व्यवस्था / शिक्षक, कर्मचारी और छात्रों की हाजिरी के लिए बायोमिट्रिक लगाने का काम शुरू

Work of biometrics started for the attendance of teachers, staff and students
X
Work of biometrics started for the attendance of teachers, staff and students

  • बीएसईआईडी के कर्मी बोले- 10 जुलाई तक सभी अंगीभूत कॉलेजों में लग जाएगा बायोमिट्रिक मशीन

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

आरा. शिक्षक, कर्मचारी एवं छात्रों की उपस्थिति पर अब राजभवन नजर रखेगा। इसको लेकर पहल शुरू कर दिया गया है। कॉलेजों में बायाेमेट्रिक मशीन लगाया जा रहा है। बिहार आधार भूत संरचना लिमिटेड (बीएसईआईडी) को इसके लिए जिम्मेवारी सौंपा गया है। पुरुषोत्तम कुमार ने बताया कि 10 जुलाई तक वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय अंतर्गत सभी अंगीभूत कॉलेजों में बायाेमेट्रिक मशीन लगा दिया जाएगा। अब तक  छह अंगीभूत कॉलेजों में बायाेमेट्रिक मशीन लग गया है। इनमें एचडी जैन कॉलेज, महंत महादेवानंद महिला कॉलेज, एसबी कॉलेज, जगजीवन कॉलेज एवं एसभीपी कॉलेज भभुआ शामिल है।

कोरोना महामारी की वजह से कुछ महीनों के लिए कार्य ठप कर दिया गया बंद था। अब फिर से कार्य को शुरू कर दिया गया है। मालूम हो कि नए सिरे से राजभवन कॉलेजों में बायाेमेट्रिक मशीन लगा रहा है। जिसकी मॉनिटरिंग खुद राजभवन करेगा। कुलसचिव कर्नल श्यामानंद झा ने बताया कि वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय अंतर्गत विभिन्न कॉलेजों में 11 करोड़ 26 लाख 50 हजार की लागत से कॉलेजों में बायाेमेट्रिक मशीन एवं सीसीटीवी कैमरा लग रहा है।

उच्च शिक्षा की क्वालिटी में सुधार लाने के लिए राजभवन ने सूबे के सभी विश्वविद्यालय को इससे जोड़ने की पहल की है। गौरतलब हो कि जनवरी माह से ही यह कार्य शुरू होना था। निर्धारित समय पर कार्य शुरू नहीं पर राजभवन ने एजेंसी को फटकार लगाया था।
उपस्थिति बढ़ाने को लेकर राजभवन की ओर से शुरू की गई नयी पहल
शिक्षक व विद्यार्थियों की उपस्थिति बढ़ाने को लेकर राजभवन ने कॉलेजों में बायाेमेट्रिक मशीन लगाने का आदेश जारी किया है। जिसकी मॉनिटरिंग राजभवन खुद करेगा। शिक्षकों द्वारा बनायी गयी हाजिरी का ब्योरा ऑनलाइन ही राजभवन चला जाएगा। इससे कार्य में पारदर्शिता आएगी। गौरतलब हो कि बायाेमेट्रिक से उपस्थिति को लेकर हमेशा ही तकरार होती रही है।

सूबे के कई विश्वविद्यालयों ने इसकी शिकायत राजभवन में भी किया था। अब राजभवन स्वयं ऑनलाइन बायाेमेट्रिक पर नजर रखेगा। इसके लिए राजभवन में एक कंट्रोल बनाया गया है। जहां से सूबे के सभी विश्वविद्यालय के कॉलेजों की मॉनिटरिंग होगी। शिक्षक, कर्मचारी व विद्यार्थियों की सारी गति-विधियों पर अब राजभवन का नजर रखेगा।

प्रत्येक कॉलेज में दाे-दो मशीन लग रहे हैं
बीएसइआइडी के पुरुषोत्तम कुमार ने बताया कि प्रत्येक कॉलेज में दो बायाेमेट्रिक मशीन लगाया जा रहा है। एक मशीन की कीमत लगभग 16 हजार 800 रुपए पड़ रही है। इसमें  शिक्षक, कर्मचारी एवं विद्यार्थियों का अंगूठा एवं चेहरा दोनों स्कैन होता है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना