खुशखबरी / रिंग सिस्टम से जुड़ेंगे पावर सब स्टेशन, मिलेगी राहत

Power sub station will be connected to the ring system, relief will be available
X
Power sub station will be connected to the ring system, relief will be available

  • बड़हरा, सरैंया, गीधा और भकुरा पावर सबस्टेशन के आपस में जुड़ने से कम होगी लोड शेडिंग

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 05:00 AM IST

आरा. भोजपुर जिले के बड़हरा, कोईलवर और आरा सदर प्रखंड में आने वाले चार पावर सब-स्टेशन (पीएसएस)  के 24  हजार उपभोक्ता के लिए बड़ी खुशखबरी है। बिजली कंपनी बड़हरा, सरैया, कोईलवर प्रखंड के गीधा और आरा सदर प्रखंड के पावर सब-स्टेशन को एक-दूसरे से जुड़ने के लिए रिंग सिस्टम पर तेजी से काम कर रही है। रिंग सिस्टम के चालू होने से चारों पावर सब-स्टेशन के उपभोक्ताओं को समुचित मात्रा में बिजली मिलने लगेगी।

इससे लो वोल्टेज के साथ बार-बार बिजली कटने की समस्या से भी लोगों को निजात मिल जाएगी। इन सब स्टेशनों को रिंग सिस्टम से जोड़ने के लिए साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी तेजी से इन क्षेत्रों में काम करवा रहा है। कार्य का दौर लगभग अंतिम चरण में है।

एक सप्ताह से लेकर 10 दिन के अंदर सभी कार्यों के पूरा हो जाने की संभावना है। कार्य पूरा होते ही सभी पावर सब-स्टेशनों को एक-दूसरे से जोड़ कर चालू कर दिया जाएगा। इस कार्य के लिए 11000 केवीए का लाइन बिछाने का कार्य कुछ स्थानों पर रह गया है। जिसे भीषण गर्मी को देखते हुए युद्ध स्तर पूरा किया जा रहा है।
ट्रांसफाॅर्मर व निर्माण  पर दो करोड़ खर्च होंगे

सरैंया में लगने वाले 5 एमवीए के ट्रांसफाॅर्मर लगाने के साथ बड़हरा, गीधा, सरैंया और बड़हरा पीएसएस को रिंग सिस्टम से जोड़ने में बिजली कंपनी को दो करोड़ की राशि खर्च आने की संभावना है। पांच एमवीए के ट्रांसफार्मर में ही एक करोड़ से ज्यादा की राशि खर्च होगी।

सरैंया पीएसएस में लग रहा बड़ा ट्रांसफाॅर्मर
सरैंया पीएसएस में हाल के दिनों में लगातार पावर लोड बढ़ने की समस्या को देखते हुए इससे छुटकारा पाने को यहां पर तीसरा पांच एमवीए का बड़ा ट्रांसफार्मर लगाया जा रहा है। इस ट्रांसफार्मर के लग जाने से यहां के चार फीडर समेत पूरे प्रखंड क्षेत्र के उपभोक्ताओं को लाभ मिलेगा।

नई व्यवस्था जल्द लागू होगी

सरैंया पीएसएस में पांच एमबीए का बड़ा ट्रांसफाॅर्मर लगाने के साथ चारों  फीडर को एक दूसरे से रिंग सिस्टम के द्वारा जोड़ने में लगभग एक सप्ताह का टाइम लगेगा। दोनों नई व्यवस्था को 10-15 दिनों के अंदर चालू करने का प्रयास किया जा रहा है।  -सहेंद्र कुमार, असिस्टेंट इंजीनियर, बिजली विभाग, बड़हरा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना