पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

दर्दनाक:कलेक्ट्रेट तालाब में डूब रही मां को बचाने के लिए 14 साल का बेटा भी तालाब में कूदा, दोनों की मौत

आरा7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
तालाब से शव निकालते एनडीआरएफ के जवान।
  • रमना मैदान में खुले आकाश के नीचे रहता है परिवार

वीर कुंवर सिंह रमना मैदान में खुले आसमान तले गुजर- बसर करने वाले एक परिवार के मां-बेटे की मौत बगल के कलेक्ट्रेट तालाब में डूबने से हो गई। यह घटना मंगलवार रात हुई। जब 45 वर्षीय बौनी देवी अपने 14 वर्षीय बेटे सोमारू को शौच कराने कलेक्ट्रेट तालाब की तरफ ले गई। उसी दौरान पैर फिसलने से बोनी पानी में गिर गई। यह देख सोमारू भी अपनी मां को बचाने के लिए पानी में कूद पड़ा।

इस दौरान दोनों डूब गए। दोनों का शव एक के बाद एक बुधवार को एनडीआरएफ के तलाशी अभियान के बाद तालाब से निकाला गया। घटना नवादा थाना क्षेत्र मे कलेक्ट्रेट तालाब में हुई। सूचना मिलने पर आरा अंचल के सीओ प्रवीण कुमार, नवादा के थानाध्यक्ष संजीव कुमार घटना-स्थल पर पहुंचे।

पीड़ित परिवार मूलतः गड़हनी प्रखंड में पवनी चंदा गांव का निवासी है। मृत बौनी देवी के पति मड़ई मुसहर ने बताया कि हमलोग रमना मैदान में खुले आकाश के नीचे रहते है। गर्मी के कारण जेपी स्मारक मुक्त मंच पर रात में बच्चों के साथ सोते थे।

मंगलवार की रात में बड़े बेटे 14 वर्षीय सोमारु को शौच कराने बौनी ले गई। इसी में पैर फिसला और पानी में डूब गई। इसको डूबता देख सोमारु भी पानी में कूद गया और वह भी डूब गया। बुधवार की सुबह बौनी देवी के शव को पानी से निकाला गया। बेटा सोमारु के शव का पता नहीं चला। इस बीच बुधवार को शव तलाशी के लिए बड़हरा से एनडीआरएफ बुलाई गई। सुबह 11:30 बजे सोमारे का भी शव मिल गया। उसके बाद शव पोस्टमाॅर्टम कराया गया।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में रहेगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा। पिछले कुछ समय से चल रही किसी समस्या का समाधान मिलने से राहत मिलेगी। कोई बड़ा निवेश करने के लिए समय उत्तम है। नेगेटिव- परंतु दोपहर बाद परिस...

और पढ़ें