व्यवस्था / आरा में अब पांच वर्षों के अंतराल पर किया जाएगा आर्म्स लाइसेंस का नवीनीकरण

X

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

आरा. (धर्मेंद्र कुमार सिंह) भोजपुर जिले में एक से दो आर्म्स रखने वाले लोगों के लिए खुशखबरी है। वही तीन आर्म्स रखने वालों के खिलाफ प्रशासन की नजर टेढ़ी हो गई है। ऐसे लोगों को अब एक लाइसेंस हर हाल में जमा करना जरूरी हो गया है। नहीं करने पर उनके खिलाफ लाइसेंस रद्द करने समेत कई प्रकार की कार्रवाई की जा सकती है। भारत सरकार के नए दिशा निर्देश के अनुसार जिले में हर तीन वर्ष पर हथियारों का होने वाला नवीनीकरण कार्य का समय दो साल बढ़ाते हुए उसे पांच साल के लिए कर दिया गया है।

नवीनीकरण की दो साल समय सीमा बढ़ाए जाने से लगभग 6000 लाइसेंस धारियों को राहत मिलेगी। अब उन्हें लाइसेंस रिन्युअल कराने के लिए हर ब है। इसमें सबसे ज्यादा लाभ वैसे लाइसेंसधारी को है जिनकी उम्र 60 वर्ष से ज्यादा हो चुकी है, या जो लाइसेंसधारी सेना के साथ अन्य विभागों में नौकरी करने के लिए बाहर रहते हैं। भारत सरकार के द्वारा या नया आदेश हाल के दिनों में ही भोजपुर जिला प्रशासन को मिला है। अब जो आर्म्स कार्यालय में लोग लाइसेंस को रिन्युअल करवाने के लिए लेकर आएंगे उनका तीन वर्ष के बदले अब पांच साल का रिन्युअल किया जाएगा।
1500 के बदले 2500 रुपए का लगेगा शुल्क
एक तरफ आर्म्स के लाइसेंस का नवीनीकरण तीन साल के बदले पांच साल पर होगा। वहीं दूसरी तरफ इसका शुल्क 1500  के बदले 2500 रुपए  करना होगा। मालूम हो पहले या शुल्क 1 साल के लिए ₹500 की दर से 3 साल के लिए पंद्रह सौ रुपया लगता था। अब 2 वर्ष बढ़ जाने के बाद भी टेलीनॉर का शुल्क उसी दर से 2500 ही लगेगा।
एमएलसी, एमएलए और डॉक्टर को जमा करना पड़ेगा एक आर्म्स
केंद्र सरकार के द्वारा बनाए गए नए नियम के अनुसार अब कोई भी लाइसेंस धारी दो हथियारों से ज्यादा का लाइसेंस नहीं रख सकता। इस नए नियम के आ जाने के बाद कई माननीय के तीन लाइसेंस रखने पर संकट के बादल छा गए हैं। अब ऐसे लोगों को अपना तीसरा लाइसेंस हर हाल में स्थानीय थाने को सपना पड़ेगा। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि भोजपुरी में तीन दर्जन लोगों के पास 3 आर्म्स का लाइसेंस है। लाइसेंस धारियों में कोई एमएलसी एमएलए डॉटर सेना के अधिकारी ठेकेदार शामिल है। इन सभी के द्वारा दिसंबर 2020 तक तीसरा आरंभ नहीं जमा करने पर विभाग के द्वारा कार्रवाई की जा सकती है।
भोजपुर में विभिन्न प्रकार के 6000 आर्म्स है लोगों के पास
भोजपुर जिले में कुल आर्म्स की संख्या 6000 है। इसमें 3000 बंदूक, 2000 राइफल, 500 पिस्टल और 500 आधुनिक रिवाल्वर शामिल है। वहीं दूसरी तरफ सैकड़ों लोगों ने मणिपुर इंफाल का फर्जी लाइसेंस ले रखा है।

अब 3 साल के बदले 5 साल पर होगा लाइसेंस का नवीनीकरण
भारत सरकार के नए दिशा निर्देश के अनुसार अब 3 साल के बदले 5 साल पर लाइसेंस का रिन्युअल किया जाएगा। वहीं दूसरी तरफ जिनके पास भी तीन लाइसेंस है, उनमें से एक लाइसेंस उसे हर हाल में जमा करना जरूरी हो गया है।  -माधव कुमार सिंह, जिला जिला शस्त्र दंडाधिकारी, भोजपुर

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना