कार्यक्रम:पुण्यतिथि पर याद किए गए समाजसेवी डाॅ. सच्चिदानंद

आरा9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

युवा चित्रांश वाहिनी व अखिल भारतीय कायस्थ महासभा भोजपुर के तत्वावधान में बिहार निर्माता सच्चिदानंद सिन्हा की पुण्यतिथि मनायी गई। अध्यक्षता अतुल प्रकाश व संचालन संयोजक सचिन कुमार ने किया। सर्वप्रथम डॉ सिन्हा के तैल्य चित्र पर माल्यार्पण एवं पुष्पांजलि से कार्यक्रम प्रारंभ हुआ। मुख्य वक्ता दिनेश प्रसाद सिन्हा ने डा सच्चिदानंद सिन्हा के जन्म स्थान मोड़ा चौराहे से लेकर वेरी श्री पास करने बिहार- बंगाल और उड़ीसा से बिहार को अलग राज्य बनाने, सिन्हा लाइब्रेरी खुदाबख्श लाइब्रेरी बिहार विधान सभा, विधान परिषद, शिक्षा परिषद तथा एयरपोर्ट की जमीन को दान देने वाले पटना विश्वविद्यालय के कुलपति संविधान निर्मात्री समिति का अध्यक्ष बनना यह इनके जीवन की अद्भुत विशेषताएं रही है। ऐसे ज्ञानपुर विद्वान सिन्हा को इस पुण्यतिथि पर कोटि-कोटि नमन है।

प्रो सच्चिदानंद सहाय ने कहा कि डॉ सिन्हा शिक्षा जगत से लेकर स्वतंत्रता आंदोलन तक तथा राष्ट्रीय परिप्रेक्ष्य में अपनी काबिलियत और जनहित में राष्ट्रहित में कार्य करने वाले डॉक्टर सिन्हा को हमेशा याद किया जाएगा।प्रो सहाय ने कहा कि अगर मेडिकल कॉलेज बनता है तो डॉ सच्चिदानंद सिन्हा के नाम पर बनना चाहिए । यह जिला उनका पैतृक जन्मस्थली रहा है। मौके पर अंशु कुमार, चंदन जी, प्रदीप कुमार, दिलीप कुमार सिन्हा, दिनेश मुन्ना, ओम प्रकाश श्रीवास्तव सहित कई थे।

खबरें और भी हैं...