पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सांसद को पत्र भेजा:स्टेशन पर मधुबनी पेंटिंग हटा भोजपुर पेंटिंग लगाने की मांग

आरा18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

भोजपुरी चित्रकला को सम्मान और स्थान दिलाने को लेकर भाजपा भोजपुर कला एवं संस्कृति प्रकोष्ठ के संयोजक विनय बेलाउर ने आरा सांसद सह ऊर्जा मंत्री आरके सिंह को पत्र लिख अवगत कराया है। उन्होंने कहा की भोजपुरी केवल भोजपुर हीं नहीं बल्कि पूरे शाहाबाद की पहचान है,पूर्व मध्य रेलवे द्वारा भोजपुरी भाषी क्षेत्र आरा के रेलवे स्टेशन परिसर में चारों तरफ मधुबनी चित्रकला का अंकन किया जा रहा है। जिसपर स्थानीय संस्थाओं, कलाकारों एवं बुद्धिजीवियों द्वारा इस पर आपत्ति जताई गई है। भोजपुरी भाषी क्षेत्र में स्थानीय संस्कृति की उपेक्षा को संस्कृति का अपमान माना जा रहा है।

हमारा विरोध मधुबनी चित्रकला से नहीं, अपितु भोजपुरी भाषी रेलवे स्टेशनों पर भोजपुरी चित्रकला को स्थान और अवसर नहीं मिलने से है। भाजपा जिलाध्यक्ष प्रेमरंजन चतुर्वेदी ने कहा कि भोजपुरी में कोहबर चित्र,भोजपुरी अंचल के सामाजिक जीवन के संस्कार, उसमें निहित आंतरिक जीवन दर्शन तथा आदर्श मूल्यों का प्रभाव प्रत्यक्ष रूप से वहां की कलाओं पर विद्यमान हैं,वही भाजपा जिलामहामंत्री अभिषेक राय ने कहा कि चाहे सत्ता-

संस्कृति हो या बाजारवादी संस्कृति, दोनों की कोशिश लोक कला को परंपरा, धर्म व रूढ़ी की बेड़ियों में जकड़ कर एक दरबारी, रूढ़िवादी व सजावटी कला बना देने की रही है, जो कतई उचित नहीं है परन्तु हमारी सरकार एक संवेदनशील सरकार है जो इस पर विचार कर जरूर भोजपुर की जनता और भोजपुरी भाषा के हित में कोई उचित निर्णय लेगी।

खबरें और भी हैं...