पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पर्व-त्योहार:मकर संक्रांति को लेकर बाजार में दिखी भीड़ चूड़ा, तिलकुट व गुड़ की जमकर हुई खरीदारी

औरंगाबाद4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • आज 8:14 बजे से दिनभर रहेगा शुभ संयोग, होगी विषेश फल की प्राप्ति

मकर संक्रांति को लेकर बाजार में दुकानें पहले से ही सजी हुई है। बुधवार को बाजार में काफी चहल-पहल दिखी। महंगाई के बावजूद लोग अपनी हैसियत के मुताबिक सामानों की खरीदारी की। लोग तिलकुट से लेकर लाई, गुड़, तिल, चूड़ा तथा उड़द दाल की खरीदारी की। हालांकि इस त्योहार पर महंगाई की मार भी दिख रही है। मकर सक्रांति में उपयोग होने वाले सभी सामान की कीमत पिछले साल की अपेक्षा बढ़ गई है। लोग धर्म व रीति रिवाजों के अनुसार चूड़ा व दही के साथ तिल की खरीदारी करने के लिए बाजारों में पहुंचे, जिससे बाजारों में चहल पहल बढ़ी हुई थी।
गुरुवार को श्रवण नक्षत्र होने से केतु अर्थात बन राहा है ध्वज योग
बुधवार को रातभर व्यवसायियों ने तिलकुट का कराया निर्माण, पतंग उत्सव आजति का पुण्य काल 8:14 बजे से पूरे दिन मनाया जाएगा। गुरुवार को श्रवण नक्षत्र होने से केतु अर्थात् ध्वज योग बनता है। इस योग में सूर्य देव का राशि परिवर्तन शुभ माना गया है, किंतु मकर राशि में ही पहले से शनि और बृहस्पति चल रहे हैं। ज्योतिषाचार्य ने बताया कि इन तीनों ग्रहों की तिकड़ी इस वर्ष के पूर्वार्ध में राजनीतिक, सामाजिक उथल-पुथल मचा सकती है।
मकर राशि में सूर्य के आने पर सभी शुभ मुहूर्त शादी विवाह गृह प्रवेश आदि आरंभ हो जाते हैं, लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा। क्योंकि 17 जनवरी से गुरु अस्त हो जाएंगे। गुरु अस्त में विवाह, घर और गृहस्थी के कार्य करना अशुभ माना गया है, इसलिए इस बार विवाह मुहूर्त नहीं है।
इस त्योहार पर महंगाई की दिखी मार

मकर संक्रांति को ले बाजार में खासकर तिलकुट की दुकानें ज्यादा सजी हुई है। फूल-माला से दुकानों को सजाया गया है। ताकि ज्यादा से ज्यादा ग्राहकों को आकर्षित किया जा सके। बाजारों में 200 से लेकर 400 रुपए प्रति किलो तिलकुट उपलब्ध है। महंगाई के बावजूद लोग तिलकुट खरीद रहे हैं। एक व्यवसायी ने बताया कि गुड़ तिलकुट 200 रुपये, चिनी तिलकुट 200 रुपये एवं खोवा का तिलकुट 300 रुपये प्रति किलो तक की दर पर मिल रहे हैं।

चीनी, गुड़ व खोवा तिलकुट के अलावा गुड़ से बनने वाले तिलवा की भी जिले में काफी मांग है। लिहाजा इसे भी तैयार कराया गया है। काफी संख्या में ग्राहक खरीद भी रहे हैं। गुरूवार को तिलकुट की कमी न हो इसलिए रातभर व्यवसायियों ने तिलकुट मजदूरों से तैयार करवाया।
जिले में पतंग महोत्सव आज, तैयारी पूरी
इस वर्ष तिसरी बार जिले में पतंग उत्सव मनाया जा रहा है। जिसकी तैयारी पूरी कर ली गई है। पतंग उत्सव का आयोजन आस्था सेवा समिति के बैनर के तले कराया जा रहा है। उत्सव को लेकर गांधी मैदान को पूरी तरह से साफ कराया गया है। वहीं सजाया भी गया है। आस्था सेवा समिति के संरक्षक धर्मेन्द्र कुमार गुप्ता ने बताया कि भारत के अलग-अलग राज्यों में पतंग उत्सव का आयोजन किया जाता है, लेकिन हमारा औरंगाबाद इतना विकसित नहीं है।

फिर भी आस्था सेवा समिति पतंग उत्सव का आयोजन करवा रही है। संरक्षक ने कहा कि अगर प्रशासनिक सहयोग मिलेगा तो अगले वर्ष से और भव्य तरीके से पतंग उत्सव कराया जाएगा। समिति द्वारा ज्यादा से ज्यादा लोगों को पतंग उत्सव में भाग लेने की अपील की गई है। कोविड-19 को देखते हुए मास्क लगाकर ही उत्सव स्थल पर आने का निर्देश दिया गया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser