वीकेएसयू / विवि में बेहतर कार्य करने वाले स्वयंसेवक व कार्यक्रम पदाधिकारियों का होगा सम्मान

Volunteers and program functionaries doing better work in the university will be honored
X
Volunteers and program functionaries doing better work in the university will be honored

  • विवि के कार्यक्रम पदाधिकारी ने 8 जून तक कॉलेजों से स्वयंसेवकों का चयन कर मांगी सूची
  • सभी कॉलेजों को कमिटी बनाकर स्वयंसेवकों का चयन करने का दिया गया निर्देश

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 05:00 AM IST

आरा. एनएसएस में बेहतर कार्य करने वाले स्वयंसेवक एवं कार्यक्रम पदाधिकारी को भारत सरकार युवा एवं खेल मंत्रालय सम्मानित करेगा। वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ राजीव कुमार ने बताया कि वर्ष 2018-19 के लिए भारत सरकार युवा एवं खेल मंत्रालय ने बेस्ट स्वयंसेवक एवं बेस्ट कार्यक्रम पदाधिकारी की सूची मांगा है। इसके आलोक में पत्र जारी करते हुए सभी महाविद्यालय को अपने महाविद्यालय में कमेटी बनाकर बेहतर कार्य करने वाले स्वयंसेवक एवं कार्यक्रम पदाधिकारी का चयन कर रिपोर्ट देने को कहा गया है।

इसके लिए  8 जून तक का समय दिया गया है। उन्होंने बताया कि प्रत्येक कॉलेज से एक-एक  छात्र-छात्रा एवं एक कार्यक्रम पदाधिकारी का चयन किया जाएगा। इसके बाद विश्वविद्यालय प्रबंधन द्वारा सभी कॉलेज से आए हुए आवेदनों पर कमेटी द्वारा विचार किया जाएगा। स्वयंसेवकों के क्रिया-कलाप एवं सर्टिफिकेट के आधार पर दो स्वयंसेवक (छात्र-छात्रा) एवं एक कार्यक्रम पदाधिकारी का चयन होगा। इसकी सूची बिहार सरकार के युवा एवं खेल मंत्रालय को भेजा जाएंगा।

वहां पर भी सूबे के सभी विश्वविद्यालय से आए हुए स्वयंसेवकों की योग्यता के आधार पर दो स्वयंसेवक एवं एक कार्यक्रम पदाधिकारी का चयन किया जाएगा। जिसका लिस्ट भारत सरकार एवं युवा खेल मंत्रालय को भेजा जाएगा। ताकि उस स्वयंसेवक को सम्मानित किया जा सके। वर्ष 2018-19 में उत्कृष्ट प्रदर्शन वाले को पुरस्कृत किया जा सके। मालूम हो कि स्वयंसेवकों का चयन उनके पूर्व में किए गए क्रिया-कलापों के आधार पर होगा।

सूचना आयोग ने यूजीसी को सूचना उपलब्ध कराने को कहा
केंद्रीय सूचना आयोग ने यूजीसी को दो सप्ताह के भीतर आवेदक को सूचना उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। 26 मई को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के तहत केंद्रीय सूचना आयोग ने लॉकडाउन में आरटीआई के तहत मांगे गए जवाब की सुनवाई कीं। आवेदक को पूरी जानकारी उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। मामला वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय से जुड़ा हुआ है। आवेदक पूर्व सीनेटर अजय कुमार तिवारी मुनमुन ने बताया कि यूजीसी से 10 वीं,11 वीं और 12 वीं पंचवर्षीय योजना के बारे में रिपोर्ट और उपयोगिता प्रमाण- पत्र की जानकारी मांगी गई थी। प्रथम अपील में कोई जानकारी नहीं मिलने पर द्वितीय अपील में केंद्रीय सूचना आयोग का दरवाजा खटखटाया गया था। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना