पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसान को समर्थन:तीनों कृषि कानूनों के विरोध में चक्का जाम कहा-सरकार किसानों के लिए है संवेदनहीन

औरंगाबाद22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • विभिन्न प्रखंडों में एनएच व एसएच पर विपक्ष के नेता व कार्यकर्ताओं ने जाम की सड़क
  • नेताओं ने कहा- किसानों के आंदोलन को खत्म करने के लिए रची जा रही कई साजिश

शनिवार को कृषि कानून के खिलाफ घोषित चक्का जाम का सांकेतिक असर जिले में देखने को मिला। विभिन्न प्रखंडों में एनएच व एसएच पर उतरकर विपक्ष के नेता व कार्यकर्ताओं ने केन्द्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। सरकार पर संवेदहीन हाेने का आरोप लगाते हुए किसानों के आंदोलन को खत्म करने का कुचक्र रचने व बदनाम करने का आरोप लगाया। शहर में एनएच दो पर कामा बिगहा मोड़ के पास जअपा कार्यकर्ताओं ने सड़क जाम कर किसान आंदोलन का समर्थन किया। जन अधिकार पार्टी के जिलाध्यक्ष भोला यादव ने कहा कि किसान की हालत बद से बदतर हो गई है।
सरकार पूंजीपतियों के चंगुल में फंस गई है। उनको किसानों की आवाज सुनाई नहीं दे रहा है। लगभग दो माह से किसान इस कड़कड़ाती ठंड में तीनों कृषि कानून को खत्म करने के लिए आंदोलनरत है। लेकिन सरकार किसान को बदनाम करने की कोशिश में लगी हुई है। देश के किसान अब जाग चुके हैं। चक्का जाम में सचिव संजय कुमार, पूर्व जिला अध्यक्ष सुरेंद्र यादव, पूर्व युवा जिला अध्यक्ष रमेश यादव, रामजन्म यादव, धीरेंद्र सिंह, बलिंदर यादव, कुटुंबा अनिल पासवान सहित अन्य मौजूद रहे।
दाउदनगर में एनएच 139 को किया सांकेतिक जाम: तीनों कृषि कानून को वापस लेने एवं आंदोलन में शामिल किसानों की बिना शर्त रिहाई की मांग को लेकर अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति एवं भाकपा माले के संयुक्त आह्वान पर राष्ट्रव्यापी चक्का जाम के तहत दाउदनगर अनुमंडल मुख्यालय के भखरुआं मोड़ पर एनएच 139 को सांकेतिक रूप से चक्का जाम किया। हालांकि ,कुछ ही देर में चक्का जाम को हटा भी दिया गया। राजद प्रखंड अध्यक्ष देवेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि तीनों कृषि कानून किसानों के हित में नहीं है। सरकार किसानों के प्रति संवेदनहीन बनी हुई है।

जिस कानून से किसान को फायदा ही नहीं है, वैसा कानून लाने से क्या फायदा है। अखिल भारतीय किसान महासभा के जिला सचिव कामता प्रसाद यादव व भाकपा माले के टाउन सचिव बिरजू चौधरी ने बताया कि राष्ट्रव्यापी अभियान के तहत शनिवार को चक्का जाम आहूत था, लेकिन इंटरमीडिएट की परीक्षा को देखते हुए सांकेतिक रूप से चक्का जाम किया गया है। मौके पर खेग्रामस के जिला सचिव राजकुमार भगत, भाकपा माले के प्रखंड सचिव चंद्रमा पासवान, पूर्व प्रखंड सचिव मदन प्रजापत, रामदेव राम ,जयनंदन राम सहित अन्य मौजूद रहे।

अंबा में भाकपा माले ने निकाला प्रतिवाद मार्च
किसान आंदोलन पर दमन के खिलाफ घोषित चक्का जाम के समर्थन में अंबा में भाकपा माले कार्यकर्ताओं ने प्रतिवाद मार्च निकाला। अंबा बाजार का भ्रमण करने के बाद चौक पर नुक्कड़ सभा आयोजित हुई। प्रखंड प्रभारी संजय कुमार तेजा ने कहा कि किसान आंदाेलन को दबाने की कोशिश की जा रही है। अाज पूरे देश के किसान सरकार की सच्चाई जान चुके हैं। सरकार को हर हाल में तीनों कृषि कानून को वापस लेना होगा। इस मौके पर रमेश पासवान, विरेंद्र विद्रोही, उमेश पासवान, जितेंद्र मेहता, गोवर्धन विश्वकर्मा सहित अन्य मौजूद रहे।

लाठी व गोली से नहीं डरने वाले हैं किसान
किसान नेता राकेश टिकैत के ऐलान पर कृषि कानून के खिलाफ हसपुरा प्रखंड के पचरूखिया बाजार स्थित शहीद जगदेव चौक पर चक्का जाम आंदोलन हुआ। जिसका नेतृत्व अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति ने किया। चक्का जाम आंदोलन में शामिल भाकपा माले के केन्द्र की मोदी सरकार कृषि कानून को जबरन लागू कर दी है।

आंदोलन को कुचलना चाहती है। कृषि कानून को जब तक वापस नहीं होगा आंदोलन जारी रहेगा। लाठी, गोली व डंडे से अब किसान नहीं डरने वाले हैं । आंदोलन में राम अयोध्या पांडेय, सादुल्लाह खां,रूणा देवी,माकपा के सत्येन्द्र कुमार,काख्यानारायण सिंह,सीपीआई के अरुण रंजन, श्याम किशोर सिंह सहित अन्य शामिल रहे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप प्रत्येक कार्य को उचित तथा सुचारु रूप से करने में सक्षम रहेंगे। सिर्फ कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा अवश्य बना लें। आपके इन गुणों की वजह से आज आपको कोई विशेष उपलब्धि भी हासिल होगी।...

    और पढ़ें