औरंगाबाद में रफीगंज प्रखंड का रिजल्ट:23 पंचायतों में पुराने जनप्रतिनिधि की विदाई नए को मिला मौका, सिर्फ जिला परिषद ही बचा पाए कुर्सी

औरंगाबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जीत के बाद एक प्रत्याशी। - Dainik Bhaskar
जीत के बाद एक प्रत्याशी।

इस पंचायत चुनाव मे जनप्रतिनिधियो को यह तो स्पष्ट हो गया कि जनता अब सिर्फ और सिर्फ काम करने वाले को हि सिरमौर बनाएगी। बिहार पंचायत चुनाव के चौथे चरण का परिणाम भी कुछ ऐसा ही रहा। शहर के सचिदानंद सिन्हा कॉलेज में रफीगंज प्रखण्ड के 23 पंचायतों का परिणाम घोषित हो गया। जनता ने काम करने वाले को स्वीकारा तो नल-जल जैसी महत्वाकांक्षी योजना में घपला करने वाले को दुत्कार दिया। इस चुनावी परिणाम में प्रतिनिधियों की हार हुई और जनता की जीत हुई।

23 पंचायतों में नए मुखिया ने संभाला कमान तो दो पुराने को दोबारा मौका

पौथु पंचायत से डिम्पल कुमारी 3090 मत लाकर विजयी हुई तो पूर्व मुखिया मंजू देवी 2591 मत लाने के बावजूद 499 वोट से करारी हार हुई।

ईटार पंचायत से विमला देवी 1268 वोट से जीती तो वहीं पूर्व मुखिया सीता देवी 1084 मत लाने के बावजूद 184 मत से हारी।

लट्टा पंचायत से अकंचन कुमारी 1982 मत लाकर विजई तो वहीं शाेभा देवी 1955 मत लाने के बावजूद 27 मत से हारी।

बौर पंचायत से विनय प्रसाद उर्फ मिट्‌ठू 2072 मत से जीती तो वहीं नीरज कुमार उर्फ मंटू सिंह 1748 मत लाने के बावजूद 324 मत से हारी।

भेटनिया पंचायत से धर्मशीला देवी 1924 मत लाकर विजई तो वहीं बिगनी देवी 1709 मत लाने के बावजूद 215 मत से हारी।

पोगर पंचायत से शंकर दयाल यादव 2159 मत लाकर विजई तो वहीं पंकज कुमार सिंह 930 मत लाने के बावजूद 1229 मत से हारे।

कजपा पंचायत से ममता कुमारी 1677 मत से जीती तो वहीं गायत्री मिश्रा 1539 मत लाने के बावजूद 138 मत से हारी।

कोटवारा पंचायत से विंदेश्वर कुमार सिंह 2660 मत से जीते तो वहीं बसंती देवी 2012 मत लाने के बावजूद 648 मत से हारी।

भदवा पंचायत से प्रमिला देवी 930 मत लाकर विजई तो वहीं अरूण प्रसाद 895 मत लाने के बावजूद 35 मत से हारी।

भदुकीकला पंचायत से कलावती देवी 1023 मत से जीती तो वहीं गायत्री देवी 787 मत लाने के बावजूद 236 मत से हारी।

ढोसिला पंचायत से गुड़िया देवी 2172 मत लाकर विजई तो वहीं कांती देवी 1993 मत लाने के बावजूद 179 मत से हारी।

चरकावां पंचायत से मो. सेराज अंसारी 1856 मत लाकर विजई तो वहीं मंटूस कुमार 1554 मत लाने के बावजूद 302 मत से हारे।

केराप पंचायत से कलावती देवी 1428 मत लाकर विजई तो वहीं तारा देवी 1195 मत लाने के बावजूद 233 मत से हारी।

सिहुली पंचायत मो. यूसुफ अली 1130 मत लाकर जीते तो वहीं इन्द्रजीत यादव 759 मत लाने के बावजूद 371 मत से हारे।

चोबडा पंचायत से संजय कुमार 1555 मत लाकर विजई तो वहीं रामकिशोर कुमार भारती 1357 मत लाने के बावजूद 198 मत से हारे।

गोरडीहा पंचायत से विजय कुमार सिंह 1801 मत लाकर विजई तो वहीं अकबर शहजादा शाही 1606 मत लाने के बावजूद 195 मत से हारे।

लोहरा पंचायत से तरन्नुम शेहर 1446 मत लाकर विजई तो वहीं अशिया खातून 1201 मत लाने के बावजूद 245 मत से हारी।

चेंव पंचायत से नुसरत जहां 1752 मत लाकर विजई तो वहीं प्रभा देवी 1388 मत लाने के बावजूद 364 मत से हारी।

बलार पंचायत से अरूण कुमार 1950 मत लाकर विजई तो वहीं रामरूप भुईयां 1063 मत लाने के बावजूद 887 मत से हारी।

दुग्गूल पंचायत से नरेन्द्र मिश्रा 1494 मत लाकर विजई तो वहीं मो. शमीम उसमानी 1113 मत लाने के बावजूद 381 मत से हारे।

अरथुआ पंचायत से बिदाई देवी 822 मत लाकर विजई तो वहीं सबीहा प्रवीन 702 मत लाने के बावजूद 120 मत से हारी।

बघौरा पंचायत से गुड़िया देवी 1930 मत लाकर विजई तो वहीं मंजू देवी 1008 मत लाने के बावजूद-922 मत से हारी।

बलीगांव पंचायत से सरिता देवी 1448 मत लाकर दूसरी बार जीती तो वहीं रामनाथ पासवान 1407 मत लाने के बावजूद 41 मत से हारे।

तीनों जिला परिषद प्रत्याशियों ने दूबारा चखा जीत का स्वाद

जिला परिषद क्षेत्र संख्या 8 से नीतू सिंह 8805 मत लाकर दुबारा जीती तो वहीं बबीता देवी 5243 मत लाकर उपविजेता रही।

जिला परिषद क्षेत्र संख्या 9 से प्रदीप कुमार 6599 मत से विजेता तो वहीं भोला शर्मा 5570 मत लाकर उपविजेता रहे।

जिला परिषद क्षेत्र संख्या 13 से आशिफ शाह 8953 मत लाकर विजेता रहे तो वहीं अनिल कुमार चंद्रवंशी 8659 मत लाकर उपविजेता रहे।

खबरें और भी हैं...