पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना से जंग:दुकानों पर लगेगा नो मास्क नो इंट्री का बैनर, डिस्टेंस का करना होगा पालन, नहीं करने पर होगी कार्रवाई

औरंगाबाद सदर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सदर एसडीओ डॉ. प्रदीप कुमार ने व्यवसायियों के साथ बैठक कर दिया आवश्यक निर्देश

अब दुकानों पर नो मास्क नो इंट्री का बैनर लगेगा। बगैर मास्क के अगर आप किसी सामान की खरीदारी करने पहुंचेंगे तो आपको इंट्री नहीं दी जाएगी। यह निर्देश सदर एसडीओ डॉ. प्रदीप कुमार ने सभी व्यवसायियों को दिया है। इसका पालन नहीं करने वाले व्यवसायी व ग्राहक दोनों पर कार्रवाई होगी। जिले में बढ़ते कोरोना मामले को देखते हुए सदर एसडीओ डॉ. प्रदीप कुमार शहर के व्यवसायियों के साथ समाहरणालय स्थित योजना भवन सभागार में बैठक किया।

जिसमें कई आवश्यक दिशा-निर्देश व्यवसायियों को दिया गया। वहीं एसडीओ ने कहा कि जिले में एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़ी है। इसलिए जो भी दिशा-निर्देश जिला प्रशासन द्वारा कोरोना से संबंधित जारी किया गया है। उसका व्यवसायी सख्ती से पालन करें। अन्यथा आप लोगों पर कार्रवाई की जाएगी।

सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन कर करें व्यवसायी, खुद भी रहें सुरक्षित
एसडीओ ने बैठक के दौरान व्यवसायियों से अपील किया कि कोरोना एक बार फिर पीक पर है। इसलिए सावधानियां बरतनी जरूरी है। वरना स्थिति और भयावह हो सकती है। इसलिए व्यवसायी अपना व्यवसाय कोरोना के नियमों का पालन करते हुए करें। अगर कोई सामान खरीदने दुकान पर आए तो सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन रखें। दुकान पर भीड़ न इकट्‌ठा होने दें।

वहीं मास्क अनिवार्य रूप से लगाकर रहें। इससे आप भी सुरक्षित रहेंगे और आपका परिवार भी सुरक्षित रहेगा। अगर सभी लोग स्वंय अपनी जिम्मेवारी उठा लें तो पूरा जिला, राज्य व देश सुधर जाएगा। इसलिए खुद से ही इसकी शुरूआत करें। कोविड नियमों का सख्ती से पालन करें। ग्राहकों को मास्क पहनने व सोशल दूरी अपनाने के लिए जागरूक करें। कोरोना से निपटने के लिए हर लोगों की भागीदारी जरूरी है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आपका संतुलित तथा सकारात्मक व्यवहार आपको किसी भी शुभ-अशुभ स्थिति में उचित सामंजस्य बनाकर रखने में मदद करेगा। स्थान परिवर्तन संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने के लिए समय अनुकूल है। नेगेटिव - इस...

    और पढ़ें