पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्यक्रम:पूर्व सीएम को जन्मदिन पर किया याद बोले- सिद्धांतों से नहीं किया समझौता

आरा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पूर्व मुख्यमंत्री केबी सहाय की जयंती पर हुआ कार्यक्रम

अखिल भारतीय कायस्थ महासभा और चित्रांश युवा वाहिनी के द्वारा अति प्राचीन श्री चित्रगुप्त मन्दिर बाबू बाजार के प्रांगण में जयंती समारोह का आयोजन किया गया। सर्व प्रथम स्व.सहाय के चित्र पर माल्यार्पण और पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। अध्यक्षता पूर्व प्राचार्य प्रो.सच्चिदानन्द सहाय ने व संचालन मनीष प्रभात ने किया।

प्रो. सचिदानन्द सहाय ने कहा कि स्व. कृष्ण वल्लभ सहाय विलक्षण प्रतिभा के धनी थे और उन्होंने कभी सत्ता के लिए सिद्धांतों से समझौता नही किया। पूर्व मुख्यमंत्री ने गरीबो,दलितों, शोषितों के विकास और उत्थान के लिए बिहार में जमींदारी प्रथा को खत्म किया। बाद में देश के सभी राज्यों ने उसका अनुसरण किया और इस तरह से देश मे जमींदारी प्रथा खत्म हुई।

पूर्व वार्ड पार्षद सह श्री चित्रगुप्त मन्दिर प्रबन्ध समिति के मोत्तवली दिनेश प्रसाद मुन्ना ने जयंती समारोह के मौके पर कायस्थ समाज की देश के विकास में योगदान के बारे में कहा कि स्व.के बी सहाय ने बिहार में सामाजिक क्रांति का आगाज किया था जिसका नतीजा हुआ कि वर्षों से समाज के दबे कुचले लोगो को समाज की मुख्यधारा में आने का अवसर मिला और बिहार से निकली सामाजिक क्रांति की गूंज देश भर में फैल गई।

श्री चित्रगुप्त आदि मन्दिर प्रबन्ध समिति, पटना सिटी के संयुक्त सचिव डॉ. सुरेन्द्र सागर ने कहा कि स्व. के बी सहाय ने आजादी के पूर्व जहां अंग्रेजों के खिलाफ बड़ी और निर्णायक लड़ाई लड़ी वही आजाद भारत के इतिहास में बिहार के मुख्यमंत्री रहते राज्य के सम्पूर्ण और सर्वांगीण विकास की लंबी लकीर खींची। मौके पर प्रो.ब्रजेश कुमार, डॉ.रमेश कुमार सिन्हा उर्फ कर्ण जी, वार्ड पार्षद धर्मेंद्र कुमार सिन्हा उर्फ भीम लाल, डॉ. सागर आनंद, डॉ. संदीप कुमार, कुमार गौतम, कुमार निर्मल उर्फ सुधीर जी, दीपक कुमार श्रीवास्तव, संटू सिन्हा, दिलीप कुमार सिन्हा, सुगम सहाय,डॉ. संजीव कुमार सिन्हा, यमुना प्रसाद, शशि भूषण श्रीवास्तव, राकेश श्रीवास्तव सहित कई थे। पूर्व मुख्यमंत्री के जयंती समारोह के बाद एक अन्य समारोह में मन्दिर प्रांगण में ही सभी ने पटना के पूर्व विधायक स्व.नवीन किशोर प्रसाद सिन्हा की पुण्यतिथि मनाई।

खबरें और भी हैं...