुक्त आदेश के बाद खनन विभाग एवं थाना की संयुक्त कार्रवाई में बालू तस्करी से जुड़े धंधेबाज और बालू माफियाओं की कमर टूट गए हैं। लगातार छापेमारी और करवाई से इस धंधे से जुड़े लोगों में भय एवं दहशत के साथ खलबली मच गई है। जिसका नतीजा और फलाफल भी सामने आया। इस अवधि में 135 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है, और 797 ट्रक और ट्रैक्टर को जब्त कर जुर्माना की राशि वसूली की गई है। जिले भर में कूल 81 प्राथमिकी अलग-अलग थानों में दर्ज की गई है। साथ ही 305 छापेमारी का रिकॉर्ड बना है।

डीएम और एसपी की बालू माफियाओं के विरुद्ध सबसे बड़ी कार्रवाई मानी जा रही है। नतीजा यह हुआ कि अंततः बालू के ओवरलोडिंग एवं अवैध खनन और परिवहन पर लगाम लग गया है। सर्वाधिक कार्रवाई जिले के कोईलवर, चांदी, संदेश और बड़हरा थाना क्षेत्र में की गई है। वहीं अवैध खनन के मामले में 17 बड़े वाहन भी जब्त किए गए। जिसमें पोकलेन मशीन 12, लोडर एक, हाईवा तीन और जेसीबी एक है।

बालू तस्करों के साथ लापरवाह पुलिसकर्मियों पर भी हुई कार्रवाई
जिले में 2 माह के अंदर स्थानीय बालू तस्करों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए सैकड़ों वाहनों को जब्त करने के साथ 135 लोगों की गिरफ्तारी हुई। इस मामले में कई थानों की पुलिस की बदनामी को देखते हुए दो थाना प्रभारी को सस्पेंड करने के साथ एक दर्जन पुलिसकर्मियों पर भी कार्रवाई की गई। वर्तमान स्थिति में बालू खनन बंद होने के साथ पुलिसकर्मियों के रवैए में भी सुधार आया है। इस तरह की कार्रवाई लगातार चलती रहेगी।
- राकेश कुमार दूबे, एसपी, भोजपुर

खबरें और भी हैं...