पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

वीकेएसयू:विवि के स्नातक पार्ट-वन सत्र 2018-21 के त्रुटिपूर्ण रिजल्ट से परीक्षार्थी हुए परेशान

आरा7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • उत्तीर्ण मार्क्स से अधिक अंक लाने के बाद भी कई परीक्षार्थियों को कर दिया गया है फेल
Advertisement
Advertisement

स्नातक पार्ट वन सत्र 2018-21 के कला संकाय का रिजल्ट त्रुटिपूर्ण आने पर छात्र-छात्राओं आक्रोश है। उत्तीर्ण मार्क्स से अधिक अंक लाने के बाद भी कई परीक्षार्थियों को फेल कर दिया गया। कई परीक्षार्थियों का पेपर-वन व टू का कुल मार्क्स का योग सही नहीं होने की वजह से भी रिजल्ट को लेकर चर्चा का विषय बना हुआ है। इधर, कम्प्यूटर इंचार्ज डॉ अमरेंद्र नारायण ने बताया कि त्रुटियों का सुधार किया जा रहा है। विद्यार्थियों को घबराने की जरूरत नहीं है।

भोजपुर, बक्सर, रोहतास एवं कैमूर जिले के परीक्षार्थियों ने कहा कि ऐसा लग रहा है कि वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय प्रबंधन त्रुटिपूर्ण रिजल्ट निकालने का ठेका ले चुका है। परीक्षा देने के बाद छह माह तक रिजल्ट के लिए टकटकी लगाना पड़ता है। इसके बाद छह माह रिजल्ट सुधरवाने के लिए नए कैम्पस से लेकर पुराना कैम्पस का चक्कर काटना पड़ता है। गलती विश्वविद्यालय प्रबंधन करता है और उसका हर्जाना हर विद्यार्थियों को चुकाना पड़ता है।

विश्वविद्यालय द्वारा रिजल्ट प्रकाशन की बात पूछे जाने पर कहां जा रहा था कि त्रुटिपूर्ण रहित रिजल्ट प्रकाशन को लेकर विलंब हो रहा है। सभी बिंदुओं पर जांच करने के बाद ही रिजल्ट का प्रकाशन किया जाएगा। परन्तु रिजल्ट घोषित होने के बाद विश्वविद्यालय का पूरा पोल खुलता हुआ नजर आ रहा है। त्रुटिपूर्ण रहित रिजल्ट का दावा फेल नजर आया। भोजपुर, बक्सर, रोहतास एवं कैमूर जिले के छात्र-छात्राओं का रिजल्ट त्रुटिपूर्ण होने की वजह से परीक्षार्थी काफी परेशान रहे।
रिजल्ट का पोर्टल नहीं खुलने से भी छात्र हो रहे परेशान
स्नातक, पार्ट-वन का रिजल्ट देखने के लिए शनिवार को परीक्षार्थी काफी परेशान रहे। रिजल्ट का पोर्टल नहीं खुलने की वजह से परीक्षार्थियों ने आक्रोश व्यक्त किया। कम्प्यूटर इंचार्ज ने बताया कि वीकेएसयू के पोर्टल पर डीडीओएस का हमला होने की वजह से पोर्टल नहीं खुल रहा है। सुचारू ढंग से चलाने के लिए लगातार प्रयत्न किया जा रहा है। इधर, विश्वविद्यालय के पूर्व अध्यक्ष डॉ अमित कुमार द्विवेदी ने कहा कि डीडीओएस का झूठा बहाना बनाकर कंप्यूटर सेंटर रिजल्ट की लीपा-पोती करने में जुटा हुआ है। शाहाबाद प्रक्षेत्र के विद्यार्थियों को गुमराह करने की कोशिश की जा रही है।

सही योजना नह होने से रिजल्ट प्रकाशन में विलंब
प्रतियोगी परीक्षाओं में लाखों विद्यार्थी ओएमआर शीट पर परीक्षा देते हैं। बोर्ड के द्वारा कुछ दिनों में रिजल्ट प्रकाशित कर दिया जाता है। इंटर काउंसिल ने भी इस बार ओएमआर शीट पर परीक्षा लेकर समय पर रिजल्ट प्रकाशित कर दिया है। परन्तु विश्वविद्यालय प्रबंधन की सही योजना नहीं होने की वजह से आज अतिरिक्त खर्च भी चुकाना पड़ा और विद्यार्थी रिजल्ट के लिए जूझ रहे हैं। कई विद्यार्थियों का रिजल्ट पेंडिंग है तो कई का रिजल्ट त्रुटिपूर्ण है। विज्ञान संकाय का रिजल्ट अभी लटका हुआ है।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement