पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मनोनयन:वीकेएसयू के अंगीभूत कॉलेजों में यूआर का नहीं हुआ है मनोनयन

आरा24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय अंतर्गत अंगीभूत कॉलेजों में पिछले वर्ष से यूआर (विश्वविद्यालय प्रतिनिधि) का मनोनयन नहीं किया गया। जिसका असर महाविद्यालयों के कामकाज पर पड़ रहा है। हाल के दिनों में विश्वविद्यालय ने अपने अंतर्गत संबद्ध कॉलेजों पर नजर रखने के लिए यूआर का मनोनयन तो कर दिया परंतु अंगीभूत कॉलेजों की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए यू आर का मनोनयन नहीं किया गया है। पिछले वित्तीय वर्ष से ही अंगीभूत कॉलेजो में यू आर का मनोनयन नहीं हुआ है। नए वित्तीय वर्ष में भी अंगीभूत कॉलेजो में यू आर के मनोनयन को लेकर कोई गतिविधि नजर नहीं आ रही है।

जानकार बताते हैं कि सीनेट एवं सिंडिकेट की बैठक में अंगीभूत कॉलेजों की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए यू आर की नियुक्ति करने का निर्णय लिया गया था। प्रतिवर्ष कुलपति के अनुमोदन पर वरीयता के आधार पर शिक्षकों की नियुक्ति विभिन्न महाविद्यालयों में यू आर के तौर पर की जाती रही है। प्रभारी कुलपति प्रोफेसर राजेंद्र प्रसाद ने बताया कि अंगीभूत कॉलेजों में यू आर की नियुक्ति पिछले वित्तीय वर्ष में क्यों नहीं किया गया है।

इस पार अधिकारियों से बात की जाएगी। यू आर के मनोनयन को लेकर जो समस्या आ रही है उसका समाधान किया जाएगा। यू आर के फाइल को मंगाकर उसका अध्ययन किया जाएगा । गौरतलब हो कि वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय अंतर्गत भोजपुर, बक्सर, रोहतास एवं कैमूर जिले में 17 अंगीभूत कॉलेज है। जहां पर यू आर का मनोनयन किया जाना है।

यूआर का चयन नहीं होने से कार्य पर पढ़ रहा है असर
अंगीभूत कॉलेजों में यू आर की नियुक्ति नहीं होने से विकास के कार्य पर असर पड़ रहा है। यू आर डेवलपमेंट कमिटी की बैठक में सदस्य होता है। यह विश्वविद्यालय का प्रतिनिधित्व करता है। यूजीसी एवं बिहार सरकार से आने वाले ग्रांट को खर्च करने के लिए यू आर की सहमति लेनी पड़ती है।

कॉलेजों की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए यूआर का किया जाता है चयन
कॉलेजों की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए विश्वविद्यालय यूआर का चयन करता है। यूआर की यह जिम्मेवारी होती है कि कॉलेजों में जो समस्या आ रही है साथ ही जो भी नियम विरूद्ध कार्य हो रहे है उसकी सूचना विश्वविद्यालय को दी जाए ताकि उस पर लगाम लगाई जा सके। कॉलेज संचालन के लिए जो निर्णय लिए जाते है उसमें यूआर की सहमती होती है। किसी प्रकार की गड़बड़ी रहने पर विश्वविद्यालय को अवगत इनके द्वारा कराया जाता है।

खबरें और भी हैं...