पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना इफेक्ट:बंद लिफाफे में जेल के भीतर पहुंचेगा बहनों का प्यार

आरा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • रक्षाबंधन पर जेल में बंद भाइयों की कलाई पर राखी नहीं बांध सकेंगी बहनें, मिलने पर लगी रोक

वैश्विक महामारी बन चुकी कोरोना ने इस बार रक्षाबंधन पर्व के दौरान जेल में बंद भाइयों को राखी बांधने से बहनों को भी रोक दिया है। इस कारण बंद लिफाफे में इस बार जेल के भीतर राखी के रूप में बहनों का प्यार भाइयों के लिए पहुंचेगा। इसके लिए बकायदा जेल प्रशासन ने जेल गेट के प्रवेश द्वार पर एक बैग की व्यवस्था कर दी है। इसी बैग में बहने अपने भाइयों के लिए बंद लिफाफे में राखी दे सकेंगी। बंद लिफाफे को जेल प्रशासन के द्वारा सैनिटाइज कर संबंधित भाइयों तक पहुंचा दिया जाएगा।

जेल के अंदर कोरोना वायरस का संक्रमण नहीं फैले इसे ले लॉकडाउन के बाद से ही जेल में कैदियों से मिलने पर रोक लगा दी गई है। इसी रोक के कारण इस बार कोई बहन जेल में बंद अपने भाई की कलाई पर राखी नहीं बांध सकती है। जेल प्रशासन के अनुसार अपने भाई को राखी देने के लिए बहनों को लिफाफे में नाम और पता साफ-साफ लिखने के साथ आधार कार्ड भी लगाना जरूरी होगा। नाम पता सही होने पर भाइयों के पास राखी पहुंचाने में किसी भी प्रकार की कोई परेशानी नहीं होगी। लिफाफे को रखने के लिए बैग को जेल गेट के प्रवेश द्वार पर जेल प्रशासन के द्वारा लगा दिया गया है।
मिठाई और खाद्य पदार्थ देने पर है पाबंदी
जेल में बंद भाइयों के लिए बहने केवल प्यार का प्रतीक राखी ही दे सकती है। उसके साथ मिठाई या खाद्य पदार्थ देने पर पूरी तरह से रोक है। मिठार्इयां या खाद्य पदार्थ को गेट पर ही लेने से तैनात सिपाही के द्वारा इंकार कर दिया जाएगा। ऐसा कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देख किया गया है।

रविवार को भी डाकिया करेंगे राखी की डिलिवरी
कोरोना संकट के बाद भी भोजपुर जिले का डाक विभाग बहनों का इस बार विशेष ध्यान रख रहा है। भोजपुर सह बक्सर के डाक अधीक्षक सीधेश्वर कुमार ने बताया कि रविवार के दिन अवकाश रहने के बाद भी राखियों को भाइयों के पास पहुंचाया जाएगा। वही तीन अगस्त को रक्षाबंधन के दिन भी राखियों की डिलिवरी होगी।

पहले सैकड़ों बहनें जेल पहुंच बांधती थीं राखी
रक्षाबंधन के अवसर पर हर वर्ष सैकड़ों बहनें जेल गेट के पास अपने भाइयों से मुलाकात कर उसकी कलाई पर राखी बांधती थी। इस बार भाई बहनों के प्रेम के बीच कोरोनावायरस ने खलल डालते हुए दोनों को एक दूसरे से मिलने पर रोक लगा दी है। इस रोक के कारण सैकड़ों बहनें इस बार अपने भाई से नहीं मिल सकती है।

अधीक्षक बोले; केवल राखियां ही कैदियों के पास पहुंचाई जाएंगी
जेल में बंद किसी भी कैदी से मिलने पर इस बार रोक है। रक्षाबंधन को देखते हुए बहनों के द्वारा दिए गए केवल राखी को भाइयों तक पहुंचाया जाएगा। इसके लिए जेल गेट के प्रवेश द्वार पर बैग की व्यवस्था कर दी गई है। -युसूफ रिजवान, जेल अधीक्षक, आरा

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें