पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पर्व:रोहतास में धारा 144 व कोविड-19 के साए में मनी बकरीद

डेहरी सदर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पुलिस की तैनाती के साथ ही पैट्रोलिंग के जरिए सद्भावना को बनाए रखा गया, लोगों ने घरों में सेवइयां एवं अन्य पकवान का सेवन किया और वितरण भी किया

समूचे अनुमंडल क्षेत्र में शांति सौहार्द और भाईचारे के बीच बकरीद पर्व को मनाया गया। सामूहिक और मस्जिदों में कोविड-19 गाइडलाइंस के अनुपालन को करते हुए नमाज अता नहीं किए गए। लेकिन घरों में रह कर सभी के खुशहाली, संपन्नता और स्वास्थ्य की कामना के लिए अल्लाह से प्रार्थना जरूर की गई। लोगों ने घरों में सेवइयां एवं अन्य पकवान का सेवन किया और कराया तो वितरण भी किया।

पुलिस और प्रशासन ने सुरक्षा के दृष्टिकोण से समूचे अनुमंडल क्षेत्र में धारा 144 लगा रखा था। वहीं संवेदनशील और अति संवेदनशील स्थलों पर दंडाधिकारी एवं पुलिस की तैनाती के साथ ही पेट्रोलिंग के जरिए सद्भावना को बनाए रखा गया। विगत शाम और सुबह अशांति पैदा करने वालों को चेतावनी देने के लिए पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने फ्लैग मार्च किया। एसपी आशीष भारती, अनुमंडल पदाधिकारी सुमन सौरभ एवं एसडीपीओ विनोद कुमार रावत सहित अधिकारियों एवं सामाजिक, धार्मिक संगठनों के कार्यकर्ताओं ने बकरीद की बधाई दी है।

गड़बड़ी पैदा करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की तैयारी
बकरीद के दौरान विधि व्यवस्था संबंधित व्यवधान उत्पन्न नहीं किए जाएं इसके लिए नगर थाना परिसर में डीसीएलआर श्वेता मिश्रा एवं प्रशिक्षु डीएसपी सह थानाध्यक्ष अजीत प्रताप सिंह चौहान ने मोर्चा संभाल लिया है। वहीं बीडीओ पुरुषोत्तम त्रिवेदी के नेतृत्व में गस्ती दल लगातार पेट्रोलिंग कर भाईचारे में कटूता पैदा करने वालों पर नजर बनाए हुए हैं।

पुलिस प्रशासन की यह व्यवस्था 23 जुलाई तक बनी रहेगी। अधिकारियों ने बताया कि गो हत्या नहीं हो इसके लिए बिहार प्रिजर्वेशन एंड इंप्रूवमेंट ऑफ एनिमल एक्ट को लागू किया गया है। 6 अगस्त तक सभी तरह के धार्मिक आयोजनों पर रोक लगाई गई है। गड़बड़ी पैदा करने वालों के विरुद्ध निरोधात्मक एवं सतर्कता मूलक गिरफ्तारी की जाएगी। असमाजिक तत्वों के खिलाफ नजर रखी जा रही है ताकि गड़बड़ी पैदा नहीं कर सकें।

खबरें और भी हैं...