पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विवाद:राज्यपाल सचिवालय को पत्र लिखने के मामले में जैन कॉलेज के शिक्षक को शोकॉज

आरा11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • शिक्षक बोले - सीनेटर होने के नाते सदन के अध्यक्ष से पत्राचार करना कोई अनुशासनहीनता नहीं

वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय ने एचडी जैन कॉलेज हिन्दी विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. नीरज कुमार पर अनुशासनहीनता के मामले में शोकॉज किया है। तीन दिनों के भीतर जवाब मांगा है। जवाब नहीं देने पर कार्रवाई करने का भी संकेत दिया है। विश्वविद्यालय ने यह शोकॉज राज्यपाल सचिवालय को सीधा पत्र लिखने के मामले में किया है।

विश्वविद्यालय द्वारा जारी पत्र में कहा गया है कि आपके द्वारा कुलाधिपति को भेजा गया पत्र सोशल मीडिया पर भी वायरल है। इसको लेकर विश्वविद्यालय के गलियारों में राजनीति गरमा गई है। इधर, सीनेटर डॉ नीरज कुमार ने बयान जारी करते हुए कहा कि विश्वविद्यालय निलंबन की धमकी देकर लोकतांत्रिक अधिकारियों को चुनौती दे रहा है। संविधान प्रदत अभिव्यक्ति की आजादी के मौलिक अधिकारियों का हनन किया जा रहा है।

राजभवन द्वारा जो पत्र जारी किया गया है उसमें किसी भी अधिकारी को सीधा पत्र नहीं लिखने की बात कही गई है। मैं विश्वविद्यालय का कोई अधिकारी नहीं हूं जैन कॉलेज में एक शिक्षक के तौर पर कार्यरत हूं। मैंने निर्वाचित सीनेटर के नाते सदन की अध्यक्षता जो कि कुलाधिपति के द्वारा किया जाता है उनकों पत्राचार किया हूं।

सिनेट की बैठक में सिर्फ वित्तीय बजट को ही अनुमोदित नहीं किया जाता है बल्कि कई अहम मुद्दों पर वार्ता होती है। ऑनलाइन सीनेट की बैठक कराकर उन सभी मुद्दों पर विराम लगा दिया गया है। सीनेट के अध्यक्ष को सारी बातों से अवगत कराकर मैंने अपने दायित्वों का निर्वहन किया है। वैधानिक और लोकतांत्रिक अधिकार का मैंने प्रयोग किया है। तीन दिनों के भीतर मुझसे जवाब मांगा गया था मैंने अपना जवाब तैयार करके वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय के कुलसचिव को दे दिया हूं। विश्वविद्यालय अधिनियम का अनुपालन विश्वविद्यालय द्वारा नहीं किया जा रहा है। प्रत्येक वर्ष दो बार सिनेट कराने का प्रावधान है परन्तु उसका अनुपालन विश्वविद्यालय द्वारा नहीं किया गया है। गौरतलब हो कि 10 जनवरी को सीनेट की बैठक ऑनलाइन किए जाने को लेकर सिनेटर डॉ नीरज कुमार ने विरोध किया था। आरा मुख्यालय से राजभवन तक पैदल मार्च निकालने की घोषणा तक किया था।

सीनेटर ने घोषणा करते हुए कहा था कि अब आरपार की लड़ाई लड़ी जाएगी। सिंडिकेट सदस्यों का विरोध पत्र कुलाधिपति को भी भेजा जाएगा। विरोध पत्र में कुलपति प्रो देवी प्रसाद तिवारी पर आरोप मढ़ा गया है कि सीनेट की बैठक के नाम पर लोकतंत्र, लोक मर्यादा और शाहाबाद की जनता का अपमान किया गया है जिसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है।

उनकी ओर से छल पूर्वक सदस्यों को बिना बताये ऑनलाइन बैठक करा ली गयी है। इससे शाहाबाद के छात्र प युवाओं में नाराजगी भी है। डॉ. कुमार ने बताया कि जल्द ही शाहाबाद के चारों जिला में सर्वदलीय धरना प्रदर्शन किया जाएगा। इस लड़ाई को अब थमने नहीं दिया जाएगा इसकी गूंज सदन तक गूजेंगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser