पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जिलेवासियों के लिए बड़ी खुशखबरी:जीरो माइल न्यू विश्वविद्यालय परिसर में शुरू हुई मिट्टी जांच

आरा11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

भोजपुर जिलेवासियों के लिए बड़ी खुशखबरी है। दशकों वर्ष पुरानी उनकी मांग आरा में चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल (मेडिकल कॉलेज/अस्पताल) बनाने की पूरी होने वाली है। कॉलेज/अस्पताल का भवन बनाने के लिए डीपीआर बनने वाला है। डीपीआर बनाने के पहले पटना से बिहार सरकार के द्वारा बिहार मेडिकल सर्विसेज एंड इंफ्रास्ट्रक्चर की टीम को मिट्टी जांच करने के लिए आरा भेजा गया है।

तीन सदस्यों वाली टीम ने सोमवार को शहर से सटे उदवंतनगर थाना क्षेत्र के जीरोमाइल स्थित न्यू विश्वविद्यालय परिसर में मेडिकल कॉलेज एंड अस्पताल बनाने के लिए मिट्टी जांच शुरू कर दी है। बिहार मेडिकल सर्विसेज एंड इंफ्रास्ट्रक्चर के आलोक कुमार, श्रीकांत कुमार और आशीष कुमार आवंटित जमीन पर मिट्टी जांच का कार्य कराने लगे हैं।

पटना से आई टीम के वरीय सदस्य आलोक कुमार ने बताया कि मिट्टी जांच का कार्य कई दिनों तक चलेगा। इस दौरान कॉलेज एंड अस्पताल के लिए मिले 25 एकड़ से ज्यादा जमीन में 10 से ज्यादा स्थानों पर मिट्टी जांच की जाएगी। मिट्टी जांच करने के दौरान किसी प्रकार की कोई समस्या ना हो इसे लेकर सदर एसडीओ लाल ज्योति नाथ शाहदेव के द्वारा बड़हरा के प्रखंड कल्याण पदाधिकारी संजय कुमार और उदवंतनगर के सहायक अवर निरीक्षक निसार खा को मजिस्ट्रेट व पुलिस अफसर के रूप में तैनात किया गया था। वरीय मजिस्ट्रेट में उदवंतनगर अंचलाधिकारी शैलेंद्र कुमार अपने अंचल अमीन के साथ मौजूद थे।

जानिए: क्यों हो रही है मिट्टी की जांच
मेडिकल कॉलेज बनाने के लिए डीपीआर बनने वाला है। डीपीआर बनाने के पहले मिट्टी की जांच करनी जरूरी होती है। 10 से ज्यादा स्थानों से मिट्टी का नमूना जमीन के अंदर लगभग 30 फीट से ज्यादा होल करके नीचे से निकाला जाता है।

इस कारण वहां पर एक मंजिला, दो मंजिला, चार मंजिला या पांच मंजिला या उससे ज्यादा का भवन तैयार किया जा सकता है। भविष्य में ज्यादा ऊंचाई का भवन बनाने से भी किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं होगी।

इस वर्ष के अंत से शुरू हो सकता है निर्माण
जीरोमाइल स्थित विश्वविद्यालय परिसर में मिट्टी जांच शुरू होने के बाद लोगों में विश्वास एक बार फिर जग गया है, कि अब मेडिकल कॉलेज अस्पताल का निर्माण यहीं पर होगा। सब कुछ सही रहा तो इस वर्ष के अंत तक मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। मालूम हो बिहार सरकार ने पहले ही चरण में 525 करोड़ रुपए मेडिकल कॉलेज अस्पताल बनाने के लिए मंजूरी दे दी है।

खबरें और भी हैं...