पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अफरा-तफरी:आठ परीक्षार्थी निष्कासित, परीक्षा केंद्र में घुसने के लिए सुरक्षाकर्मियों व परीक्षार्थियों में मारपीट

आरा11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जैन स्कूल परीक्षा केंद्र पर परीक्षार्थियों के देर से पहुंचने पर प्रवेश नहीं मिलने को लेकर आक्रोशित अभिभावक। - Dainik Bhaskar
जैन स्कूल परीक्षा केंद्र पर परीक्षार्थियों के देर से पहुंचने पर प्रवेश नहीं मिलने को लेकर आक्रोशित अभिभावक।
  • कई परीक्षा केन्द्रों पर 9.20 बजे के बाद प्रवेश को लेकर को परीक्षार्थियों और अभिभावकों ने जमकर हंगामा मचाया

मैट्रिक परीक्षा का दूसरा दिन गुरुवार को काफी हंगामेदार रहा। विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर कदाचार के आरोप में आठ परीक्षार्थी को निष्कासित किया गया। जैन स्कूल, मॉडल इंस्टिट्यूट प्लस टू उच्च विद्यालय एवं टाउन प्लस टू उच्च विद्यालय परीक्षा केंद्र पर सुबह 9.20 बजे के बाद प्रवेश को लेकर को परीक्षार्थियों एवं अभिभावकों ने जमकर हंगामा मचाया।

जैन स्कूल केंद्र पर गार्ड व टाउन थाना के एक सिपाही के साथ अभिभावकों व परीक्षार्थियों के बीच गाली-गलौज व मारपीट हुई। करीब 15 मिनट तक परीक्षा केंद्र के बाहर रणक्षेत्र का नजारा रहा। सिपाही के चेहरा व नाक से खून बहने लगा। गार्ड एवं कई परीक्षार्थी भी चोटिल हुए। इसके बाद जैन स्कूल में परीक्षार्थियों का हुजूम जबरन मुख्य गेट को खोलकर भीतर प्रवेश कर गया।

बताया जाता है कि परीक्षा केंद्र के बाहर कई परीक्षार्थी खड़े थे। बार-बार अनाउंस करने के बाद भी कई परीक्षार्थी परीक्षा केंद्र के भीतर प्रवेश नहीं कर रहे थे। जैन स्कूल परीक्षा केंद्र के मुख्य गेट जब ताला जड़ा जाने लगा, तब परीक्षार्थी इंट्री करने को लेकर हंगामा मचाने लगे।

सभी परीक्षा केन्द्रों पर रही अभेद्य सुरक्षा व्यवस्था
परीक्षा के दूसरे दिन गणित विषय की परीक्षा हुई। प्रथम पाली से चार व दूसरी पाली से तीन परीक्षार्थी को कदाचार के आरोप में निष्कासित किया गया। पहली पाली में जैन कॉलेज एवं जिला स्कूल से एक-एक एवं सिद्धांर्थ इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल से दो परीक्षार्थी निष्कासित हुए। वहीं दूसरी पाली में जैन कॉलेज से दो एवं जय प्रकाश कॉलेज से एक परीक्षार्थी को नकल करते हुए पकड़ा गया। सभी परीक्षार्थियों से जुर्माना लेकर छोड़ दिया गया। डीईओ कौशल किशोर ने बताया कि पहली पाली में 413 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। 25 हजार 933 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दिया।वहीं दूसरी पाली में 25 हजार 617 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दिया, 453 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। परीक्षा शुरू होने से पहले परीक्षार्थियों की गहन तलाशी ली गई, इसके बाद उन्हें भीतर इंट्री दिया गया। परीक्षा के लिए चार आर्दश केंद्र बनाया गया थे। केंद्रों पर 39 स्टैटिक दंडाधिकारी, 12 गश्ती दल दंडाधिकारी, 12 जोनल सह उड़नदस्ता दल अधिकारी, सुपर जोनल दंडाधिकारी व पुलिसकर्मी तैनात थे।

आदर्श केंद्र पर भी हुआ बवाल
मैट्रिक की परीक्षा के लिए जैन स्कूल को आर्दश केंद्र बनाया गया है। परीक्षा केंद्र को गुब्बारों एवं फूल-माला से सजाया गया था। पहले दिन परीक्षा केंद्र के सजावट की काफी चर्चा रही। परीक्षा केंद्र पर चोरों तरफ रेड कारपेट लगाया गया था। वहीं दूसरे दिन हंगामा को लेकर आर्दश केंद्र सुर्खियों में रहा। प्रशासन एवं परीक्षार्थियों के बीच खींचातानी रहा जो अभिभावक पहले दिन परीक्षा केंद्र की प्रशंसा कर रहे थे। वहीं, अभिभावक दूसरे दिन प्रशासन की व्यवस्था पर भड़ास निकाल रहे थे।

पिछली गेट से निकाले गए परीक्षार्थी
सुबह जैन स्कूल परीक्षा केंद्र पर परीक्षार्थी एवं अभिभावक से तकरार होने के बाद विद्यालय प्रशासन ने परीक्षा समाप्त होने के बाद परीक्षार्थियों को पिछली गेट से निकाला। परीक्षार्थियों ने बताया कि मुख्य गेट पर कई ऐसे अभिभावक थे जो पहले इंट्री लेने पर हमलोगों से नाराज थे। किसी प्रकार की कोई अनहोनी नहीं हो, इसे ध्यान में रखते हुए विद्यालय प्रबंधन ने पिछली गेट को खोल दिया था। जिसकी वजह से हमलोगों को काफी सहुलियत रही।

खुली रहीं फोटोस्टेट का दुकानें
परीक्षा शुरू होने से पहले जिला प्रशासन ने 200 मीटर परिधि के भीतर फोटो स्टेट दुकानों को बंद करने का फरमान जारी किया था। परन्तु उस आदेशों को अनुपालन कराने में प्रशासन सख्त नहीं दिखा। टाउन प्लस टू उच्च विद्यालय परीक्षा केंद्र के आसपास फोटो स्टेट की दुकानें खुली रही। फोटोस्टेट कराने को लेकर परीक्षार्थियों की भीड़ जुटी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें