पेट्रोल-पंप के कैशियर को गोली मारी, लूटे 41 लाख रुपए:औरंगाबाद में 4 अपराधियों ने पिस्टल की नोंक पर लूट को दिया अंजाम; पल्सर से भाग रहे अपराधियों को पुलिस ने खदेड़ा, 32 लाख रुपए फेंक भागे लुटेरे

औरंगाबाद2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल में इलाजरत कैशियर रामनिवास सिंह। - Dainik Bhaskar
अस्पताल में इलाजरत कैशियर रामनिवास सिंह।

औरंगाबाद में रिलायंस पेट्रोल पंप के एक कैशियर को गोली मारकर अपराधियों ने 48 लाख रुपए लूट लिए। घटना बारूण थाना क्षेत्र के NH2 सिरिस मोड़ के पास की है, जहां 4 बाइक सवार अपराधियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग की। इसके बाद पिस्टल की नोंक पर रुपए लूटकर फरार हो गए। घायल कैशियर को सदर अस्पताल इलाज के लिए भर्ती कराया गया, जिसके बाद डॉक्टरों ने मामला बिगड़ता देख जमुहार नारायणा अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की छानबीन में जुट गई।

घटना पर तुरंत कारवाई करते हुए सदर SDPO के निर्देश पर नाकेबंदी करते हुए खोजबीन और चेकिंग की जाने लगी। पुलिस ने बताया कि जम्होर थाना पुलिस को वाहन चेकिंग के दौरान मोर डिहरी के पास एक काले रंग के बाइक से 3 अपराधी सवार हो कर आ रहे थे। जब पुलिस ने पीछा किया तो पुलिस को आता देख उनमें से दो अपराधी बाइक छोड़ खेत की ओर भागने लगे। एक अपराधी बाइक से शहर की तरफ भागा। खेत की ओर भागने वाले को पुलिस ने पीछा किया तो पैसों से भरा बैग खेत में फेंक फरार होने में कामयाब हो गया। SDPO अनुप कुमार ने बताया कि बरामद बैग से 32 लाख रूपये बरामद किए गए हैं। अपराधियों को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी की जा रही है।

पुलिस ने बताया कि घायल झारखंड के जपला गांव सोनवर्षा निवासी रामनिवास सिंह है, जो पिछले कई सालों से डेहरी डालमिया नगर में रहते हैं। रामनिवास सिंह ने बताया कि वह रेडियंट सिक्योरिटी कंपनी के तहत रिलायंस पेट्रोल पंप में काम करते हैं। सिरिस स्थित रिलांइस पेट्रोल पंप में मेरी ड्यूटी लगी थी। मैं वह पेट्रोल पंप के पैसों को बैंक में जमा करने जा रहा था।

12 बजे के आसपास अपने एक सहयोगी अरुण कुमार के साथ डेहरी पंजाब नेशनल बैंक में करीब 48 लाख रुपए लेकर निकला था। तभी 2 मोटरसाइकिल सवार चार अपराधियों ने पिस्टल निकाल मेरे बाएं हाथ में बंदूक सटा पैसे देने की बात कही। इसी दौरान छीनाझपटी में उसने गोली चला दी और बैग से 48 लाख रुपए लेकर फरार हो गए।

इसके बाद आनन-फानन में घायल रामनिवास सिंह को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया तो वहीं चिकित्सकों ने बेहतर इलाज के लिए जमुहार मेडिकल काॅलेज में रेफर कर दिया। घटना की जानकारी मिलते ही बारूण थानाध्यक्ष अपने दलबल के साथ अस्पताल पहुंचे और मामले की जांच में जुट गए। बारूण थानाध्यक्ष ने कहा कि अपराधियों को पकड़ने के लिए छानबीन की जा रही है। अपराधियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...