पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

वीकेएसयू:बॉयोमेट्रिक मशीन व कैमरा लगाने का काम अबतक नहीं हो सका पूरा

आरा7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • राजभवन ने बीएसईआईडी को दी थी जिम्मेवारी, जनवरी माह में पूरा होना था काम
  • वीकेएसयू में11.27 करोड़ रूपए राशि आवंटित की गई थी दोनों कामों के लिए

वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय अंतर्गत विभिन्न कॉलेजों में 11 करोड़ 26 लाख 50 हजार की लागत से कॉलेजों में बायाेमेट्रिक मशीन एवं सीसीटीवी कैमरा का कार्य धरातल पर पूरा नहीं हो सका। महाराजा कॉलेज के प्राचार्य डॉ नरेंद्र प्रसाद ने बताया कि बिहार आधार भूत संरचना लिमिटेड (बीएसइआइडी) के यह जिम्मेवारी सौंपी गई थी। कॉलेज परिसर में 16 सीसीटीवी कैमरा को लगाना था।

परन्तु अब तक उस कार्य को पूरा नहीं किया गया है। बताया कि सुरक्षा एवं परीक्षा की दृष्टि से जहां कैमरे की आवश्यकता थी। वहां पर एजेंसी के द्वारा नहीं लगाया जा रहा था। चयनित एजेंसी द्वारा पहले से जहां परिसर में सीसीटीवी कैमरा लगा हुआ है, वहीं पर कैमरा लगाया जा रहा था। जंतु विज्ञान, वनस्पति विज्ञान, भौतिकी, रसायनशास्त्र, अंग्रेजी, इतिहास, अर्थशास्त्र एवं बीसीए विभाग में सुरक्षा की दृष्टि से कैमरा लगाने की मांग की गई थी।

गौरतलब हो कि जनवरी माह में यह कार्य पूरा कर लेना था। परन्तु निर्धारित समय के भीतर यह कार्य पूरा नहीं किया गया। वीर कुंवर सिंह अंतर्गत कुछ ही अंगीभूत कॉलेजों में सीसीटीवी कैमरे को लगाया गया है। कॉलेजों पर शिकंजा कसने के लिए राजभवन ने सभी कॉलेजों में सीसीटीवी कैमरा व बायाेमेट्रिक मशीन लगाने का आदेश जारी किया था। ताकि राजभवन अपने यहां से खुद कॉलेजों की मॉनिटरिंग कर सके।
प्रत्येक कॉलेजों में लगाना था एक-एक यूनिट सीसीटीवी कैमरा
प्रत्येक यूनिट में 16 कैमरे के लिए राजभवन ने राशि आवंटित किया था। शिक्षक व विद्यार्थियों की उपस्थिति बढ़ाने को लेकर राजभवन ने कॉलेजों में सीसीटीवी एवं बायाेमेट्रिक मशीन लगाने का आदेश जारी किया था। जिसकी मॉनिटरिंग राजभवन खुद करने वाला था। शिक्षकों द्वारा बनायी गयी हाजिरी का ब्योरा ऑनलाइन ही राजभवन जाना था। ताकि कार्य में पारदर्शिता आए। मालूम हो कि बायाेमेट्रिक से उपस्थिति को लेकर हमेशा ही तकरार होती रही है। सूबे के कई विश्वविद्यालयों ने इसकी शिकायत राजभवन में भी किया था।

कॉलेजों पर सख्ती के लिए बनी थी योजना
राजभवन ने कॉलेजों पर शिकंजा कसने के लिए यह योजना बनाया था। राजभवन में कंट्रोल रूम बनाकर कॉलेजों की गतिविधियों पर नजर रखना था। जहां से सूबे के सभी विश्वविद्यालय के कॉलेजों की मॉनिटरिंग होनी थी। परन्तु यह कार्य धरातल पर नहीं उतर सका। महाराजा कॉलेज सहित अन्य काॅलेजाें में कैमरा नहीं लगा।

तबादला होने के बाद भी कर्मचारी ने नहीं किया योगदान, पूर्व सीनेटर ने कार्रवाई की मांग की
वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग के एक कर्मचारी का स्थानांतरण विश्वविद्यालय के एनएसएस विभाग में कर दिया गया है। इसकी अधिसूचना प्रबंधन ने 22 सितंबर 2020 को ही जारी कर दिया था। परन्तु कर्मचारी विश्वविद्यालय के आदेशों की अवहेलना करते हुए अब तक एनएसएस विभाग में अपना योगदान नहीं दिया है। एनएसएस पदाधिकारी डॉ राजीव कुमार ने बताया कि मेरे यहां हाल में अभी किसी कर्मचारी ने योगदान नहीं दिया है।

इधर, पूर्व सीनेटर अजय कुमार तिवारी मुनमुन ने बताया कि परीक्षा विभाग में लूट खसोट मचा हुआ है। कर्मचारी का स्थानांतरण होने के बाद भी कर्मचारी परीक्षा विभाग में कार्य कर रहा है। विभाग भी उससे कार्य ले रहा है। विश्वविद्यालय के आदेशों को अंगूठा दिखाते हुए एनएसएस विभाग में अपना योगदान नहीं दे रहा है। विश्वविद्यालय को ऐसे कर्मचारी पर संज्ञान लेना चाहिए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें