गोहचक मोड़ पर हादसा:दिल्ली से कमाकर दिवाली में घर लौटे युवक की सड़क हादसे में मौत, आक्रोशितों का हंगामा

अतरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

थाना क्षेत्र के माफा निवासी मंटू कुमार (30) की मौत गुरुवार यानी दिवाली की शाम सड़क दुर्घटना में हो गई। बताया जाता है कि मृतक मंटू कुमार गुरुवार को ही दिल्ली से अपने घर माफा गांव आया था। दिवाली त्योहार होने के कारण मृतक अपने बड़े बेटे शिवम (7 वर्ष) को साथ लेकर घर का सामान खरीदने के लिए टेउसा बाजार गया था। बाजार से घर वापसी के क्रम में टेउसा अतरी सड़क मार्ग पर गोहचक मोड़ के समीप वह अज्ञात वाहन की चपेट में आ गया। जिससे उसकी मौत घटना स्थल पर ही हो गई। गांव वालों को दुर्घटना की सूचना आने जाने वाले वाहनों के द्वारा मिली।

सूचना मिलते ही गांव के सभी लोग घटनास्थल पहुंचे। ग्रामीणों ने शव की पहचान की इसके बाद उसके घरवालों को सूचना दी। साथ ही ग्रामीणों ने तत्काल इसकी सूचना अतरी थाना को दी। अतरी पुलिस घटनास्थल पहुंचकर शव को अपने कब्जे में लेकर थाने ले आई।

रोड जाम की मुआवजे की मांग
शुक्रवार की सुबह में शव को पोस्टमार्टम के लिए अतरी पुलिस द्वारा मेडिकल कॉलेज गया भेजा जा रहा था। चूंकि शव को लेकर उसी रास्ते से जाना था तो ग्रामीणों और परिजनों ने माफा गांव के पास मुआवजे की मांग को लेकर शव को सड़क पर रखकर जाम कर दिया। सड़क जाम किए जाने की सूचना पाकर फिर अतरी पुलिस जाम स्थल पहुंची लेकिन सड़क जाम कर रहे लोग मुआवजे की मांग पर अड़े थे। अतरी पुलिस द्वारा मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम किए जाने की सूचना स्थानीय प्रशासन को दी गई। हांलाकि घटना की सूचना गुरुवार को ही अतरी बीडीओ क्रांति कुमार व सीओ मिठू प्रसाद को दे दी गई थी। अतरी बीडीओ ने सड़क जाम होने के बाद नाजिर को मृतक के घर भेजकर बीस हजार रुपए का पारिवारिक लाभ की राशि का चेक दिया।

रोड जाम रहने से आमलोगों को हुई काफी परेशानी
स्थानीय ग्रामीणों ने कहा कि यह राशि गुरुवार को उसके परिजन को दे दी गई होती तो सड़क जाम की नौबत नहीं आती। करीब 4 घंटे तक लोगों ने मुआवजे को लेकर सड़क जाम रखा जिसके कारण आमलोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। सहायता राशि का चेक मृतक के परिजन को देकर अतरी पुलिस द्वारा सड़क जाम समाप्त कराया तथा शव को पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कॉलेज गया भेज दिया गया। मृतक मंटू कुमार का परिवार बेहद गरीब है। बाहर रहकर मेहनत मजदूरी कर अपने परिवार का भरण पोषण कर रहा था। मंटू कुमार की मौत से उसका घर ही उजड़ गया। परिवार में मृतक की पत्नी के अलावे दो छोटे छोटे बच्चे हैं। बड़े बेटे शिवम की उम्र 7 वर्ष व छोटे बेटे शुभम की उम्र 2 वर्ष है। पत्नी का रो रोकर बुरा हाल हो चुका है।

खबरें और भी हैं...