पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अंबा की खबर:ट्रक ने ऑटो में मारी टक्कर, शादी से घर लौट रही दूल्हे की मां और बुआ की मौत

औरंगाबाद सदर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

रविवार की रात एक अनियंत्रित ट्रक ने सामने से आ रही ऑटो में टक्कर मार दिया। जिसके कारण शादी समारोह से ऑटो में सवार होकर वापस लौट रहे दूल्हे की मां और बुआ की मौत हो गई। वहीं दो बच्चे गंभीर रूप से जख्मी हो गए। घटना अंबा थानाक्षेत्र के छकनबाग गांव समीप एनएच 139 की है। मृतकों की पहचान रिसियप थानाक्षेत्र के नेउरा सूरजमल गांव निवासी बृजलाल राम की पत्नी 50 वर्षीय राजवंशी देवी तथा झारखंड के पलामू जिला अंतर्गत छतरपुर थानाक्षेत्र के धोबनी नौडीहा गांव निवासी अलखदेव राम की पत्नी 52 वर्षीय लालमुन्नी देवी के रूप में की गई।

जबकि जख्मी ब्लू कुमार व प्रिंस कुमार मदनपुर के गांधीनगर के रहने वाले हैं। ऑटो में सवार अन्य लोगों को भी हल्की चोट आई है। उक्त सभी लोग अलख देवराम के पुत्र कुश कुमार की शादी समारोह में शामिल होने अंबा के सतबहिनी मंदिर पहुंचे थे। शादी संपन्न होने के बाद उक्त सभी लोग ऑटो में सवार होकर धोबनी नौडीहा गांव लौट रहे थे। इसी क्रम में झारखंड की ओर से आ रहे अनियंत्रित ट्रक ने उनकी ऑटो में टक्कर मार दिया। घटना के बाद वहां काफी संख्या में स्थानीय लोग जमा हो गए और जख्मियों को ऑटो से निकालकर कुटुंबा रेफरल अस्पताल भेजा। जहां चिकित्सकों ने उनकी स्थिति गंभीर देखते हुए हायर सेंटर रेफर कर दिया।

जमुहार ले जाने के दौरान डेहरी के पास हो गई मौत

इसके बाद अस्पताल पहुंचे परिजन चारों जख्मियों को औरंगाबाद सदर अस्पताल ले गए। चिकित्सकों ने राजवंशी देवी और लाल मुन्नी देवी की स्थिति नाजुक देखते हुए वहां से भी रेफर कर दिया। जमुहार ले जाने के क्रम में राजवंशी देवी की मौत डेहरी के समीप हो गई। जबकि जमुहार के चिकित्सकों द्वारा रेफर किए जाने के बाद लाल मुनी देवी को ट्रामा सेंटर वाराणसी ले जाने के दौरान रास्ते में मौत हो गई।

वहीं दोनों जख्मी बच्चों का सदर अस्पताल में कराया गया। इधर घटना की सूचना मिलने के बाद अंबा थाना की पुलिस उक्त स्थल पर पहुंची तथा दुर्घटनाग्रस्त ऑटो को अपने कब्जे में ले लिया। थानाध्यक्ष जेके भारती ने बताया कि ऑटो में टक्कर मारने वाले वाहन का पता लगाया जा रहा है।

दुल्हन के आने की चल रही तैयारी, तब ही मिली जानकारी

जानकारी के अनुसार धोबनी नौडीहा गांव निवासी अलखदेव राम के पुत्र कुश कुमार की शादी जम्होर थानाक्षेत्र के नतनौर गांव के अंजू कुमारी के साथ तय हुई थी। निर्धारित तिथि को लड़का और लड़की पक्ष के लोग शादी के लिए सतबहिनी मंदिर पहुंचे थे।रविवार को हिंदू रीति रिवाज के अनुसार दोनों की शादी संपन्न हुई। इसके बाद वर वधू व रिश्तेदार घर लौट रहे थे।

दूल्हे की बहन तथा अन्य परिजन पहले ही घर लौट चुके थे। ताकि दुल्हन के आगमन के लिए तैयारियां की जा सके। घर में नई दुल्हन के आगमन को लेकर विशेष तैयारी की जा रही थी। दुर्घटना के कुछ ही घंटों के अंतराल पर दूल्हे की मां और बुआ की मौत हो गई। ननंद भोजाई की मौत के बाद उक्त गांव में मातमी सन्नाटा छाया हुआ है।

नेउरा सूरजमल गांव में भी पसरा सन्नाटा:

घटना के बाद नेउरा सूरजमल गांव में भी मातमी सन्नाटा छाया हुआ है। बृजलाल राम की पत्नी राजवंशी देवी बड़े ही उत्साह के साथ अपने भतीजे के शादी समारोह में शामिल होने पहुंची थी। लेकिन उसे क्या पता था कि यह उसके मायके की अंतिम यात्रा होगी। नगर थाना की पुलिस ने सोमवार को पोस्टमार्टम के बाद उसका शव अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सौंप दिया।

परिजन शव को लेकर घर पहुंचे तथा उसका अंतिम संस्कार किया गया। इधर घटना की जानकारी मिलते ही परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। घर में नई दुल्हन के आने की खुशी के बीच यह दुखद जानकारी मिलने पर परिजन बदहवाश हैं। सभी लोग मर्माहत है।

खबरें और भी हैं...