पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दिए कई निर्देश:खान व भूतत्व मंत्री सह जिले के प्रभारी मंत्री जनक राम ने विभागों की समीक्षा की

औरंगाबाद4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अधिकारियों के साथ समीक्षा करते खान एवं भूतत्व मंत्री । - Dainik Bhaskar
अधिकारियों के साथ समीक्षा करते खान एवं भूतत्व मंत्री ।
  • वैक्सीनेशन का 50 प्रतिशत लक्ष्य पूरा 8.73 लाख लोगों काे लग चुका टीका
  • जिले का जलस्तर 24 फीट आ चुका है उपर, 1000 पॉलीथिन शीट है उपलब्ध
  • पीएचईडी ने 688 वार्डों में नल-जल का किया गया है कार्य, 135 नए चापाकल का भी निर्माण कराया

मंगलवार को खान एवं भूतत्व मंत्री सह जिले के प्रभारी मंत्री जनक राम ने अतिथि गृह में अधिकारियों के साथ विभिन्न विभागों की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने कई निर्देश अधिकारियों को दिया। कहा कि सरकार द्वारा संचालित योजनाओं को धरातल पर उतारने की जवाबदेही अधिकारियों की ही है।

इसलिए अधिकारी अपनी जवाबदेही को ध्यान में रखते हुए इमानदारी पूर्वक कार्य करें और योजनाओं को बेहतर तरीके से संचालन करें। ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को लाभ मिल सके। स्वास्थ्य विभाग के समीक्षा के दौरान बताया गया कि वैक्सीनेशन के 50 प्रतिशत लक्ष्य जिले में पूरा कर लिया गया है।

अब तक 8.73 लाख लोगों को वैक्सीन लगाया गया है। शहरी क्षेत्रों में शत-प्रतिशत टीकाकरण का कार्य संपन्न किया जा चुका है। अगले 1 महीने में लगभग 70% आबादी को आच्छादित करने की संभावना है। रोजाना 2500 लोगों की कोरोना टेस्टिंग की जा रही है।

पीएचईडी द्वारा 688 वार्डों में नल-जल का किया गया है कार्य
पीएचईडी विभाग के समीक्षा के दौरान कार्यपालक अभियंता लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण द्वारा बताया गया कि जिले में कुल 688 वार्डों में नल जल का कार्य उनके विभाग द्वारा किया गया है, जो चालू स्थिति में है। इसके अतिरिक्त लगभग 135 नए चापाकल का निर्माण कराया गया है।

डीपीओ आईसीडीएस ममता रानी ने बताया कि जिले में आंगनबाड़ी केंद्रों द्वारा घर-घर जाकर पोषाहार का वितरण किया जा रहा है। कुपोषण से बचाव के लिए भी जागरूक किया जा रहा है। एडीसीपी संतोष चौधरी द्वारा बताया गया कि औरंगाबाद जिले के बभंडी में प्लेस ऑफ सेफ्टी कार्यरत है। जिसमें कुल 55 जुवेनाइल आवसित हैं। जिनको सारी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराए जा रहे हैं। ऐसे बच्चों के स्किल डेवलपमेंट के लिए 03 शिक्षक शिक्षा विभाग से प्रतिनियुक्त किए गए हैं।

बैठक में ये रहे मौजूद
समीक्षा बैठक में पुलिस अधीक्षक कांतेश कुमार मिश्रा, सिविल सर्जन डॉ. कुमार वीरेंद्र प्रसाद, आपदा प्रभारी डॉ. फतेह फैयाज, जिला कृषि पदाधिकारी रणवीर सिंह, वरीय उप समाहर्ता मनीष कुमार, गोपनीय शाखा प्रभारी अमित कुमार सिंह, डीपीआरओ कृष्णा कुमार, जिला शिक्षा पदाधिकारी संग्राम सिंह, जिला कल्याण पदाधिकारी असलम अली, समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

जिले का जलस्तर 24 फीट आ चुका है ऊपर, 1000 पॉलीथिन शीट है उपलब्ध
बाढ़/अतिवृष्टि, अल्प वृष्टि एवं अन्य आपदाओं की समीक्षा के दौरान जिला पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि औरंगाबाद जिले में बाढ़/अतिवृष्टि एवं अल्प वृष्टि से संबंधित फिलहाल कोई समस्या नहीं है। औरंगाबाद जिले का जलस्तर भी 24 फीट ऊपर आ चुका है।

औरंगाबाद जिले में लगभग 1000 पॉलीथिन शीट भी उपलब्ध है। पशुओं के लिए पशु चारा एवं दवाएं भी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं। जिला प्रशासन बाढ़ जैसी आपदा से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है। हर स्तर पर तैयारी की गई है। ताकि किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो। एसडीपीओ गौतम शरण ओमी ने बताया कि सोमवार की रात अवैध खनन कर रहे सात ट्रक को जब्त किया गया है।

खबरें और भी हैं...