• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Ara
  • This Time In Shardiya Navratri, Worship Pandals Will Be Built At All The Major Squares And Squares Of The City, Virajengi Maa Jagdamba

पूजा पंडाल:इस बार शारदीय नवरात्रि में शहर के सभी प्रमुख चौक-चौराहों पर बनेगा पूजा पंडाल, विराजेंगी मां जगदंबा

आरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सर्किट हाउस के समीप नजर आएगा दक्षिण भारत का शृंगेरी मठ की तर्ज पर मां दुर्गा का पंडाल, दूर-दराज इलाके से दर्शन को आएंगे श्रद्धालु

इस बार शारदीय नवरात्रि में आरा शहर के चौक-चौराहों पर जगत जननी मां जगदंबा की मूर्ति व दुर्गा की प्रतिमा स्थापित होंगी। जगह-जगह भव्य पंडाल भी पूजा कमिटी के सदस्यों के द्वारा बनाएं जा रहे है। पकड़ी चौक दुर्गा पूजा समिति के द्वारा सर्किट हाउस के समीप दक्षिण भारत का शृंगेरी मठ की तर्ज पर आठ लाख की लागत से भव्य पंडाल बनाने में पकड़ी के कारीगर डा सोनू अपने सहयोगियों के साथ दिन-रात जुटे हुए है।

पंडाल का स्वरुप तैयार किया जा रहा है। मां दुर्गा की प्रतिमा को बनाने में मौलाबाग के मूर्तिकार दिनेश लगे हुए है। पंडाल की भव्यता दुर से ही नजर विशेष लाइटिंग के साथ नजर आएगी। लगभग दो दर्जन से अधिक कमिटी के सदस्य वॉलेंटियर के रुप में पंडाल व उसके आसपास तैनात रहेंगे।

पंडाल 75 फीट लंबा व 51 फीट चौड़ा बनाया जा रहा है। पहले की अपेक्षा भव्य पंडाल होगा। साउंड एंड लाइट डीके लाइट के जिम्मे है। 1983 से भव्य पंडाल बनाए जाते आ रहे है। कई बार जिला प्रशासन के द्वारा पंडाल को पुरस्कृत भी किया जा चुका है। पहले पूजा पंडाल पकड़ी चौक पर ही बनाया जाता था, लेकिन आमलोगों को परेशानी न हो उसका ध्यान रखते हुए पंडाल का निर्माण सर्किट हाउस के समीप किया जा रहा है।

रोशनी के लिए पंडाल से लेकर सड़क तक की जा रही लाइट की व्यवस्था
रोशनी के लिए पकड़ी से लेकर जजकोठी मोड़ व पुराना होमगार्ड ऑफिस के ट्रांसफार्मर के पास तक लाइटिंग की व्यवस्था रहेगी। पकड़ी-गिरजा मोड़ सड़क तक लाइटिंग किया जाएगा। अध्यक्ष अभिषेक सौरव व उपाध्यक्ष कुमार गौरव ने बताया कि जिला प्रशासन के द्वारा दिए गए कोविड-19 के निर्देशों का अक्षरस: पालन किया जाएगा।

पुरुष व महिलाओं के लिए अलग-अलग आने व जाने का रास्ता रहेगा। कमिटी के सदस्य सड़क से लेकर पंडाल तक भक्तों की सेवा में लगे रहेंगे। बता दें कि काफी संख्या में पकड़ी, महाराजा हाता, मदन जी का हाता, कतीरा सहित अन्य इलाकों से भक्त इस इलाके में मां दुर्गे की प्रतिमा का भव्य पंडाल देखने के लिए आते हैं।

सात साल के बाद पकड़ी चौक पर स्थापित की जा रही प्रतिमा
2014 के बाद पकड़ी चौक पर मूर्ति की स्थापना नहीं हो रही थी। पिछले साल 2020 में पंडाल निर्माण का निर्णय लिया गया, लेकिन कोरोना के कारण संभव नहीं हो सका। बीते वर्ष कोरोना को देखते हुए घर में ही लोग पूजा-अर्चना कर रहे थे। अब इस साल पंडाल बनने से लोग उत्साहित नजर आ रहे हैं। इतने दिनों के बाद लोग पंडाल में मां दुर्गा का दर्शन करने अब आएंगे। 2019 में पकड़ी चौक के समीप मौला बाग जाने वाले रास्ते में पंडाल वह मूर्ति का स्थापना किया गया था।

खबरें और भी हैं...