बढ़ रही लापरवाही / कांग्रेस विधायक और उपप्रमुख पॉजिटिव निकले, डीएम आवास में फिर 6 संक्रमित, जिले में मरीजों की संख्या 237

Congress MLA and Deputy Chief turns out positive, 6 infected again in DM residence, number of patients in district 237
X
Congress MLA and Deputy Chief turns out positive, 6 infected again in DM residence, number of patients in district 237

  • डीएम आवास पर कुल नौ संक्रमित, चार दिन पहले एक गार्ड मिला था पॉजिटिव, खंगाली जा रही संक्रमितों की चेन
  • विधायक के नजदीकियों ने सोशल मीडिया पर नाम किया सार्वजनिक, उप प्रमुख के संक्रमित मिलने से कई नेता हुए होम क्वारेंटाइन

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

औरंगाबाद. जिले में कोरोना अब खतरनाक रूप ले चुका है। जरा बचके रहिएगा। क्योंकि कोरोना दिग्गजों को भी संक्रमित कर रहा है। औरंगाबाद सदर के कांग्रेस विधायक कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। पुलिस लाइन के बाद अब डीएम आवास पर कोरोना डेरा डाल चुका है। अाप खुद समझिए। खतरा कितना बढ़ चुका है। मंगलवार को जिले में कुल 11 पॉजिटिव के सामने आए हैं। जिसमें सदर विधायक आनंद शंकर व उनके दो प्रबल समर्थक संक्रमित पाए गए हैं। 
इसने अलावे शहर के न्यू एरिया मे रहने वाले एक प्रखंड के उप प्रमुख भी संक्रमित पाए गए हैं। वहीं छह डीएम आवास के कर्मचारी संक्रमित पाए गए हैं। जिले में कोरोना किसी विधायक को पहली बार अपना शिकार बनाया है। विधायक के समर्थकों ने सोशल मीडिया पर नाम सार्वजनिक कर दिया। इसलिए भास्कर भी नाम सार्वजनिक कर रहा है। वरना हम कोविड-19 के संक्रमित मरीजों का नाम सार्वजनिक 
नहीं करते। बताते चलें कि जिले में कुल मरीजों की संख्या 237 हो चुकी है। इसमें से 203 मरीज कोरोना को हरा चुके हैं। लेकिन अभी भी कोरोना के 34 केस एक्टिव है। 

लगातार क्षेत्र भ्रमण कर रहे थे विधायक शक के आधार पर कराई अपनी जांच
जिले की राजनीति में कोराेना की इंट्री के बाद विधायक को शक हुआ। क्योंकि उन्हें लगा हम लगातार क्षेत्र भ्रमण कर रहे हैं। दर्जनों लोगों से रोजाना मुलाकात कर रहे हैं। जाने अंजाने में वह किसी के टच में भी आ रहे हैं। दाउदनगर के कद्दावर राजद नेता की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। नप के पूर्व चेयरमैन पति संक्रमित पाए गए। एक पार्षद पति पॉजिटिव पाए गए। पूर्व जिला पार्षद का एक बेटा व उसके कई दोस्त पॉजिटिव पाए गए। पुलिस लाइन के बाद डीएम आवास में कोरोना की चेन बढ़ने लगी।

यह सब विचार कर विधायक एक जिम्मेवार नागरिक की तरह तीन अन्य समर्थकों के साथ कोराेना टेस्ट कराने का फैसला किया। जिला प्रशासन द्वारा बनाए गए सैम्पल कैम्प पर विधायक व समर्थक समेत कुल चार लोग सैम्पल दिए। जिसमें से विधायक समेत तीन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। जबकि एक का रिपोर्ट निगेटिव आई है। जो दो पॉजिटिव पाए गए हैं, वे विधायक के खास हैं। साथ में अक्सर रहते हैं। 

उप प्रमुख की संक्रमण की चेन हो सकती है लंबी, राजनीतिक परिवार के हैं करीबी
शहर के न्यू एरिया में रहने वाले एक प्रखंड के उप प्रमुख पॉजिटिव पाए गए हैं। ये जिले के चर्चित चेहरों में से एक हैं। इनकी संपर्क चेन लंबी हो सकती है। ये उप प्रमुख जिले के सबसे कद्दावर राजनीति परिवार से खास लगाव है। उक्त परिवार में उप प्रमुख का आना-जाना रोजाना होता है। वहां उप प्रमुख जिले के कई कद्दावर नामी गिरामी हस्तियों से मिलते हैं। लिहाजा उप प्रमुख के पॉजिटिव रिपोर्ट आते ही जिले के एक बड़ा राजनीति परिवार खुद को होम क्वॉरेंटीन कर लिया है।

हालांकि इस संबंध में कोई भी कुछ बाेलने को तैयार नहीं। जिले के कई नामी कॉंट्रैक्टर व व्यवसायी भी संपर्क चेन में हो सकते हैं। अक्सर उनसे मुलाकात होती है। सूत्रों की मानें तो उप प्रमुख के संक्रमित होते ही दर्जनों लोगों में डर व भय का माहौल है। कई लोग अपना सैम्पल दे सकते हैं। प्रशासन उप प्रमुख का संपर्क चेन को खंगालने में जुटा है। उप प्रमुख होम क्वॉरेंटीन हैं। 
जिलाधिकारियों आवास के कर्मचारियों ने जांच रिपोर्ट में अपना पता छिपाया

डीएम आवास में कोरोना के तीन पॉजिटिव केस आने के बाद जिले के प्रशासनिक महकमे में हड़कंप मच गया। पुलिस लाइन की चेन किसी तरह से टूट चुकी थी। पुलिस लाइन की घटना के बाद पुलिस महकमे में डर व भय का माहौल था। प्रशासन वहां का चेन तोड़कर माहौल काे सामान्य बनाया। इसके बाद डीएम आवास पर कोरोना का दस्तक एक बार फिर कर्मियों में हडकंप मच गया। लिहाजा प्रशासन ने तीन संक्रमितों के बाद संपर्क चेन में आए 21 लोगों का जांच सैम्पल जो दिया।

उसमें से अधिकांश कर्मियों ने डीएम आवास का पता छोड़कर निजी पता लिख दिया। ताकि पॉजिटिव आने के बाद भी ये सूचना सार्वजनिक न हो और जिले के सरकारी कर्मचारी और आमलोगों में कोरोना के प्रति भय का माहौल कायम न हो। चुनाव की भी तैयारी चल रही है। इस बीच कर्मचारियों का हौंसला व मनोबल उंचा होना चाहिए। भास्कर इनसे अपील करता है कि मनोबल के साथ अपनी सुरक्षा और बचाव भी आप करें। 

डीएम आवास क्लर्क, चपरासी और खाना बनाने वाला शामिल

डीएम आवास पर कोरोना डेरा डाल चुका है। मंगलवार को फिर यहां छह कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जिनमें क्लर्क, चपरासी और खाना बनाने वाला व कपड़ा धोने वाला कर्मचारी भी शामिल है। अब तक यहां नौ कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जिनमें तीन क्लर्क, तीन चपरासी व तीन गार्ड शामिल हैं। प्रशासनिक सूत्रों की मानें तो डीएम आवास के किचेन तक कोरोना पहुंच चुका है। ये बेहद खतरनाक चेन है। राहत की बात है कि इन संक्रमितों को सामने आने के पहले ही डीएम निजी कामों से अवकाश पर चले गए हैं। वे तीन जुलाई तक अवकाश पर हैं।

चार दिन पहले सबसे पहले एक गार्ड संक्रमित पाया गया। फिर उसके संपर्क चेन में शामिल कुछ लोगों का सैम्पल लिया गया। जिसमें से क्लर्क समेत दो लोग पॉजिटिव आए। इसके बाद सोमवार को डीएम आवास के कुल 21 लोगों का जांच सैम्पल लिया गया। जिसमें से छह फिर संक्रमित पाए गए। अब इन छह संक्रमितों का संपर्क चेन खंगाला जा रहा है। इस संपर्क चेन में बड़े अधिकारी भी आते हैं। समझ सकते हैं। कोरोना कितना खरनाक हो चुका है। 
बोले प्रभारी डीएम- कंट्रोल होगा कोरोना, उठाए जाएंगे कठोर कदम
प्रभारी डीएम सह डीडीसी अंशुल कुमार ने बताया कि कोरोना तेजी से बढ़ रहा है। लेकिन तेजी से कंट्रोल भी हो रहा। यही साहस वाली बात है। कोरोना को प्रशासन जल्द कंट्रोल करेगा। क्योंकि अब बिना मास्क के बाहर निकलने वाले लोगों पर कार्रवाई होगी। नियमों को तोड़ने वाले लोगों पर कार्रवाई होगी। आमलोग भी कोरोना को लेकर सतर्क रहें, सजग रहें। अपना बचाव खुद करें। कोरोना से बचाव के लिए सभी को सजगता के साथ निभानी होगी अपनी भागीदारी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना