सड़क दुर्घटना:ट्रैक्टर की चपेट में आकर परीक्षार्थी की गई जान, स्कॉलरशिप की परीक्षा देने पटना जा रहा था

कोईलवर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • चांदी-कोईलवर पथ पर हुआ हादसे का शिकार

चांदी-कोईलवर पथ पर धन्डीहा उच्च विद्यालय के समीप तेज रफ्तार ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार युवक गंभीर जख्मी हो गये। जिसमें एक को इलाज के लिए पीएमसीएच ले जाने के क्रम में मौत हो गयी। मृतक लवकुश चांदी थाना क्षेत्र के जोगता रामडीहल टोला निवासी सतेंद्र यादव का 18 वर्षीय पुत्र था। घायल उत्पलकांत उदवंतनगर थाना के घोड़पोखर निवासी रामाज्ञा सिंह का 24 वर्षीय पुत्र है।

जिनका इलाज पीएचसी कोईलवर में चल रहा है। मिली जानकारी के अनुसार रविवार की सुबह उत्पलकांत अपनी पत्नी के भाई लवकुश को स्कॉलरशिप का परीक्षा दिलाने बाइक से पटना जा रहे थे। इस बीच चांदी-कोईलवर पथ पर धन्डीहा उच्च विद्यालय के समीप पीछे से आ रही बालू लोड ट्रैक्टर ने धक्का मार दिया। जिससे बाइक सवार दोनों गिर घायल हो गये।

स्थानीय लोगों की मदद से घायल को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कोईलवर इलाज के लिए ले जाया गया। जिसमें लवकुश की स्थिति चिंताजनक देख डॉक्टर ने प्राथमिक उपचार के बाद पीएमसीएच रेफर कर दिया। जिसे पटना ले जाने के क्रम में बिहटा में मौत हो गयी। इधर घटना में एक युवक की मौत की सूचना मिलते ही रामडीहल टोला में चीत्कार मच गया।

परिजन कोईलवर अस्पताल पहुँचे। कोईलवर पुलिस पीएचसी पहुँच शव को कब्जे में पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल आरा ले गई। घटना के बाद मृतक लवकुश की माँ श्रद्धा देवी के साथ दो बहन पुष्पा व निशु का रो रोकर बुरा हाल है। बड़ा भाई रामकिशुन भी छोटे भाई के असमय छोड़ चले जाने से बेसुध था।

ट्रैक्टर से आये दिन होते रहते हैं हादसे

मालूम हो कि बालू लोड तेज रफ्तार ट्रैक्टर से आये दिन घटनाएं होती रहती है। लेकिन ट्रैक्टरों के तेज रफ्तार पर प्रशासन द्वारा कोई नकेल नहीं कसा जा रहा है। सारण जिला से प्रतिदिन सैकडों ट्रैक्टर बालू लोडिंग के लिए भोजपुर के धन्डीहा, फरहंगपुर, जमालपुर, राजापुर, मानाचक बालू घाट पर पहुंचते है। जिन चालकाें के पास ना कोई कागजात होते हैं, ना ही ड्राइविंग लाइसेंस होते है। यह सब जानते हुए भी पुलिस प्रशासन मौन रहती है। और आमलोगों की सड़क दुर्घटनाएं में मौत होती रहती है।

खबरें और भी हैं...