पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हिंदी दिवस:जिला मुख्यालय के साथ-साथ विभिन्न प्रखंडों में हिन्दी दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया

औरंगाबाद9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हिन्दी दिवस पर सम्मानित करते - Dainik Bhaskar
हिन्दी दिवस पर सम्मानित करते
  • हमें कोशिश करनी चाहिए कि बोलने और लिखने में शुद्ध हिंदी का प्रयोग करें
  • विचार गोष्ठी में हिन्दी भाषा की महत्ता पर दिया गया विशेष जोर

अपनी मातृभाषा हिन्दी पर हमें गर्व हैं। यह भाषा अनेकता में एकता का प्रतीक है। उक्त बातें जिले में हिन्दी दिवस पर आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कही। जिला मुख्यालय से लेकर प्रखंड मुख्यालयों में हिन्दी दिवस पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। दाउदनगर अनुमंडल कार्यालय सभाकक्ष में अनुमंडल प्रशासन के द्वारा हिन्दी दिवस पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया।

जिसमें हिंदी भाषा के महत्व पर प्रकाश डाला गया। संगोष्ठी की अध्यक्षता एसडीओ कुमारी अनुपम सिंह व संचालन अपर एसडीओ प्रियव्रत रंजन ने किया। एसडीओ ने कहा कि अपनी मातृभाषा पर हमें गर्व है। हमें कोशिश करनी चाहिए कि बोलने और लिखने में शुद्ध हिंदी का प्रयोग करें।

बच्चों के मन में यह संस्कार उत्पन्न करें कि हमारी हिंदी भाषा समृद्ध भाषा है। डीसीएलआर संजय कुमार व अवर निर्वाचन पदाधिकारी वीरेंद्र कुमार ने कहा कि दुनिया के सर्वाधिक बोलचाल की भाषा हमारी हिंदी भाषा है। जिस पर हमें गर्व होना चाहिए।

अन्य वक्ताओं ने कहा कि हिंदी को जनमानस की भाषा बनाने के लिए अपनी सहभागिता सुनिश्चित करने का हम सभी को संकल्प लेना चाहिए। इस मौके पर प्रधानाध्यापक मो. सईद अहमद, अनुमंडल कार्यालय के प्रधान सहायक रामप्रवेश यादव समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

आज हिंदी भाषा पढ़ने वालों की संख्या अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बढ़ गई है
सदर प्रखंड स्थित संस्कृत महाविद्यालय परिसर में जनेश्वर विकास केंद्र व जन विकास परिषद के संयुक्त तत्वावधान में हिंदी सप्ताह समापन कार्यक्रम के तहत हिंदी दिवस समारोह धूमधाम से मनाया गया। अध्यक्षता पूर्व प्राचार्य सूर्यपत सिंह ने किया। हिंदी दिवस के मौके पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया।

जबकि, स्वागत भाषण समाजसेवी रामजी सिंह ने किया । हिंदी भाषा में विशेष योगदान देने वाले हिंदी सेवियों को पुष्पहार एवं शॉल देकर सम्मानित किया गया। उमगा प्रकाशन संचालन में विशेष योगदान निभाने वाले पत्रकार प्रेमेंद्र मिश्रा, पत्रकार राजेंद्र पाठक, कवि जयप्रकाश कुमार, के के मंडल साइंस कॉलेज के प्रोफेसर कुंवर विजय कृष्ण ब्रजराज ,समाजसेवी उर्मिला सिंह, हाजी मुस्ताक अहमद को सम्मानित किया गया। संस्था के सचिव सिद्धेश्वर विद्यार्थी ने धन्यवाद ज्ञापन के क्रम में कहा कि वर्तमान प्रधानमंत्री विदेशों में भी हिंदी में भाषण देकर हिंदी को वैश्वीकरण के क्षेत्र में अहम भूमिका का निर्वहन कर रहे हैं।

विद्या निकेतन ग्रुप ऑफ स्कूल्स में हिन्दी दिवस पर कार्यक्रम का हुआ आयोजन
दाउदनगर के विद्या निकेतन ग्रुप ऑफ स्कूल्स में हिन्दी दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। विद्यालय के संस्कार विद्या, विद्या निकेतन व किड्ज वर्ल्ड शाखा में अलग-अलग गतिविधि कार्यक्रमों का आयोजन हुआ। विद्या निकेतन में लेख प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

जिसमें कक्षा पंचम से दशम तक के छात्र-छात्रा शामिल हुए। किड्ज वर्ल्ड में नर्सरी से कक्षा प्रथम तक सुलेख प्रतियोगिता पंचम से सप्तम तक लेख प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। संस्कार विद्या में हिन्दी में गिनती-पहाड़ा अभ्यास, कविता लेखन, वाद-विवाद व निबंध लेखन प्रतियोगिता आयोजित की गई।

विद्यालय के सीएमडी सुरेश कुमार गुप्ता ने बच्चो को हिन्दी दिवस की महत्ता का एहसास दिलाया। सीईओ आनंद प्रकाश ने कहा कि 14 सितंबर 1949 को हिन्दी भाषा को राजभाषा का दर्जा मिला था। हिन्दी दिवस पर हमसभी को गर्व है। डिप्टी सीईओ विद्या सागर ने कहा कि भारतीय सभ्यता व संस्कृति की नींव हिन्दी है। इस मौके पर संस्कार विद्या के प्राचार्य सुरज मोहन लाल दास, किड्ज वर्ल्ड के प्राचार्य मोजाहिर आलम सहित अन्य मौजूद रहे।

नवीनगर में हिन्दी दिवस पर एनसीसी कैडेटों ने ली शपथ
नवीनगर अनुग्रह नारायण स्मारक महाविद्यालय में एनसीसी द्वारा हिन्दी दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर डॉ मदन रजक के नेतृत्व में कैडेटों, शिक्षकों एवं कर्मचारियों द्वारा हिन्दी का शुद्ध प्रयोग करने, निरक्षर लोगों को लिपि का ज्ञान कराने तथा अन्य भाषाओं में उपलब्ध ज्ञान से हिन्दी भाषियों को समृद्ध कराने की शपथ ली गई।

सीटीओ अक्षय जैन द्वारा कैडेटों को गूगल हिन्दी इनपुट जैसे टाइपिंग के माध्यमों का प्रशिक्षण दिया गया तथा हिन्दी साहित्य के सुलभ अध्ययन हेतु उपलब्ध वेबसाइट एवं वीडियो स्त्रोतों की जानकारी दी गई। इस अवसर पर प्रेमचंद, शरद जोशी,हरिशंकर परसाई एवं माखनलाल चतुर्वेदी की रचनाओं का कैडेटों द्वारा वाचन किया गया। इस मौके पर उर्दू के विभागाध्यक्ष डॉ आफताब अहमद फरीदी,अरुण कुमार,अनिल सिंह,विनय कुमार, शिवाकांत,हरेंद्र ठाकुर शामिल रहे।

खबरें और भी हैं...