स्वास्थ विभाग की पहल:अब जन्मजात दिल में छेद वाले बच्चों का होगा नि:शुल्क ऑपरेशन

औरंगाबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बच्चों के परिवार को रवाना करते मेडिकल टीम - Dainik Bhaskar
बच्चों के परिवार को रवाना करते मेडिकल टीम
  • बाल हृदय योजना से देश के प्रख्यात संस्थान में होगा ऑपरेशन,दो बच्चे स्क्रीनिंग के लिए पटना भेजे गए

जन्मजात दिल में छेद वाले बच्चों का अब नि:शुल्क ऑपरेशन अहमदाबाद में होगा। बाल हृदय योजना के अंतगर्त यह ऑपरेशन कराया जाएगा। शनिवार को औरंगाबाद से दो बच्चों को उनके परिजन व आवश्यक समन्वय के लिए एक आयुष चिकित्सक के साथ एंबुलेंस के माध्यम से सिविल सर्जन डॉ कुमार वीरेंद्र प्रसाद द्वारा पटना आईजीआईएमएस में भेजा गया।

जहां से दोनों बच्चाें को अहमदाबाद भेजा जाएगा। राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत सरकार द्वारा ‘’बाल हृदय योजना’’ चलाई गई है। इस योजना के तहत हृदय में जन्मजात छेद की समस्या से ग्रसित बच्चों को निःशुल्क ऑपरेशन की सुविधा सरकारी खर्चे से उपलब्ध कराई जाती है।

आईजीआईएमएस में स्क्रीनिंग, फिर भेजा जाएगा अहमदाबाद
अहमदाबाद के प्रख्यात अस्पताल श्री सत्य साईं हार्ट हॉस्पीटल का चिकित्सक दल जन्मजात हृदय रोग से ग्रसित बच्चों की स्क्रीनिंग के लिए 7 अगस्त को इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान, पटना में आया है। इस शिविर में राज्य के उन जन्मजात हृदय रोग से ग्रसित बच्चों को चिन्हित किया जाएगा। जिन्हें ऑपरेशन की आवश्यकता है।

स्क्रीनिंग के बाद यदि किसी बच्चे को ऑपरेशन की आवश्यकता पड़ेगी तो सरकारी खर्च पर उस बच्चे को अहमदाबाद के अस्पताल में ले जाकर ऑपरेशन कराया जाएगा। उक्त जांच शिविर में औरंगाबाद जिले से भी दो बच्चों को डॉ गुलाम हैदर, आयुष चिकित्सक, राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम आरबीएसके के साथ एंबुलेंस के माध्यम से पटना के इंदिरा गांधी हृदय रोग संस्थान में भेजा गया है।

इन दो बच्चों में देव प्रखंड के 7 माह के अंश कुमार व मदनपुर प्रखंड के 14 वर्षीय मिदहत उरूज हैं। बाल हृदय योजना के अंतर्गत स्क्रीनिंग के लिए बच्चों को पटना के लिए विदा करने के अवसर पर जिला लेखा प्रबंधक अश्वनी कुमार, डीपीसी नागेंद्र कुमार केसरी, इम्तियाज अहमद, यूसुफ जमील एवं अन्य उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...