पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हिंदी दिवस पर गोष्ठी:गर्व से कहो कि हमलोग हिंदीभाषी हैं : बलिराज

आरा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हिंदी दिवस पर गोष्ठी को संबोधित करते प्रो. बलिराज ठाकुर। - Dainik Bhaskar
हिंदी दिवस पर गोष्ठी को संबोधित करते प्रो. बलिराज ठाकुर।
  • लोक चेतना मंच के बैनर तले हिंदी दिवस पर गोष्ठी

लोक चेतना मंच के बैनर तले हिंदी दिवस पर एक गोष्ठी हुई। अध्यक्षता प्रो. बलिराज ठाकुर ने की। उद्घाटन प्रो. बलिराज ठाकुर, प्रो. नंद जी दूबे, प्रो अयोध्या प्रसाद उपाध्याय और प्रो दिवाकर पांडेय ने संयुक्त रूप से मिलकर किया। प्रो बलिराज ठाकुर ने कहा कि ‘ गर्व से कहो कि हम हिंदी भाषी हैं‘।

नेता जी सुभाष चंद्र बोस ने कहा था कि देश के सबसे बड़े भू भाग में बोले जाने वाली हिंदी ही राष्ट्रभाषा पद की अधिकारिणी है। राष्ट्रीय व्यवहार में हिंदी को काम में लाना देश की शीघ्र उन्नति के लिए आवश्यक हैं । हिंदी स्वयं अपनी ताक़त से बढ़ी है और बढ़ती रहेगी। हिन्दी ने आजादी के आंदोलन की धार को तेज किया था।

यह राष्ट्रीय स्वाभिमान की भाषा है। विषय प्रवर्तन करते हुए प्रो दिवाकर पांडेय ने कहा कि वैश्विक प्रसार की दृष्टि से हिंदी अंग्रेज़ी से कम नहीं है। हिंदी सरलता, बोधगम्यता और शैली की दृष्टि से विश्व की भाषाओं में महानतम स्थान रखती हैं। पूर्व विभागाध्यक्ष प्रो अयोध्या प्रसाद उपाध्याय ने कहा कि अपने देश में हिंदी की इज़्ज़त नही होना चिंता का विषय है।

पूर्व विभागाध्यक्ष प्रो नंद जी दूबे ने कहा कि हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाना नही है वह तो राष्ट्रभाषा है ही। इधर पीरो में हिंदी दिवस के मौके पर टीएलसएम वर्ल्ड स्कूल के बच्चों ने भाषण, वर्तनी, व्याकरण प्रश्नोत्तरी, चित्रांकन आदि कई प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया। विद्यालय के निदेशक मंतोस कुमार सिंह ने बच्चों को हिंदी की महत्ता से अवगत कराया। कहा कि हिन्दी और हिन्दुस्तान हमारी पहचान है।

खबरें और भी हैं...