पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

खतरा समझिए:कोरोना से गोह के पूर्व विधायक रणविजय सिंह की पत्नी की पटना एम्स में हुई मौत

औरंगाबादएक दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पटना के बांस घाट पर हुआ अंतिम संस्कार, पूर्व विधायक ने दी मुखाग्नि
  • पहले पति फिर पत्नी हुई थी संक्रमित, बेटा और गार्ड भी आए थे जद में, अब सभी सुरक्षित
Advertisement
Advertisement

कोरोना से गाेह के पूर्व जदयू विधायक रणविजय सिंह की 60 वर्षीय पत्नी शशि देवी की मौत हो गई। वे 10:30 बजे सुबह पटना एम्स में अंतिम सांस ली। पटना बांस घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया गया। पूर्व विधायक ने पत्नी को मुखाग्नि दी। अंतिम संस्कार में परिवार के गिने-चुने लोग शामिल हुए। वहीं पटना जिला प्रशासन के टीम भी वहां मौजूद थे। पूर्व विधायक के पत्नी की मौत से उनके पैतृक गांव बंदेया में मातम पसरा हुआ है। वहीं जिलेभर के जदयू नेता व उनके शुभचिंतकों ने दुख व्यक्त कर श्रद्धांजलि दी।
पहले पूर्व विधायक हुए संक्रमित, फिर पत्नी हुई थी पॉजिटिव
नजदीकी सूत्राें के अनुसार सबसे पहले गोह के पूर्व जदयू विधायक रणविजय सिंह कोरोना संक्रमित हुए। इसके बाद उनकी पत्नी शशि देवी कोरोना के जद में आयी। फिर बेटा और एक के बाद एक चार गार्ड कोरोना पॉजिटिव हो गए। पत्नी को पहले से दिल की बीमारी थी। लिहाजा उन्हें दस दिन पहले पटना एम्स में इलाज के लिए भर्ती कराया गया। पांच दिनों से उनकी तबीयत ज्यादा खराब हो गई थी।

जिसके बाद उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था, लेकिन तबीयत सुधरने के बजाय बिगड़ती चली गई। शनिवार की सुबह 10:30 बजे वह आखिरी सांस ली। वहीं पूर्व विधायक, उनके बेटे और गार्ड कोरोना निगेटिव आ गए हैं। हालांकि इसकी अधिकारिक पुष्टि नहीं है, लेकिन नजदीकी सूत्रों ने इसकी पुष्टि की है। पूर्व विधायक सबसे पहले कैसे और कहां कोरोना के संक्रमण चेन में आए, यह अब तक साफ नहीं हो पाया है।
फिर 53 कोरोना पॉजिटिव, मरीजों की संख्या 964 हुई
शनिवार को फिर जिले में 53 कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 964 पर पहुंच गई है। सबसे ज्यादा 13 मामले औरंगाबाद शहर के हैं। इसके बाद दाउदनगर के 12 मामले, कुटुम्बा के तीन, बारूण के पांच, मदनपुर के तीन, गोह के पांच, नवीनगर के सात, हसपुरा के दो व देव के तीन मामले शामिल हैं। शहर में कोरोना संक्रमण का मामला दो दिनों से थोड़ी धीमी थी, लेकिन शनिवार को फिर रफ्तार पकड़ लिया। लिहाजा आप खतरे को समझिए और भीड़ में निकलने से बचिए। अगर घर से बाहर निकल रहे हैं तो मास्क लगाना बिल्कुल न भूलें। कोरोना से बचाव ही एक मात्र इलाज है।

डरे नहीं साहस से रहें : डीएम
डीएम सौरभ जोरवाल ने बताया कि कोरोना पाॅजिटिव मरीज डरे नहीं, बिल्कुल साहस से रहें। क्योंकि जितनी तेजी से कोरोना संक्रमण फैल रहा है। उसी रफ्तार से मरीज ठीक भी हो रहे हैं। जिले की रिकवरी रेट अच्छी है। बस लोग एहतियात बरतें और हिम्मत से काम लें। पूरा सिस्टम कोरोना को हराने में जुटा है। आपात स्थिति से निपटने के लिए सारे इंतेजाम पूरे कर लिए गए हैं।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज रिश्तेदारों या पड़ोसियों के साथ किसी गंभीर विषय पर चर्चा होगी। आपके द्वारा रखा गया मजबूत पक्ष आपके मान-सम्मान में वृद्धि करेगा। कहीं फंसा हुआ पैसा भी आज मिलने की संभावना है। इसलिए उसे वसूल...

और पढ़ें

Advertisement